Weather News : देश के कई हिस्‍सों में भारी बारिश का अलर्ट, जानें महाराष्‍ट्र और गोवा को कब मिलेगी राहत

देश के मुख्‍तलिफ इलाकों में झमाझम बारिश हो रही है। महाराष्ट्र में मूसलाधार बारिश कहर बरपा दिया है। मौसम विभाग के मुताबिक महाराष्ट्र समेत पश्चिमी तट पर कुछ इलाकों भारी से बहुत भारी बारिश के साथ व्यापक रूप से बारिश होने की संभावना है।

Krishna Bihari SinghSat, 24 Jul 2021 04:27 PM (IST)
महाराष्ट्र समेत पश्चिमी तट पर कुछ इलाकों भारी बारिश होने की संभावना है।

नई दिल्‍ली, एजेंसियां। देश के विभिन्‍न इलाकों में झमाझम बारिश का सिलसिला जारी है। महाराष्ट्र में मूसलाधार बारिश ने कहर बरपा दिया है। मौसम विभाग के मुताबिक अगले हफ्ते उत्तरी पश्चिमी बंगाल की खाड़ी में कम दबाव के क्षेत्र की वजह से पूर्वी और उत्तरी भारत में अगले दो दिनों तक अच्छी बारिश हो सकती है। मौसम विभाग ने कहा है कि 25 जुलाई से उत्तर भारत के मैदानी इलाकों और पर्वतीय क्षेत्रों में बारिश की गतिविधियां बढ़ेंगी। वहीं अगले 24 घंटों में पश्चिमी तट पर बारिश की तीव्रता कम होने के आसार हैं जिससे जलभराव की मार झेल रहे महाराष्ट्र और गोवा को राहत मिल सकती है।

महाराष्‍ट्र और गोवा में मिल सकती राहत

समाचार एजेंसी पीटीआइ ने मौसम विभाग के हवाले से बताया है कि अगले 24 घंटों के दौरान कोंकण, गोवा और पास में महाराष्ट्र के भीतरी इलाकों सहित पश्चिमी तट पर बारिश में कमी आने की संभावना है। इससे महाराष्‍ट्र और गोवा में लोगों को राहत मिल सकती है। बता दें कि पिछले कुछ दिनों में महाराष्ट्र में अत्यधिक भारी बारिश ने कई लोगों की जान ले ली है जबकि कई इलाके जलमग्न हो गए हैं। इससे संपत्ति को भी भारी नुकसान पहुंचा है।

पूर्वी और उत्तरी भारत में बारिश का अनुमान

मौसम विभाग की ओर से साझा की गई जानकारी के मुताबिक झारखंड और इससे सटे उत्तरी छत्तीसगढ़ पर एक कम दबाव का क्षेत्र बना हुआ है। इसके धीरे-धीरे पश्चिम-उत्तर-पश्चिम की ओर बढ़ने की संभावना है। यही नहीं 28 जुलाई के आसपास उत्‍तरी बंगाल की खाड़ी और आसपास के इलाकों में एक नया निम्न दबाव का क्षेत्र बनने की संभावना है। इससे पूर्वी और उत्तरी भारत में अगले दो दिनों तक अच्छी बारिश हो सकती है।

गुजरात में भारी बारिश संभव 

मौसम विभाग के मुताबिक 25 जुलाई तक गुजरात में तेज बारिश होने की संभावना है। यही नहीं राज्‍य के कुछ इलाकों में भारी बारिश हो सकती है। हालांकि बाद में इसमें कमी आएगी। वहीं पूर्वी राजस्थान में 26 जुलाई तक तेज बारिश के आसार हैं जबकि कुछ-कुछ इलाकों में भारी बारिश संभव है। बाद में वर्षा कम होगी। यही नहीं 25 से 28 जुलाई के दौरान उत्तराखंड में बारिश होने की संभावना है। सूबे में कहीं-कहीं भारी बारिश हो सकती है।

हिमाचल प्रदेश, यूपी, हरियाणा में भी बारिश के आसार

मौसम विभाग का कहना है कि‍ पश्चिमी मध्य प्रदेश में भी भारी बारिश हो सकती है। वहीं हिमाचल प्रदेश, हरियाणा और पश्चिमी उत्तर प्रदेश में 26-28 जुलाई को जबकि पंजाब तथा पूर्वी उत्तर प्रदेश में 27-28 जुलाई को बारिश के आसार हैं। 27 और 28 जुलाई को हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड में कहीं-कहीं भारी बारिश हो सकती है। 

उत्तराखंड में भारी बारिश का अलर्ट

मौसम विभाग की ओर से जारी प्रेस विज्ञप्‍ति‍ में कहा गया है कि‍ 25 जुलाई से उत्तर पश्चिम भारत में बारिश की गतिविधियां बढ़ने के आसार हैं। 25 से 28 जुलाई के दौरान उत्तराखंड में भारी से बहुत भारी वर्षा के साथ व्यापक रूप बारिश होने की आशंका है।

पंजाब में जमकर बरसेंगे बदरा 

मौसम विभाग के मुताबिक पंजाब में सोमवार को मानसून अपने पूरे रंग में दिखेगा और पूरे राज्य में बारिश होगी। मौसम विभाग की मानें तो कुछ जिलों में तेज बारिश हो सकती है। मौसम विभाग की ओर से सूबे में तीन दिन के लिए आरेंज अलर्ट भी जारी कर दिया है। पटियाला, लुधियाना, फतेहगढ़ साहिब, आनंदपुर साहिब, नवांशहर, होशियारपुर, पठानकोट, गुरदासपुर, जालंधर व आसपास के जिलों में तेज बारिश हो सकती है। अन्य जिलों में भी सामान्य से अधिक बारिश की संभावना है।

मध्‍य प्रदेश में जारी रहेगी बारिश

मौसम विभाग के मुताबिक रविवार और सोमवार को मध्‍य प्रदेश के सागर, भोपाल, जबलपुर, इंदौर, उज्जैन और ग्वालियर संभाग के जिलों में कहीं कहीं भारी बारिश हो सकती है। मौसम विभाग का कहना है कि कम दबाव का एक क्षेत्र उत्तर-पूर्वी मध्य प्रदेश और उससे लगे छत्तीसगढ़ पर बना हुआ है। इस सिस्टम के प्रभाव से पूरे प्रदेश में बरसात हो रही है। मौसम विज्ञानियों के मुताबिक 28 जुलाई को बंगाल की खाड़ी में जो कम दबाव का क्षेत्र बनने जा रहा है उसके प्रभाव से पूरे मध्‍य प्रदेश में अच्छी बारिश हो सकती है।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.