पद्मश्री नंद सर के परिवार को हत्या की धमकी: थाने में लिखित शिकायत दर्ज

थानेदार ने कहा नंद सर को जान से मारने की खबर पूरी तरह से निराधार जमीन विवाद को लेकर दो पक्ष में हुआ है विवाद पुलिस मामला दर्ज कर आरोपियों को दबचोने का कर रही है प्रयास। नंद सर को पूरे गांव में लोग सम्मान करते हैं।

Babita KashyapMon, 29 Nov 2021 12:32 PM (IST)
जमीन जायदाद विवाद को लेकर पद्मश्री नंद सर के परिवार को हत्या की धमकी

भुवनेश्वर, जागरण संवाददाता। जाजपुर जिले के सुकिंदा थाना अन्तर्गत कंडिरा गांव में जमीन जायदाद विवाद को लेकर पद्मश्री नंद सर के परिवार को हत्या की धमकी मिली है। इस संदर्भ में पद्मश्री नंद सर के बेटे गणेश्वर पृष्टि ने सुकिंदा थाना में लक्ष्मण मलिक एवं सुकांत मलिक के नाम पर एक लिखित शिकायत की गई है। पुलिस इन दोनों की तलाश में दबिश डाल रही है।

हालांकि इस बीच कुछ आनलाइन मीडिया में पद्मश्री नंद सर पर हमला होने एवं नंद सर को जान से मार देने की धमकी की चल रही खबर को सुकिन्दा थाना के प्रभारी ने दैनिक जागरण से बात करते हुए सिरे से खारिज कर दिया है। उन्होंने साफ तौर पर कहा है कि खुद नंद सर के बेटे गणेश्वर पृष्टि ने थाने में जो लिखित शिकायत दी है, उसमें भी कहीं इसका जिक्र नहीं है और ना ही मौके का मुआयना करने पर इस तरह की बात कहीं से सामने आयी है। ऐसे में नंद सर को जान से मारने की धमकी वाली खबर पूरी तरह से निराधार है।

सुकिंदा थाना प्रभारी ने कहा है कि मैंने खुद दो-दो बार गांव का दौरा किया है। जमीन को लेकर दो पक्ष में विवाद चल रहा है। नंद सर के बेटे गणेश्वर पृष्टि ने लिखित आरोप लगाया है कि वह दवा लेकर लौट रहे थे, रास्ते हम पर जानलेवा हमला हुआ है। लक्ष्मण मलिक एवं सुशांत मलिक ने रास्ते में हम पर जानलेवा हमला किया है। पुलिस इस संदर्भ में 243, 341, 323 आदि दफा में मामला दर्ज करने के साथ ही मौके का मुआयना किया है। आरोपियों को दबोचने के लिए दबिस डाली जा रही है। नंद सर को पूरे गांव में लोग सम्मान करते हैं उनका आदर करते हैं। नंद सर को किसी ने धमकी नहीं दी है। उनके बेटे के एफआईआर में भी उनकी हत्या करने जैसी धमकी का जिक्र नहीं किया गया है। उनका बेटा नंद सर के नाम पर गलत ख्याति अर्जित करना चाहता है।

यहां उल्लेखनीय है कि हाल ही में 104 वर्षीय शिक्षक नंद पृष्टि को राष्ट्रपति रामनाथ कोविन्द ने पद्मश्री सम्मान से सम्मानित किया था। नंद सर पीढ़ी दर पीढ़ी गांव के बच्चों को मुफ्त में शिक्षादान करते आ रहे हैं। बुजुर्ग अवस्था में भी नंद सर छोटे-छोटे बच्चों का भविष्य बनाने से पीछे नहीं हटते हैं। नंद सर के इस प्रयास की चर्चा ना सिर्फ ओडिशा बल्कि पूरे देश में है। खुद राष्ट्रपति रामनाथ कोविन्द को भी नंद सर ने आशीर्वाद दिया था। इस तरह के एक बुजुर्ग व्यक्ति के द्वारा राष्ट्रपति आशीर्वाद देने के दृश्य को देखकर पूरा राष्ट्रपति भवन अभिभूत हुआ था। पूरा कक्ष तालियों से गुंजयमान हो गया था। इस गौरवान्वित व्यक्ति के प्रति ओड़िशा ने भी गर्व किया था। मगर इसी व्यक्ति के परिवार को हत्या की धमकी मिलने की घटना पूरे राज्य में चर्चा का विषय बन गयी है। मामला चाहे कुछ भी पुलिस भी सख्ती एवं तत्परता के साथ मामले का संज्ञान ले रही है।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.