School Fees Issue: ओडिशा में छात्रों को स्कूल फीस में 7 चरण में मिलेगी रियायत, कोई भी विद्यालय नहीं बढ़ा पाएगा फीस

ओडिशा में छात्र-छात्राओं को स्कूल फीस में मिली रियायत

School Fees Issue ओडिशा के स्‍कूलों में अब 7 चरणों में फीस को कम किया जाएगा। इसे लेकर जनशिक्षा विभाग की ओर से विज्ञप्ति जारी की गई है। इसके साथ ही 2020-21 शिक्षा वर्ष में कोई भी विद्यालय फीस नहीं बढ़ा पाएंगे।

Publish Date:Wed, 20 Jan 2021 12:12 PM (IST) Author: Babita Kashyap

भुवनेश्वर, जागरण संवाददाता। ओडिशा में निजी गैर अनुदान प्राप्त विद्यालय तथा अनुदान प्राप्त विद्यालय में पढ़ने वाले छात्र-छात्राओं की स्कूल फीस (School Fees) में रियायत देने के लिए सरकार ने सलाह दी है। जनशिक्षा विभाग की तरफ से इस संबन्ध में विधिवत विज्ञप्ति प्रकाशित की गई है। विद्यालय एवं जनशिक्षा विभाग (School and Public Education Department) की तरफ से हाईकोर्ट में दाखिल की गई रिपोर्ट के आधार पर 7 चरण में स्कूल फीस कम की जाएगी। इसके साथ ही परिवहन एवं खाद्य के बावद खर्च को स्कूल मनमाने ढंग से वसूल नहीं करेंगे बल्कि उन्हें स्थिति को देखते हुए कदम उठाने को शिक्षा विभाग ने निर्देश जारी किया है। 

 हॉस्टल फीस 30 प्रतिशत कम 

इसके साथ ही 2020-21 शिक्षा वर्ष में कोई भी विद्यालय फीस नहीं बढ़ा पाएंगे। हॉस्टल फीस 30 प्रतिशत कम करनी होगी। स्कूल ना खुलने तक लर्निंग फीस, एक्सटर्नल एक्जाम फीस, यूनिफार्म फीस, कनवेंशन फीस, री-ऐडमिशन फीस, डेवलेपमेंट फीस, वार्षिक फीस ना वसुलने के लिए कहा गया है। हाईकोर्ट की राय आने के बाद विद्यालय एवं जनशिक्षा विभाग की तरफ से यह निर्णय लिया गया है। स्कूल फीस में रिआयत देने को लेकर निजी स्कूल के अधिकारी, राज्य सरकार एवं ओडिशा अभिभावक महासंघ के साथ 14 पक्ष के बीच हुए करारनामे को कार्यकारी किया जाएगा। 

 जानें किसे कितनी मिली रियायत

7 चरण में स्कूल फीस में रियायत दी जाएगी। वार्षिक 6 हजार से अधिक एवं 12 हजार से कम फीस होने पर 7.5 प्रतिशत फीस में रियायत दी जाएगी। 12 हजार से 24 हजार के बीच फीस होने पर 12 प्रतिशत रियायत दी जाएगी। 24 हजार से 48 हजार रुपये वार्षिक फीस होने परे 15 प्रतिशत फीस में रिआयत दी जाएगी। 48 हजार से 72 हजार रुपये वार्षिक फीस होने पर 20 प्रतिशत की रियायत मिलेगी, 72 हजार से 1 लाख रुपये तक फीस होने पर 25 प्रतिशत रिआयत दी जाएगी। उसी तरह से वार्षिक 1 लाख रुपये से अधिक फीस होने पर 26 प्रतिशत की रियायत दी जाएगी।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.