Wanted Naxals Reward: Wanted Naxals Reward: जानें- कितने नक्‍सलियों पर है एक करोड़ का इनाम, किस आधार पर तय होता है रिवार्ड

छत्तीसगढ़ में नक्सलियों पर एक करोड़ रुपये तक का इनाम। फाइल फोटो।

एनआइए की तरफ से पहली बार बड़े नक्सल नेताओं पर अलग से इनाम घोषित किए जाने से नक्सल समस्या के सफाये पर केंद्र सरकार का संकल्प सामने आया है। तीन अप्रैल को बीजापुर में 22 जवानों की शहादत को बेकार नहीं जाने देने की गृह मंत्री ने घोषणा की थी।

Ramesh MishraTue, 20 Apr 2021 07:59 PM (IST)

जगदलपुर/दंतेवाड़ा, नई दुनिया। राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआइए) की तरफ से पहली बार बड़े नक्सल नेताओं पर अलग से इनाम घोषित किए जाने से नक्सल समस्या के सफाये पर केंद्र सरकार का संकल्प सामने आया है। तीन अप्रैल को बीजापुर में 22 जवानों की शहादत को बेकार नहीं जाने देने की गृह मंत्री अमित शाह ने घोषणा की थी। नक्सलियों पर इनाम उनके कैडर व रैंक के हिसाब से तय किया जाता है। 

छत्तीसगढ़ में 2015 में इनाम के लिए निर्धारित की गई नीति

राज्य सरकारें नक्सल उन्मूलन के लिए समय-समय पर नीति बनाती हैं। इसी में यह तय होता है कि किस स्तर के नक्सली पर कितना इनाम होगा। छत्तीसगढ़ में 2015 में नक्सल नीति बनी थी। उसी समय इनाम निर्धारित किए गए थे। तब से इनाम की राशि नहीं बदली है। राज्य सरकार की ओर से इस समय 10 हजार से लेकर एक करोड़ रुपये तक के इनाम विभिन्न नक्सलियों पर घोषित हैं। आत्मसमर्पण करने पर इनाम की राशि उस नक्सली को ही दे दी जाती है। अगर वह मुठभेड़ में मारे जाते हैं या गिरफ्तार होते हैं तो पुलिस दल को राशि दी जाती है। 

छत्तीसगढ़ में एक करोड़ के इनामी नक्सली

1- वसवराजू उर्फ प्रकाश उर्फ कृष्णा उर्फ केशव

2- मुपल्ला लक्ष्मण राव उर्फ रमन्ना उर्फ श्रीनिवास राव उर्फ दयानंद उर्फ चंद्रशेखर उर्फ गुडसा दादा उर्फ मलन्ना

3- कट्टकम सुदर्शन उर्फ आनंद उर्फ मोहन उर्फ बीरेंदर उर्फ सुदर्शन उर्फ महेश उर्फ रमेश उर्फ एनएन दुला

4- मल्लुजुला वेणुगोपाल उर्फ विवेक उर्फ भूपति उर्फ सोनू, उर्फ लक्षन्ना

5- मिशिर बेसरा उर्फ भास्कर उर्फ सुनिर्मल उर्फ सुनील उर्फ विवेक

6- किसन दा उर्फ प्रशांत बोस उर्फ निर्भय उर्फ काजल उर्फ महेश उर्फ किशनजी

7- विवेक चंद्री यादव उर्फ प्रयाग उर्फ प्रयोगजी उर्फ प्रलय उर्फ विवेक उर्फ सीताराम मांझी उर्फ नागो मांझी

पांच लाख रुपये के इनामी नक्सली को मार गिराया

छत्तीसगढ़ के दक्षिण बस्तर में लगातार नक्सली उत्पात के बीच मंगलवार को दंतेवाड़ा जिले में फोर्स को बड़ी सफलता मिली है। डीआरजी के जवानों ने अरनपुर थाना क्षेत्र के नीलावाया के जंगल में मुठभेड़ के दौरान पांच लाख रुपये के इनामी नक्सली को मार गिराया है। मारे गए नक्सली की पहचान कोसा के रूप में की गई है। तलाशी में नक्सल कमांडर कोसा का शव बरामद किया गया। मौके से एक 9एमएम पिस्टल, एक बंदूक, तीन किलो विस्फोटक व अन्य सामग्री भी बरामद की गई है। कोसा नक्सलियों की अरनपुर एरिया कमेटी में मिलिट्री इंटेलीजेंस विभाग का प्रमुख था। नक्सलियों की एरिया कमेटी का सदस्य होने के नाते शासन ने उस पर पांच लाख रुपये इनाम घोषित किया था।

पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों से जुड़ी प्रमुख जानकारियों और आंकड़ों के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.