top menutop menutop menu

Coronavirus Bhubaneswar Update: भुवनेश्वर में 10 दिन में दोगुनी हुई कोरोना मरीजों की संख्या, 600 से अधिक संक्रमित

भुवनेश्वर, जागरण संवाददाता। राजधानी भुवनेश्वर में कोरोना संक्रमण तेजी से बढ़ने लगा है। क्वारंटाइन सेंटर से लेकर स्थानीय लोगों में भी संक्रमण की गति बढ़ने लगी है। जुलाई के आरंभ से ही कोरोना संक्रमण राजधानी में उग्र रूप धारण कर लिया है। पिछले 24 घंटे में 45 लोग राजधानी में संक्रमित पाए गए हैं। इसमें से 35 लोग क्वारंटाइन सेंटर से हैं जबकि 10 स्थानीय लोग संक्रमित पाए गए हैं। इन्हें मिलाकर राजधानी में कुल संक्रमित मरीजों की संख्या 602 तक तक पहुंच गई है। खासकर 1 से 10 जुलाई अर्थात 10 दिन में संक्रमण दोगुना हो गया है।

1 जुलाई तक शहर में 320 लोग कोरोना से संक्रमित हुए थे जबकि 10 जुलाई तक यह संख्या 602 हो गई है। अर्थात केवल 10 दिन में 282 लोग कोरोना से संक्रमित पाए गए हैं। इसमें से 171 क्वारंटाइन सेंटर से हैं जबकि 111 स्थानीय लोग कोरोना से संक्रमित पाए गए हैं। यदि संक्रमण की गति इसी रफ्तार से बढ़ती है तो फिर जुलाई के अंत तक राजधानी में संक्रमित मरीजों की संख्या 2 हजार के पार हो जाने की आशंका स्वास्थ्य विभाग की तरफ से जतायी गई है। 

वहीं दूसरी तरफ हर दिन भुवनेश्वर नगर निगम (बीएमसी) के कोविड तथ्य को यदि देखा जाए तो स्थानीय संक्रमण देर तेजी से बढ़ने लगा है। स्थिति यदि यही रही तो आगामी दिनों में राजधानी में स्थिति नियंत्रण से बाहर जा सकती है। शुक्रवार को मिले तथ्य के मुताबिक नए पहचान किए गए मरीजों में से 10 स्थानीय लोग हैं। इन मरीजों में बरगड़ ब्रीट कालोनी से एक 45 वर्षीय व्यक्ति, पटिया नीलकंठेश्वर मंदिर क्षेत्र से एक 71 वर्षीय बुजुर्ग व्यक्ति, शैलश्री विहार से एक 73 वर्षीय बुजुर्ग, शुक विहार से 2 लोग (एक 25 वर्षीय युवक तथा एक 45 वर्षीय महिला), नीलाद्रीविहार से एक 54 वर्षीय पुरुष, बीजेबी नगर लुई रोड से 27 वर्षीय युवक, पलासुणी के पास जीजीपी कालोनी से एक 20 वर्षीय युवती, घाटकिया क्षेत्र एक 83 वर्षीय बुजुर्ग संक्रमित पाए गए हैं। इसके अलावा सूर्यनगर से 29 वर्षीय युवक दांत का डाक्टर है। वह अपनी क्लिनिक में मरीज का इलाज कर संक्रमित होने की जानकारी बीएमसी की तरफ से दी गई है।

वहीं क्वारंटाइन सेंटर से पहचान किए गए 35 संक्रमित मरीजों में से 21 पहले से संक्रमित मरीज के स्पर्श में आकर संक्रमित हुए हैं। उसी तरह से केन्द्रीय मेडिकल एम्स भुवनेश्वर के 11 कर्मचारी, डुमडुमा से पहचान किए गए 2 लोग कोलकाता से लौटे हैं। कलिंगनगर से संक्रमित पाया गया व्यक्ति निजी अस्पताल का अटेंडेंट है। हालांकि इस बीच भुवनेश्वर से पिछले 24 घंटे में 6 लोग स्वस्थ हुए हैं। वर्तमान समय में भुवनेश्वर में 308 लोग कोरोना से स्वस्थ हो चुके हैं जबकि 286 सक्रिय मामले हैं जिनका विभिन्न कोविड अस्पताल में इलाज चल रहा है। भुवनेश्वर में 8 लोगों की कोरोना से अब तक मौत हुई है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.