top menutop menutop menu

Madhya Pradesh: दलित दंपति की पिटाई के मामले पर लोगों में गुस्सा, मजिस्ट्रेट ने दिए जांच के आदेश

गुना, एएनआइ। मध्य प्रदेश के गुना में मंगलवार को अतिक्रमण हटाने गए पुलिसवालों ने किसान दलित दंपति की जमकर पिटाई की, जिसके बाद किसान दंपति ने कीटनाशक जहर खाकर खुदकुशी करने की कोशिश की। वहीं, अब यह मामला तूल पकड़ता जा रहा है। इस घटना को लेकर मजिस्ट्रेट ने जांच के आदेश दिए हैं। जांच रिपोर्ट को 30 दिनों के अंदर पेश किए जाने को कहा गया है। लोगों में इस पूरे मामले को लेकर रोष है। इस घटना को लेकर शिवराज सरकार के प्रशासन पर भी सवाल उठाए जा रहे हैं।

कमल नाथ ने शिवराज सरकार को घेरा

मध्य प्रदेश की इस घटना को लेकर राजनीतिक दल के लोग भी शिवराज सरकार को कटघरे में खड़ा कर रहे हैं। मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमल नाथ ने शिवराज सरकार पर सवाल खड़े किए हैं। कमल नाथ ने इस घटना का वीडियो ट्वीट कर लिखा कि ये शिवराज सरकार प्रदेश को कहां ले जा रही है? ये कैसा जंगल राज है? गुना में कैंट थाना क्षेत्र में एक दलित किसान दंपत्ति पर बड़ी संख्या में पुलिसकर्मियों द्वारा इस तरह बर्बरता पूर्ण लाठीचार्ज किया गया।'

इस घटना पर कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने भी सवाल खड़ा किए हैं। वीडियो ट्वीट करते हुए राहुल गांधी ने लिखा कि हमारी लड़ाई इसी सोच और अन्याय के खिलाफ है।

Guna MP News: Guna में पुलिस ने किसान दंपति को पीटा, Video Viral होने के बाद कलेक्टर और SP हटाए गए

यह था पूरा मामला

मध्य प्रदेश के गुना जिले में मॉडल कॉलेज निर्माण के लिए शासकीय कॉलेज मैनेजमेंट को 20 बीघा जमीन जगनपुर चक क्षेत्र में आवंटित की गई थी। इस जमीन पर लंबे समय से किसी दूसरे व्यक्ति का कब्जा था। कुछ समय पहले राजस्व और पुलिस की टीम ने मिलकर अतिक्रमण हटवा दिया था। इसके साथ ही जमीन को कॉलेज  मैनेजमेंट को सौंप दिया गया था। विभाग की लापरवाही की वजह से इस जमीन पर निर्माण नहीं हो सका था। बाद में अतिक्रमणकारियों ने दोबारा जमीन को घेरना शुरू कर दिया था। इसके बाद जब पुलिस जमीन खाली करवाने गई तब झड़प हुई। इसी का वीडियो अब वायरल हो रहा है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.