ब्रिटेन ने पीएम मोदी को भेजा G7 समिट का न्योता, सम्मेलन से पहले भारत आएंगे बोरिस जॉनसन

भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व ब्रिटेन के पीएम बोरिस जॉनसन फाइल फोटो (फोटो एएनआई)

ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन जी-7 से पहले भारत की यात्रा पर आ सकते हैं। बोरिस जॉनसन को गणतंत्र दिवस कार्यक्रम में शिरकत करने के लिए भारत आना था लेकिन ब्रिटेन में कोरोना का म्युटेंट स्ट्रेन सामने आने के बाद उन्होंने अपना भारत दौरा रद कर दिया था।

Publish Date:Sun, 17 Jan 2021 02:31 PM (IST) Author: Sanjeev Tiwari

नई दिल्ली, एएनआई। ब्रिटेन ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को जी-7 समिट में भाग लेने के लिए आमंत्रित किया है। यह सम्मेलन जून में ब्रिटेन के कॉर्नवॉल में होना है। जी-7 समूह में दुनिया की प्रमुख सात आर्थिक शक्तियां- ब्रिटेन, कनाडा, फ्रांस, जर्मनी, इटली, जापान, अमेरिका- और यूरोपीय संघ शामिल है। यह समूह कोरोनावायरस महामारी, जलवायु परिवर्तन और मुक्त व्यापार जैसे वैश्विक मुद्दों पर चर्चा करेगा। एक प्रेस बयान में कहा गया है कि ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन जी-7 से पहले भारत की यात्रा पर आ सकते हैं। बोरिस जॉनसन को गणतंत्र दिवस कार्यक्रम में शिरकत करने के लिए भारत आना था, लेकिन ब्रिटेन में कोरोना का म्युटेंट स्ट्रेन सामने आने के बाद उन्होंने अपना भारत दौरा रद कर दिया था।

भारत के अलावा, ऑस्ट्रेलिया और दक्षिण कोरिया को भी जी-7 शिखर सम्मेलन के लिए आमंत्रित किया गया है।बयान में कहा गया है कि तीनों देशों को सम्मेलन के लिए मेहमान के तौर पर बुलाया गया है ताकि विशेषज्ञता और अनुभव को जोर दिया जा सके।

कोरोनावायरस के खिलाफ लड़ाई में भारत और ब्रिटेन के बीच सहयोग बढ़ने पर जोर देते हुए बयान में कहा गया, कि दुनिया की फार्मेसी के रूप में भारत पहले से ही दुनिया को 50 फीसद से ज्यादा वैक्सीन की आपूर्ति करता है।यूनाइटेड किंगडम और भारत ने कोरोना जैसी महामारी के दौरान एक साथ मिलकर काम किया है। हमारे प्रधानमंत्री लगातार बातचीत करते रहते हैं। प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने कहा है कि जी-7 सम्मेलन से पहले वो भारत का दौरा करेंगे।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.