देवी-देवताओं के अपमान पर विहिप में उबाल

देवी-देवताओं के अपमान पर विहिप में उबाल

शहर के विभिन्न क्षेत्रों में दीवार पुल फ्लाइओवर में हिदू देवी-देवताओं का चित्र बनाए जाने व उनके पास गंदगी को लेकर विहिप ने एतराज जताया है।

Publish Date:Fri, 25 Sep 2020 01:46 AM (IST) Author: Jagran

जागरण संवाददाता, राउरकेला : शहर के विभिन्न क्षेत्रों में दीवार, पुल, फ्लाइओवर में हिदू देवी-देवताओं का चित्र बनाए जाने व उनके पास गंदगी को लेकर विहिप ने एतराज जताया है। गुरुवार को अतिरिक्त जिलापाल एवं नगर निगम कार्यालय जाकर ज्ञापन सौंपा एवं देवी-देवताओं की जगह पर्यटन स्थल, नदी, झील एवं धरोहर का चित्र बनाकर उसका प्रचार करने का अनुरोध किया।

विहिप के जिला संयुक्त सचिव अरुण कुमार नायक, प्रदेश कार्यकारी अध्यक्ष सर्वेश्वर दास की अगुवाई में विहिप की ओर से प्रदर्शन कर ज्ञापन सौंपा गया। इसमें उल्लेख किया गया है कि राउरकेला के विभिन्न क्षेत्रों की दीवार, पुल, फ्लाइ ओवर, जेल की चहारदीवारी समेत अन्य क्षेत्रों में श्रीगणेश, श्रीराम मंदिर, हनुमान, गौतम बुद्ध, शिव पार्वती, भगवान जगन्नाथ, बलभद्र व सुभद्रा, सीता राम वनवास, अर्जुन के रथ पर श्रीकृष्ण आदि के बड़े बड़े चित्र बनाए गए हैं। इनके पास लोग शौच एवं थूक रहे है जिससे देवों का अपमान हो रहा है। उस स्थान पर राज्य व जिले के विभिन्न पर्यटन स्थल, प्रसिद्ध झील, नदी, तालाब, जंगल, स्मारक, गुफा, तालाब, स्मारक, प्रसिद्ध सांस्कृतिक धरोहर व स्थल का चित्र बनाने व उसका प्रचार प्रसार करने पर बल दिया गया। प्रतिनिधियों में महानगर संयुक्त सचिव विकास गोयल, विश्वंभर नाथ मिश्रा, भरत भूषण पंडा, प्रदीप महतो, महेश अग्रवाल, विनोद प्रजापति, रामचंद्र नायक, अभिषेक धर समेत अन्य लोग शामिल थे।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.