भारी बारिश के बाद कटक में स्कूल-कॉलेज बंद

जागरण संवाददाता, भुवनेश्वर : बंगाल की खाड़ी में बने कम दबाव के क्षेत्र के चलते राजधानी भुवनेश्वर समेत पूरे राज्य में मुसलाधार बारिश का दौर जारी है। लगातार हो रही तेज बारिश के चलते एक तरफ जहां नदियां उफान पर हैं तो दूसरी तरफ कटक-भुवनेश्वर एवं पारादीप में स्थिति गंभीर हो गई है। कटक में तो जिला प्रशासन ने स्कूल कॉलेजों में छुंट्टी घोषित कर दी है। कटक के जिलाधीश अरविंद अग्रवाल ने कहा है कि भारी बारिश के कारण कई निचले इलाकों में जल जमाव हो गया है। ऐसे में ऐहतियात के तौर पर स्कूल-कॉलेज को बंद कर दिया गया है। कटक में केशरपुर, पटापोल, नुआराउसपाटना, राबरट स्ट्रीट आदि इलाके में लोग पानी के घेरे में हैं।

वहीं मौसम विभाग ने आगामी 24 घंटे में भारी बारिश की चेतावनी देने के साथ मछुआरों को समुद्र में न जाने की हिदायत दी है। मौसम विभाग से मिली जानकारी के मुताबिक आगामी 24 घंटे तक भारी बारिश का दौर जारी रहेगा। राज्य के 18 जिलों में सतर्क सूचना जारी की गई है। इन जिलों में केंद्रापाड़ा, भद्रक, जाजपुर, कटक, ढेंकानाल, जगतसिंहपुर, नयागड़ आदि जिला में लगातार बारिश जारी है।

पारादीप में बारिश ने ज्यादा कोहराम मचाया है। यहां पर पिछले 24 घंटे में 412 मिमी बारिश हुई है। इससे पारादीप में कई कॉलोनी में पानी घुस गया है। पारादीप-चांदबाली रास्ते पर घुटने भर पानी बह रहा है। इतना ही नहीं भारी बारिश के चलते पारादीप पोर्ट में लोडिंग-अनलोडिंग का कार्य भी प्रभावित हुआ है। वहीं केंद्रापाड़ा में लगातार बारिश के चलते 12 कच्चे मकान ढह गए हैं। जिले के अंदर 21 वार्ड में से 16 वार्ड के लोग पानी के घेरे में हैं।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.