दिल्ली

उत्तर प्रदेश

पंजाब

बिहार

उत्तराखंड

हरियाणा

झारखण्ड

राजस्थान

जम्मू-कश्मीर

हिमाचल प्रदेश

पश्चिम बंगाल

ओडिशा

महाराष्ट्र

गुजरात

Coronavirus Update: महामारी से राहत की उम्मीद, जानें- कब से शुरू होगी संक्रमण के मामलों में गिरावट

24 घंटे में रिकॉर्ड 4.12 लाख नए मामले (फाइल फोटो)

देशवासियों के लिए कुछ राहत की खबर है। देश की जानी मानी वायरोलॉजिस्ट और चिकित्सा विज्ञानी गगनदीप कांग के मुताबिक इस महीने के मध्य से लेकर आखिर तक संक्रमण के मामलों में गिरावट आनी शुरू हो जाएगी। अभी कोरोना संक्रमण चरम पर है।

Sanjeev TiwariThu, 06 May 2021 06:56 PM (IST)

जेएनएन, नई दिल्ली। कोरोना संक्रमण के कहर का सामना कर रहे देशवासियों के लिए कुछ राहत की खबर है। देश की जानी मानी वायरोलॉजिस्ट और चिकित्सा विज्ञानी गगनदीप कांग के मुताबिक इस महीने के मध्य से लेकर आखिर तक संक्रमण के मामलों में गिरावट आनी शुरू हो जाएगी। अभी कोरोना संक्रमण चरम पर है। इस महीने दूसरी बार चार लाख से ज्यादा मामले सामने आए हैं और करीब चार हजार लोगों की मौत भी हुई है। संक्रमण में बढ़ोतरी का आलम यह है कि एक हफ्ते के दौरान ही 25 लाख से ज्यादा मामले बढ़ गए हैं।

गगनदीप कांग के मुताबिक अभी कोरोना संक्रमण की एक या दो लहर और आ सकती है यानी नए मामलों में वृद्धि हो सकती है, लेकिन हालात मौजूदा दौर की तरह खराब नहीं होंगे। उन्होंने कहा कि इस समय कोरोना संक्रमण ऐसे क्षेत्रों को तेजी से अपनी चपेट में ले रहा है, जो पहले बचे हुए थे। मध्यम वर्ग और ग्रामीण इलाकों में संक्रमण तेजी से फैल रहा है। हालांकि, लंबे समय तक इन क्षेत्रों में इसका प्रसार बने रहने की संभावना कम है।

मरीजों की वास्तविक संख्या कहीं ज्यादा

कांग ने एक वेबिनार को संबोधित करते हुए कोरोना वायरस की घटती जांच पर भी चिंता जताई। उन्होंने कहा कि जांच में संक्रमण के जितने मामले सामने आ रहे हैं वास्तविकता में इनकी संख्या इससे कहीं बहुत ज्यादा होगी।

कोरोना वायरस की अभी एक या दो और लहर की आशंका जताते हुए उन्होंने यह भी कहा कि यह कब होगा इसके बारे में कुछ नहीं कहा जा सकता है। उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस के बारे में हमें बहुत ज्यादा जानकारी नहीं है और न ही इसके बारे में ही पता है कि वह आगे क्या रूप लेगा। इसलिए हमें सचेत रहना होगा।

बुरा फ्लू वायरस जैसा हो जाएगा कोरोना

कोरोना वायरस की संभावनाओं के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि यह बुरा फ्लू वायरस जैसा हो जाएगा। उन्होंने कहा कि यह मौसमी वायरस बन जाएगा, जैसा कि कोई खराब फ्लू वायरस होता है। बार-बार संक्रमित होने और टीकाकरण के चलते लोगों में इसके खिलाफ प्रतिरक्षा पैदा हो जाएगी। उन्होंने यह भी कहा कि कोरोना वायरस बार-बार रूप बदल रहा है और हो सकता है कि यह प्रतिरक्षा प्रणाली को मात दे दे। इससे बचने के लिए हमें बूस्टर डोज की जरूरत होगी। हालांकि, उन्हें पक्का यकीन है कि अभी हमें जिस मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है, आगे इस वायरस के चलते ऐसी परेशानियों का सामना नहीं करना पड़ेगा।

सक्रिय मामले 35 लाख से ज्यादा

अभी देश कोरोना वायरस की दूसरी लहर का सामना कर रहा है। इसमें तेजी से नए मामले बढ़ रहे हैं। पिछले एक हफ्ते में ही 27 लाख से ज्यादा संक्रमित बढ़े हैं और 25 हजार से ज्यादा लोगों की मौत हुई है। सक्रिय मामलों की संख्या बढ़कर 35.66 लाख हो गई है, जो कुल संक्रमितों का 16.92 फीसद है। बीते 24 घंटे के दौरान ही रिकॉर्ड 4,12,262 नए मामले मिले हैं और 3,980 लोगों की जान चली गई है। इस महामारी के चलते इससे पहले एक दिन में न तो इतने नए मामले मिले थे और न ही इतने लोगों की मौत हुई थी। कुल संक्रमितों का आंकड़ा 2.10 करोड़ से ज्यादा हो गया है। इनमें से 1.72 करोड़ लोग पूरी तरह से संक्रमण मुक्त भी हो चुके हैं और 2,30,168 लोगों की जान जा चुकी है।

बुधवार को 19.23 लाख टेस्ट

भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद (आइसीएमआर) के मुताबिक कोरोना संक्रमण का पता लगाने के लिए बुधवार को देश भर में 19,23,131 नमूनों की जांच की गई। इनको मिलाकर अब तक 29 करोड़ 67 लाख 75 हजार से ज्यादा नमूनों का परीक्षण किया जा चुका है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.