School Reopening : अनलॉक के बीच क्या अब स्कूल भी खुलेंगे? जानें किस राज्य का अब तक क्या फैसला

केंद्र सरकार का कहना है कि राज्य सरकारें स्कूल खोलने का निर्णय तभी लें जब पूरा भरोसा हो जाए कि स्कूल जाने पर बच्चे बीमार नहीं होंगे। नीति आयोग के अध्यक्ष डॉ. वीके पॉल ने कहा कि स्कूलों को खोलने से पहले कई तथ्यों को ध्यान में रखना होगा।

Sanjeev TiwariTue, 22 Jun 2021 05:02 PM (IST)
कोरोना के मामले घटते ही स्कूल खोलने की चर्चा जोरो पर (फाइल फोटो)

 नई दिल्ली, एजेंसी।  देश में कोरोना वायरस के सक्रिय मामले हर दिन घट रही है तो इस बात की चर्चा जोर पकड़ने लगी है कि क्या जल्द ही स्कूल खुलेगी? कोरोना की दूसरी लहर कमजोर पड़ने के साथ ही कई राज्यों में लॉकडाउन में ढील दी जा रही है। दिल्ली, यूपी, बिहार, झारखंड समेत देश के अलग-अलग राज्यों में जनजीवन फिर से पटरी पर लौट रहा है। वहीं, केंद्र सरकार का भी कहना है कि राज्य सरकारें अपने यहां स्कूल खोलने का निर्णय तभी लें जब पूरा भरोसा हो जाए कि स्कूल जाने पर बच्चे बीमार नहीं होंगे। नीति आयोग के अध्यक्ष कोविड-19 महामारी पर गठित एक सेंट्रल वर्कफोर्स के प्रमुख डॉ. वीके पॉल ने कहा कि स्कूलों को खोलने से पहले कई तथ्यों को ध्यान में रखना होगा। उन्होंने विदेशों का उदाहरण देते हुए कहा कि उन देशों में स्कूल खोले गए थे, लेकिन उन्हें फिर से बंद करने का फैसला लेना पड़ा।

जानें- कब से बंद हैं स्कूल

बता दें कि कोरोना की पहली लहर के वक्त पिछले साल देशव्यापी लाकडाउन की घोषणा के साथ ही 25 मार्च से स्कूल बंद हो गए। तब से स्कूल बंद ही पड़े हैं। इस बीच बोर्ड परीक्षाएं भी रद की जा चुकी हैं और अब कुछ फॉर्म्युलों के तहत 10वीं और 12वीं के बच्चों के रिजल्ट तैयार किए जा रहे हैं। चूंकि कोरोना की तीसरी लहर की भी गुंजाइश जताई जा रही है, इस कारण यह कहा जा सकता है कि राज्य सरकारें स्कूल खोलने की दिशा में फूंक-फूंक कर ही कदम बढ़ाएंगी। इस बीच गर्मी छुट्टी के बाद ऑनलाइन क्लासेज शुरू हो रहे हैं। आइए जानते हैं कि किस राज्य ने अब तक क्या फैसला लिया है...

यूपी में 1 जुलाई से खुलेंगे स्कूल

यूपी सरकार ने 1 जुलाई से प्राइमरी और जूनियर स्कूलों को खोलने का फैसला किया है। इस दौराना स्कूलों में सिर्फ प्रशासनिक काम होंगे। बच्चों को अभी स्कूल नहीं बुलाया जाएगा। स्कूल में सिर्फ टीचर और अन्य स्टाफ ही आएंगे। बच्चों की पढ़ाई ऑनलाइन ही जारी रहेगी।

दिल्ली में अभी नहीं खुलेंगे स्कूल

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में करोना की दूसरी लहर की रफ्तार अब थमने लगी है। जिसके बाद राजधानी में कोविड-19 के कारण लगाए गए प्रतिबंध भी हटाए जाने शुरू हो गए हैं। इसी के साथ स्कूलों के खुलने को लेकर भी कयास लगाए जाने लगे हैं। इन सबके बीच उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा कि कोविड महामारी के मद्देनजर और छात्रों की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए फिलहाल स्कूल नहीं खोले जाएंगे। उन्होंने आगे कहा कि स्कूलों में निर्माण कार्य तेज गति से चल रहा है ताकि बेहतर कक्षा के माहौल में छात्रों का स्वागत किया जा सके।

