DATA STORY : पश्चिम बंगाल में मंत्रियों पर हैं इतने आपराधिक मामले और इतनी है संपत्ति

रिपोर्ट के अनुसार 43 में से 12 मंत्रियों ने अपने ऊपर आपराधिक मामले घोषित किए हैं।

पश्चिम बंगाल इलेक्शन वॉच और एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉर्म्स पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव 2021 में मुख्यमंत्री सहित 44 में से 43 मंत्रियों के शपथपत्रों का विश्लेषण किया। एक मंत्री के डाटा की अनुपलब्धता के कारण उनका विश्लेषण नहीं किया गया है। अमित मित्रा ने विधानसभा चुनाव नहीं लड़ा था।

Vineet SharanThu, 13 May 2021 08:54 AM (IST)

नई दिल्ली, अनुराग मिश्र। पश्चिम बंगाल में हुए हालिया विधानसभा चुनावों के बाद बने नए मंत्रिमंडल में 28 फीसद मंत्रियों पर आपराधिक मामले हैं। वहीं अब तक बने मंत्रियों की औसतन संपत्ति 4.29 करोड़ रुपये है। इसके अलावा मंत्रिमंडल में 43 में से 9 महिला मंत्री हैं। यह बात एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉर्म्स (एडीआर) की ताजा रिपोर्ट में सामने आई है।

पश्चिम बंगाल इलेक्शन वॉच और एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉर्म्स पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव 2021 में मुख्यमंत्री सहित 44 में से 43 मंत्रियों के शपथपत्रों का विश्लेषण किया। एक मंत्री के डाटा की अनुपलब्धता के कारण उनका विश्लेषण नहीं किया गया है। अमित मित्रा ने पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव 2021 में चुनाव नहीं लड़ा था।

रिपोर्ट के अनुसार 43 में से 12 मंत्रियों ने अपने ऊपर आपराधिक मामले घोषित किए हैं। 7 मंत्रियों ने अपने ऊपर गंभीर आपराधिक मामले घोषित किए हैं। 43 में से 32 मंत्री करोड़पति हैं। 43 मंत्रियों की औसतन संपत्ति 4.29 करोड़ रुपये हैं। अधिकतम संपत्ति घोषित करने वाले मंत्रियों में निर्वाचन क्षेत्र कस्बा से अहमद जावेद खान ने सबसे अधिक संपत्ति 32.33 करोड़ रुपये घोषित की है। सबसे कम संपत्ति झाड़ग्राम से बिरबाहा हांसदा ने घोषित की है। उन्होंने 3.06 लाख रुपये घोषित की है। कुल 24 मंत्रियों ने अपनी देनदारी घोषित की है, जिसमें से निर्वाचन क्षेत्र कस्बा से अहमद जावेद खान ने 41.51 करोड़ रुपये के साथ साथ सबसे अधिक देनदारी घोषित की है।

शैक्षिक योग्यता और आयु

10 मंत्रियों ने अपनी शैक्षिक योग्यता 8वीं और 12वीं के बीच घोषित की है, जबकि 32 मंत्रियों ने अपनी शैक्षिक योग्यता स्नातक और उससे अधिक घोषित की है। एक मंत्री ने अपनी शैक्षिक योग्यता डिप्लोमा धारक घोषित की है। सात मंत्रियों ने अपनी आयु 30 से 50 वर्ष के बीच घोषित की है, जबकि 36 मंत्रियों ने अपनी आयु 51 से 80 साल के बीच घोषित की है। 

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.