top menutop menutop menu

तुम्हारे कारण सुशांत ने जान दी, फोन पर रोजाना अपशब्द कह रहे विदेशी, जानें क्‍या है मामला

इंदौर, राज्‍य ब्‍यूरो। फिल्म अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत को 20 दिन से ज्‍यादा हो गए हैं। उसके बाद भी इंदौर के एक मिस्त्री की मुसीबतें कम होने का नाम नहीं ले रही हैं। उसके मोबाइल पर आने वाले कॉल ज्यादातर अपशब्दों के होते हैं। 'तुम्हारे कारण ही सुशांत ने जान दी, मुझे तुमसे मिलना है', ये बोलकर लोग उसे जमकर खरीखोटी सुनाते हैं। इनमें कई फोन विदेश के भी रहते हैं। 

सुशांत की मौत के बाद आने वाले फोन की कतार लग गई 

नंदन नगर (एयरपोर्ट रोड) निवासी 28 वर्षीय प्रितेश लिमनकर टाइल्स लगाने का काम करता है। पहले तक उसके मोबाइल पर परिवार-रिश्तेदारों और कारीगरों के गिने-चुने कॉल आते थे, लेकिन 14 जून को फिल्म अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत के बाद आने वाले कॉल की कतार लग गई। प्रितेश पहले तो कुछ नहीं समझा। उसे लगा कोई गलत नंबर डायल कर परेशान कर रहा है। लेकिन जैसे-जैसे दिन बीते लोगों ने अपशब्द कहना शुरू कर दिए। लोग प्रितेश से कहते 'तुम्हारे कारण सुशांत की जान चली गई। मैडम से हमारी बात करवाओ।' इसमें कई फोन तो तीन या चार डिजिट में आने वाले विदेशी कॉल थे। 

किसी सिरफिरे ने मोबाइल नंबर फेसबुक और गूगल पर किया पोस्ट   

परेशान होकर प्रितेश ने पूछा कि वह किससे बात करना चाहते हैं और कौन सुशांत सिंह मर गया। तब जाकर पता चला कि मामला फिल्म अभिनेता की आत्महत्या का है और लोग उसे अभिनेत्री अंकिता लोखंडे समझकर कॉल कर रहे हैं। दरअसल, किसी सिरफिरे ने इंदौर के मिस्त्री का मोबाइल नंबर फेसबुक और गूगल पर पोस्ट कर दिया है। अंकिता लोखंडे के जिस एफबी प्रोफाइल पर मिस्त्री का नंबर पोस्ट किया गया है उसमें 33 हजार 927 फॉलोअर हैं। प्रितेश के मुताबिक, साइबर सेल में शिकायत की है। पुलिस तकनीकी आधार पर जांच में जुटी हुई है। 

फेसबुक को नोटिस दिया

साइबर सेल के एसपी जितेंद्र सिंह का कहना है कि प्रथम दृष्टया यह प्रतीत होता है कि उक्त फेसबुक पेज फर्जी है। हमने उक्त फर्जी पेज बनाने वाले व्यक्ति की पहचान पता करने के लिए फेसबुक को नोटिस जारी किया है।

ज्ञात रहे कि 34 वर्ष की उम्र में अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत के असामयिक निधन को काफी दिन हो गए हैं। इसके बाद भी उनके चाहने वालों का उनके प्रति प्‍यार कम कम होने का नाम ले रहा है। अब तक उनके परिजनों से लेकर फैंस और उन्हें जानने वाले बेहद दुखी हैं। किसी की समझ नहीं आ रहा कि आख़िर ऐसा क्यों हुआ। सोशल मीडिया में दुख जाहिर करने के साथ फिल्‍मी दुनिया में नेपोटिज्‍म और इनसाइडर-आउटसाइडर को लेकर बहस छिड़ी हुई है। उनकी आखिरी फिल्‍म ये दिल बेचारा का टेलर लांच हुआ है। उसको लोग खूब पसंद कर रहे हैं। 

 

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.