Pegasus spyware Updates: PMO, सेना, ईडी और नीति आयोग के अफसर भी थे पेगासस की सूची में

इजरायली स्पाइवेयर पेगासस की निगरानी सूची में प्रधानमंत्री कार्यालय (PMO) प्रवर्तन निदेशालय (ED) नीति आयोग सेना बीएसएफ के अधिकारियों के फोन नंबर भी मिले हैं। लीक डाटा के मुताबिक ईडी के राजेश्वर सिंह को निगरानी वाले लोगों की सूची में रखा गया था।

Pooja SinghTue, 27 Jul 2021 01:04 AM (IST)
Pegasus spyware Updates: PMO, सेना, ईडी और नीति आयोग के अफसर भी थे पेगासस की सूची में

नई दिल्ली, आइएएनएस। इजरायली स्पाइवेयर पेगासस की निगरानी सूची में प्रधानमंत्री कार्यालय (PMO), प्रवर्तन निदेशालय (ED), नीति आयोग, सेना, बीएसएफ के अधिकारियों के फोन नंबर भी मिले हैं। लीक डाटा के मुताबिक ईडी के राजेश्वर सिंह को निगरानी वाले लोगों की सूची में रखा गया था। राजेश्वर सिंह ने 2जी लेकर सहारा समूह के खिलाफ ईडी जांच की अगुआई की थी। सूची में सिंह के परिवार की तीन महिलाओं के फोन नंबर भी मिले हैं। पेगासस की निगरानी सूची में पीएमओ और नीति आयोग के कम से कम एक-एक अधिकारी का फोन नंबर भी मिला है।

पीएमओ के अधिकारी के नंबर को 2017 में निगरानी सूची में रखा गया था। पीएमओ में अंडर सेक्रेटरी स्तर का यह अधिकारी उस समय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की यात्राओं की देखरेख की जिम्मेदारी संभाल रहा था। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के निजी सहायक रह चुके पूर्व आइएएस अधिकारी वीके जैन का फोन नंबर भी पाया गया है।

लीक डाटा के मुताबिक सरकारी नीति को चुनौती देने वाले सेना को दो मौजूदा कर्नल, अनुसंधान एवं विश्लेषण विंग यानी रा को कोर्ट में घसीटने वाले सेवानिवृत्त अधिकारी जितेंद्र कुमार ओझा और सीमा सुरक्षा बल यानी बीएसएफ के दो कार्यरत अधिकारियों के फोन नंबर भी पेगासस की सूची में पाए गए हैं। डाटा के मुताबिक 2018 में बीएसएफ के प्रमुख रहे केके शर्मा का फोन नंबर भी पेगासस के जरिये जासूसी कराए जाने वाले संभावित लक्ष्यों की सूची में शामिल था।

बता दें कि भारतीय अधिकारियों को फोन नंबर दुनिया भर के उन 50 हजार फोन नंबरों में शामिल हैं जिन पर इजरायली कंपनी एनएसओ ग्रुप के स्पाइवेयर पेगासस के जरिये निगरानी की जा रही थी या कराई जानी थी। बिहार क्रिकेट एसोसिएशन के अध्यक्ष के दो फोन नंबर भी सूची में बिहार क्रिकेट एसोसिएशन के अध्यक्ष राकेश तिवारी के दो फोन नंबर भी पेगासस के संभावित लक्ष्यों की सूची में हैं। तिवारी को भारतीय क्रिकेट प्रशासकों का करीबी माना जाता है।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.