Tokyo Olympics: भारतीय पुरुष हॉकी टीम को बेल्जियम से मिली हार पर पीएम मोदी ने की कप्तान मनप्रीत से बात, कही ये दिल छू जाने वाली बात

जब कोई प्रधानमंत्री देश की टीम को चीयरअप कर रहो होता है वह अकेला नहीं होता उसके पीछे देशवासियों की आवाज होती है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मैच खत्म होने के बाद लिखा हार-जीत तो जीवन का हिस्सा है। टोक्यो 2020 में हमारी पुरुष हॉकी टीम ने अपना सर्वश्रेष्ठ दिया।

Nitin AroraTue, 03 Aug 2021 09:34 AM (IST)
Tokyo Olympics: भारतीय पुरुष हॉकी टीम को बेल्जियम से मिली शिकस्त पर पीएम मोदी ने दिया खिलाड़ियों को सपोर्ट

नई दिल्ली, एजेंसी। जापान के टोक्यो में खेलों का महाकुंभ चल रहा है। इसमें भारत की ओर से 127 खिलाड़ियों का दल भी हिस्सा ले रहा है। वहीं, बीते दिनों भारत के लिए कुछ अच्छी तो कुछ बुरी खबर हाथ लगी, लेकिन हार-जीत तो जीवन का हिस्सा है, ऐसा ही भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भारतीय पुरुष हॉकी टीम के मैच के बाद कही। दरअसल, टोक्यो ओलिंपिक में भारत की हॉकी टीम आज अपना सेमीफाइनल मैच खेलने उतरी थी। भारत का मुकाबला दिग्गज बेल्जियम की टीम से था, जिसमें भारत को हार मिली। भारत को इस मैच में 2-5 से हार मिली। भारतीय टीम को शिकस्त मिलने के बाद पीएम मोदी ने भारतीय हॉकी टीम के कप्तान मनप्रीत सिंह से बात की। 'पीएम ने मनप्रीत से उनके पूरे टूर्नामेंट में अच्छे प्रदर्शन की सराहना की और उन्हें अगले मैच के लिए शुभकामनाएं दीं।'

इस बड़े मुकाबले के पहले क्वार्टर में भारत ने 2-1 की बढ़त बना ली थी, लेकिन उस के बाद बेल्जियम ने एक के बाद एक गोल दागे। वहीं, इस मैच को खुद पीएम मोदी भी देख रहे थे और इसके बारे में उन्होंने बताया भी था। वहीं, अब मैच खत्म होने के बाद उन्होंने दिल छू जाने वाली बात कही, जिससे खिलाड़ियों को सपोर्ट मिलेगा।

मोदी ने कही दिल छू लेने वाली बात

जब कोई प्रधानमंत्री देश की टीम को चीयरअप कर रहो होता है, वह अकेला नहीं होता, उसके पीछे देशवासियों की आवाज होती है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मैच खत्म होने के बाद लिखा, 'हार-जीत तो जीवन का हिस्सा है। टोक्यो 2020 में हमारी पुरुष हॉकी टीम ने अपना सर्वश्रेष्ठ दिया और यही मायने रखता है। टीम को अगले मैच और उनके भविष्य के प्रयासों के लिए शुभकामनाएं। भारत को अपने खिलाड़ियों पर गर्व है।' बता दें कि अभी भी भारत के पास कांस्य पदक जीतने का मौका है, लेकिन सिल्वर और गोल्ड मेडल की रेस से टीम बाहर हो गई है।

मैं भी देख रहा हूं मैच- मोदी

इससे पहले मंगलवार को सुबह पीएम मोदी ने एक ट्वीट किया था, जिसमें उन्होंने इस मैच के बारे में जिक्र किया था। उन्होंने लिखा था, 'मैं टोक्यो 2020 में भारत बनाम बेल्जियम हॉकी पुरुष सेमीफाइनल देख रहा हूं। हमारी टीम और उनके कौशल पर गर्व है। उन्हें बहुत-बहुत शुभकामनाएं!'

जापान के टोक्यो में जारी ओलिंपिक खेलों में भारत के ज्यादातर खिलाड़ियों ने निराश किया। पदक जिताने वाली मीराबाई चानू और पीवी सिंधू को छोड़ दें तो व्यक्तिगत प्रतिस्पर्धा में कोई भी ऐसा खिलाड़ी नहीं दिखा है, जिसने एक भी बार ये महसूस कराया हो को वो देश के लिए पदक जीत सकता है। हालांकि, चक्का फेंक खिलाड़ी कमलप्रीत कौर ने आगे तक का सफर जरूर तय किया, लेकिन उनको भी छठे स्थान पर टूर्नामेंट का समापन करना पड़ा। अब भी हॉकी, कुश्ती, भाला फेंक और गोला फेंक में भारतीय खिलाड़ियों और टीमों से अच्छे प्रदर्शन की उम्मीद है।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.