Coronavirus Cases in India: कोरोना का कहर, देश में बीते 24 घंटे में 3.32 लाख से अधिक मामले, 2,255 लोगों की मौत, सरकार ने दिए ये निर्देश

देश में 24 घंटों के दौरान 3.32 लाख से अधिक कोरोना के नए मामले दर्ज किए गए हैं।

देश में 24 घंटों के दौरान 3.32 लाख से अधिक कोरोना के नए मामले दर्ज किए गए हैं। किसी भी देश में एक दिन में संक्रमण के इतने ज्यादा मामले आने का यह नया रिकार्ड है। देश में अब तक कोरोना से 16257164 लोग संक्रमित हो चुके हैं।

Krishna Bihari SinghFri, 23 Apr 2021 01:14 AM (IST)

नई दिल्ली, एजेंसियां। COVID - 19 Cases in India : देश में 24 घंटों के दौरान 3.32 लाख से अधिक कोरोना के नए मामले दर्ज किए गए हैं। किसी भी देश में एक दिन में संक्रमण के इतने ज्यादा मामले आने का यह नया रिकार्ड है। इन नए मामलों के साथ देश में अब तक कोरोना से 1,62,57,164 लोग संक्रमित हो चुके हैं। वहीं 1,36,41,572 लोग ठीक भी हो चुके हैं। फिलहाल देश में कोरोना के 24.21 लाख से अधिक सक्रिय मामले हैं।

24 घंटे में 3,32,175 मामले आए

गुरुवार रात 12.15 बजे मिली जानकारी के अनुसार 24 घंटे में देश में 3,32,175 कोरोना के नए मामले आए। इस दौरान 2,255 और लोगों की मौत होने से मृतक संख्या बढ़कर 1,86,927 हो गई। फिलहाल देश में 24,21,970 सक्रिय मामले हैं।

रिकवरी रेट गिरी

उधर केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने गुरुवार सुबह आठ जो आंकड़े जारी किए उनके अनुसार, 24 घंटे की अवधि में 3,14,835 नए मामले दर्ज किए गए। वहीं 2,104 लोगों की मौत के साथ मरने वालों की संख्या बढ़कर 1,84,657 हो गई। अकेले महाराष्ट्र में 568 लोगों की मौत हुई। लगातार बढ़ते मामलों से ठीक होने की दर गिरकर 84.46 फीसद हो गई। जबकि बीती 8 फरवरी को ठीक होने की दर 97.2 फीसद दर्ज की गई थी।

देश में 22,91,428 एक्‍ट‍िव केस

नए मामलों में लगातार 43वें दिन बढ़ोतरी देखी गई। इसके साथ सक्रिय मामले बढ़कर 22,91,428 हो गए जो संक्रमण के कुल मामलों का 14.38 फीसद हैं। फिलहाल मृत्यु दर 1.16 फीसद रह गई है। देश में 7 अगस्त को कोरोना संक्रमण के मामले 20 लाख के पार हुए थे। इसी तरह 16 सितंबर को 50 लाख और 19 दिसंबर को एक करोड़ का आंकड़ा पार हुआ। जबकि 19 अप्रैल को संक्रमितों की संख्या 1.50 करोड़ के पार हुई।

एक दिन में 16,51,711 नमूनों की जांच

आइसीएमआर के अनुसार 21 अप्रैल तक 27,27,05,103 नमूनों की जांच की गई जबकि अकेले बुधवार को 16,51,711 नमूनों की जांच हुई।

महाराष्ट्र में सर्वाधिक मौतें

कोरोना से 24 घंटों के दौरान जिन 2,104 लोगों की जान गई उसमें से सर्वाधिक 568 लोग महाराष्ट्र के रहे। इसके बाद से दिल्ली से 249, छत्तीसगढ़ से 193, उत्तर प्रदेश से 187, गुजरात से 125 और कर्नाटक से 116 लोगों ने जान गंवा दी। देश में अब तक कुल 1,84,657 मौतें हुई हैं जिनमें महाराष्ट्र से 61,911, कर्नाटक से 13,762, तमिलनाडु से 13,258, दिल्ली से 12,887, बंगाल से 10,710, उत्तर प्रदेश से 10,346, पंजाब से 8,114 और आंध्र प्रदेश से 7,510 शामिल हैं।

