Durga Visarjan 2020: दुर्गा विसर्जन नियमों का उल्लंघन करने वालों पर होगी सख्त कार्रवाई, गाइडलाइन जारी

दुर्गा विसर्जन को लेकर बीएमसी ने कोरोना गाइडलाइन जारी की है
Publish Date:Sat, 24 Oct 2020 09:43 AM (IST) Author: Babita kashyap

भुवनेश्वर, जागरण संवाददाता। कोरोना गाइडलाइन का अनुपालन के साथ बिना भक्तों के मां दुर्गा की पूजा (Durga Puja) की जारी रहने के दौरान मां की प्रतिमा विसर्जन (Durga Visarjan) के लिए भी बीएमसी ने प्रतिबंध जारी कर दिया है। बीएमसी ने साफ तौर पर कहा है कि विसर्जन नियम का उल्लंघन होगा तो फिर सख्त कार्रवाई की जाएगी।

मानने होंगे ये नियम

बीएमसी ने कहा है कि प्रदूषण रोकने के लिए राज्य प्रदूषण बोर्ड के दिशा निर्देश के मुताबिक कदम उठाए जा रहे हैं। मूर्ति विसर्जन के लिए हर साल की तरह इस साल भी अस्थाई पोखर का निर्माण किया जा रहा है। बीएमसी अधिकारी लगातार पोखर की स्थिति का अनुध्यान कर रहे हैं। इसके साथ ही मूर्ति में किस स्तर का रंग प्रयोग किया गया है, उसका अनुध्यान करने के लिए भी कमेटी बनायी गई है। इस कमेटी के सदस्य पूजा मंडप घूमकर व्यवहार होने वाले रंग का अनुध्यान करेंगे। यदि प्रदूषण कंट्रोल बोर्ड के नियम का उल्लंघन हुआ मिलेगा तो कार्रवाई की जाएगी।

कोरोना संक्रमण के बीच शुक्रवार को ओडिशा के कई जिलों में पूजा पंडालों के पट खुलने के साथ ही भक्‍तों ने मां दुर्गा के दर्शन किए। पूजा कमेटियां कोरोना संक्रमण को देखते हुए सरकार द़वारा जारी की गई गाइडलाइन का पालन कर रहे हैं। शहर में बड़े-बड़े पंडालों की जगह केवल छोटे मंडप व बड़ी प्रतिमाओं की जगह मात्र चार फुट की प्रतिमाओं की स्थापना की गई है। पंडालों में ना तो साज सज्जा हुई है और ना ही बिजली कि सजावट की गई है।

कोविड नियमों के अनुसार पंडाल में पुजारी सहित मात्र सात लोग ही अंदर आने की अनुमति है और भक्तों को भी मां के दर्शन के लिए भीड़ लगाने की इजाजत नही है। सभी पूजा पंडालों में शारीरिक दूरी व सैनिटाइजर की व्यवस्था की गई है, साथ ही पुलिस बल को भी तैनात किया गया है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.