बिहार में स्कूल-कॉलेज अभी बंद रहेंगे

बिहार में कोरोना संक्रमण के घटते प्रकोप को देखते हुए अनलॉक की अवधि बढ़ा दी गई है। राज्य में अब 6 जुलाई तक आंशिक लॉकडाउन लगाया गया है। सरकार ने धार्मिक स्थलों और शिक्षण संस्थानों को फिलहाल बंद रखने का ही आदेश दिया है। आनलाईन शिक्षण कार्य किये जा सकेंगे।

मप्र में एक जुलाई से स्कूल खोलने की तैयारी

मध्य प्रदेश में एक जुलाई से पहली कक्षा से हायर सेकंडरी तक स्कूल खोलने की तैयारी चल रही है। इसके लिए कोरोना कफ्र्यूू का फार्मूला अपनाया जा सकता है। यानी जिस जिले, शहर या गांव में कोरोना संक्रमण होगा वहां स्कूल बंद रहें और बाकी जगह खोले जाएं। ऐसे ही शहर के जिस इलाके में संक्रमण होगा, वहां के स्कूल बंद रहें। यह भी तय होगा कि किस उम्र के बच्चों को कितने समय के लिए स्कूल बुलाया जाए। हालांकि आपदा प्रबंधन समितियों के सुझाव से ही ऐसा हो पाएगा। साथ ही, कोरोना की तीसरी लहर की आशंका को देखते हुए ही अंतिम निर्णय लिया जाएगा। गौरतलब है कि केजी से हायर सेकंडरी तक प्रदेश के सरकारी व निजी स्कूलों में डेढ़ करोड़ विद्यार्थी पढ़ते हैं। प्रदेश में पिछले डेढ़ साल से स्कूल बंद हैं। सिर्फ आनलाइन पढ़ाई हो रही है।

तेलंगाना में एक जुलाई से खुलेंगे स्कूल-कॉलेज

तेलंगाना में भी लॉकडाउन खत्म हो चुकी है। साथ ही सरकार ने स्कूल, कॉलेजों को दोबारा से खोलने का भी फैसला लिया है। तेलंगाना सरकार ने कोरोना वायरस संक्रमण के मामले में कमी आने के बाद राज्य में लॉकडाउन (Lockdown) हटाने और 1 जुलाई से शैक्षणिक संस्थानों को खोलने का निर्णय लिया है। राज्य में पिछले एक महीने से महामारी पर नियंत्रण पाने के लिए लॉकडाउन लागू था।

हरियाणा सरकार का स्कूल पर फैसला

हरियाणा में भी 30 जून क स्कूल कॉलेज बंद है। राज्य सरकार 30 जून के बाद कॉलेज खोलने पर विचार कर सकती है। बताया जा रहा है कि सरकार कॉलेज खोलने का मन बना रही है जबकि प्राइमेरी स्कूल को लेकर सरकार की मंशा अभी खोलने को लेकर नहीं है।

स्कूल खोलने को लेकर महाराष्ट्र सरकार का अभी कोई फैसला नहीं

महाराष्ट्र में कोरोना संक्रमण के मामले सबसे ज्यादा होते हैं। कोरोना की दूसरी लहर के वक्त भी संक्रमण के मामलों में महाराष्ट्र का ग्राफ काफी आगे था। राज्य सरकार तीसरे लहर से निपटने के लिए तैयारियों पर जोर दे रह ही है ऐसे में भले ही अनलॉक की प्रक्रिया शुरू हो गयी हो लेकिन बच्चों के स्कूल खोलने को लेकर महाराष्ट्र सरकार अभी फैसला नहीं लेगी।

हिमाचल का हाल कब खुलेंगे स्कूल कॉलेज

हिमाचल में सरकार 23 जून से मेडिकल, आयुर्वेदिक कॉलेज, 28 जून से फार्मेसी और नर्सिंग स्कूल खोलने का फैसला ले रही है। सरकार ने बच्चों के स्कूल के संबंध में अबतक कोई जानकारी साझा नहीं की है हिमाचल प्रदेश के ग्रीष्मकालीन स्कूलों में 15 जुलाई से 20 अगस्त तक बरसात की छुट्टियां होंगी, जबकि शीतकालीन अवकाश वाले स्कूलों में 10 अगस्त से 10 दिन की छुट्टियां होंगी।

झारखंड में उठ रही है मांग

झारखंड में 17 महीने से स्कूल, कॉलेज और कोचिंग संस्थान बंद है। सरकार ने अबतक इन्हें खोले जाने को लेकर स्पष्ट संकेत नहीं दिये हैं हालांकि कोचिंग चलाने वाले लोग, इनके संगठन लगातार सरकार से कोचिंग और स्कूल कॉलेज खोलने की मांग कर रहे हैं।

 

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.