संक्रमण के 75 फीसद मामले दस राज्यों से

24 घंटों में सामने आए 3,14,835 मामलों में 75 फीसद हिस्सेदारी 10 राज्यों की हैं। ये दस राज्य महाराष्ट्र, उत्तर प्रदेश, दिल्ली, गुजरात, कर्नाटक, केरल, छत्तीसगढ़, मध्य प्रदेश, बिहार और राजस्थान हैं।

सर्वाधिक नए केस वाले 10 राज्य

राज्य-नए मामले-कुल संक्रमित (लाख में)

महाराष्ट्र 67,013 40.94

उत्तर प्रदेश 34,254 9.76

दिल्ली 26,189 9.56

कर्नाटक 25,795 12.47

केरल 26,995 13.22

राजस्थान 14,468 4.67

छत्तीसगढ़ 16,750 6.05

मध्य प्रदेश 12,384 4.59

गुजरात 13,105 4.53

बिहार 11,489 3.65 

तेज हुआ टीकाकरण  

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने गुरुवार को बताया कि देश में अब तक कोविड वैक्‍सीन की 13,53,46,729 डोज लगाए जा चुकी हैं। इनमें 92,41,384 स्वास्थ्य कर्मियों को पहली और 59,03,368 स्वास्थ्य कर्मियों को दूसरी डोज दी गई। इसी तरह अग्रिम पंक्ति के 1,17,27,708 कार्मिकों को पहली डोज और 60,73,622 कार्मिकों को दूसरी डोज जी गई। 45 वर्ष से 60 वर्ष की उम्र के 4,55,10,426 लोगों को पहली डोज और 18,91,160 लोगों को दूसरी डोज दी गई।

सुप्रीम कोर्ट ने लिया संज्ञान 

देश में कोरोना संक्रमण की गंभीर स्थिति और आक्सीजन की किल्‍लत को देखते हुए सुप्रीम कोर्ट ने गुरुवार को मामले पर स्वत: संज्ञान लिया। सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि वह ऑक्सीजन और जरूरी दवाओं की आपूर्ति के मुद्दे पर केंद्र सरकार से राष्ट्रीय योजना चाहता है। कोर्ट ने आक्सीजन, जरूरी दवाएं, कोरोना टीकाकरण के तौर-तरीके और लॉकडाउन लागू करने के अधिकार पर विचार का मन बनाते हुए केंद्र सरकार, सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को नोटिस जारी किया है।

केंद्र ने राज्‍यों को दिए निर्देश 

ऑक्सीजन की कमी की शिकायतों के बीच केंद्रीय गृह मंत्रालय ने चिकित्सीय ऑक्सीजन का निर्बाध उत्पादन, आपूर्ति और निर्बाध परिवहन का राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों को कड़ा आदेश निर्देश दिया। मंत्रालय ने राज्यों को निर्देश दिया कि वे चिकित्सकीय ऑक्सीजन का निर्बाध आपूर्ति सुनिश्चित करें। पढ़ें पूरी खबर- केंद्र सरकार का बड़ा फैसला, आपदा प्रबंधन कानून लागू किया

प्रधानमंत्री ने उच्चस्तरीय बैठक की

इस बीच प्रधानमंत्री मोदी ने गुरुवार को देश में ऑक्सीजन आपूर्ति की समीक्षा के लिए एक उच्चस्तरीय बैठक की। इसमें प्रधानमंत्री मोदी ने अधिकारियों से ऑक्सीजन की जमाखोरी करने वालों के खिलाफ कठोर कार्रवाई करने का निर्देश दिया। इस बैठक में कैबिनेट सचिव, प्रधानमंत्री के प्रमुख सचिव, गृह सचिव, स्वास्थ्य सहित अन्य मंत्रालयों और विभागों तथा नीति आयोग के वरिष्ठ अधिकारी मौजूद थे। पढ़ें पूरी खबर- ऑक्‍सीजन की उपलब्धता बढ़ाने के लिए पीएम मोदी ने बताए तीन उपाय

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.