रेलवे ने 54 दिनों में 32000 टन से ज्यादा लिक्विड मेडिकल आक्सीजन पहुंचाई

एक बयान में मंत्रालय ने कहा है कि अभी तक 443 आक्सीजन एक्सप्रेस ट्रेनें अपनी यात्रा पूरी कर चुकी हैं और विभिन्न राज्यों को राहत मिल चुकी है। चार टैंकरों में 78 टन आक्सीजन लेकर एक ट्रेन अभी रास्ते में है।

Nitin AroraFri, 18 Jun 2021 03:01 AM (IST)
रेलवे ने 54 दिनों में 32000 टन से ज्यादा लिक्विड मेडिकल आक्सीजन पहुंचाई

नई दिल्ली, प्रेट्र। रेल मंत्रालय ने कहा कि 54 दिनों में आक्सीजन एक्सप्रेस ट्रेनों से देश भर में 32,017 टन लिक्विड मेडिकल आक्सीजन पहुंचाई गई है। आक्सीजन 1,830 से ज्यादा टैंकरों में पहुंचाई गई।

एक बयान में मंत्रालय ने कहा है कि अभी तक 443 आक्सीजन एक्सप्रेस ट्रेनें अपनी यात्रा पूरी कर चुकी हैं और विभिन्न राज्यों को राहत मिल चुकी है। चार टैंकरों में 78 टन आक्सीजन लेकर एक ट्रेन अभी रास्ते में है। देश के दक्षिणी राज्यों में आक्सीजन एक्सप्रेस ट्रेनों से 17,600 टन लिक्विड मेडिकल आक्सीजन पहुंचाई गई है। तमिलनाडु में 5,600 टन पहुंचाई गई। विशेष ट्रेनों से तेलंगाना में 3,200 टन, आंध्र प्रदेश में 4000 टन और कर्नाटक में 4,100 टन लिक्विड मेडिकल आक्सीजन पहुंचाई गई।

54 दिनों पहले 24 अप्रैल को आक्सीजन एक्सप्रेस से महाराष्ट्र में 126 टन लिक्विड मेडिकल आक्सीजन पहुंचाई गई थी। आक्सीजन एक्सप्रेस से उत्तराखंड, कर्नाटक, महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश, आंध्र प्रदेश, राजस्थान, तमिलनाडु, हरियाणा, तेलंगाना, पंजाब, केरल, दिल्ली, उत्तर प्रदेश, झारखंड और असम में 39 शहरों तक राहत पहुंचाई गई। बता दें कि पिछले दिनों कोरोना की दूसरी लहर में आक्सीजन की कमी ने खूब कहर मचाया था।

भारत में कोरोना महामारी की स्थिति में तेज सुधार हो रहा है। दैनिक मामलों में लगातार गिरावट जारी है और रिकवरी रेट में बढ़ोतरी जारी है। स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा गुरुवार सुबह आठ बजे जारी आंकड़ों के अनुसार पिछले 24 घंटे में कोरोना के 67 हजार 208 नए मामले सामने आए। वहीं एक लाख तीन हजार 570 मरीज इस दौरान संक्रमण से उबरे और 2330 लोगों की मौत हो गई। स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार देश में अब तक कुल 2,97,00,313 मामले सामने आ गए हैं। कुल मौतों की संख्या 3,81,903 हो गई है। 2,84,91,670 मरीज अबतक संक्रमण से उबर गए हैं। पॉजिटिव केस की कुल संख्या 8,26,740 है।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.