हिमाचलः बर्फीले तूफान की चपेट में आने से सेना के एक जवान की मौत, 5 लापता, रेस्क्यू ऑपरेशन जारी

जागरण संवादादाता, किन्नौर। हिमाचल प्रदेश के किन्नौर जिले में तिब्बत सीमा के निकट पूह ब्लॉक के तहत डोगरी (नमज्ञा) क्षेत्र में बुधवार सुबह ग्लेशियर गिरा। इसकी चपेट में सेना की सात जैक राइफल के छह जवान आ गए। इनमें से एक जवान की मौत हो गई। पांच जवान लापता हैं। ग्लेशियर में दबे तीन जवान हिमाचल के और एक-एक जवान उत्तराखंड व जम्मू कश्मीर का बताया जा रहा है।

आइटीबीपी (इंडो तिब्बत बॉर्डर पुलिस) की 17वीं बटालियन व सात जैक राइफल का कैंप डोगरी में साथ ही है। सेना के 16 जवान पानी की पाइपलाइन ठीक करने बुधवार को डोगरी से ऊपर शिपकिला ग्लेशियर की ओर गए थे। वहां से सैन्य जवानों को पेयजल आपूर्ति होती है। बर्फबारी के कारण पाइपों में पानी जमने से पेयजल आपूर्ति बाधित थी। आइटीबीपी के आठ जवान तड़के तीन बजे सामान्य पेट्रोलिंग करने के लिए निकले थे। वे पहाड़ी के ऊपर थे।

पेट्रोलिंग कर रहे आइटीबीपी जवानों ने सेना की टुकड़ी को अलर्ट किया था कि ग्लेशियर गिर सकता है। सुबह करीब साढ़े दस बजे नाले में पाइप की मरम्मत करते समय सेना के जवान ग्लेशियर की चपेट में आ गए। त्वरित कार्रवाई बल, सेना, आइटीबीपी, जनरल रिजर्व इंजीनियर फोर्स, पुलिस व स्थानीय लोगों ने रेस्क्यू ऑपरेशन शुरू किया। ग्लेशियर में दबे हिमाचल के बिलासपुर निवासी 41 वर्षीय जवान राजेश कुमार को शाम साढ़े छह बजे निकाल लिया गया। उसे पूह के निकट सैन्य अस्पताल ले जाया गया जहां उपचार के दौरान उसकी मौत हो गई।

दुर्घटनास्थल पर सिग्नल की कमी के कारण संपर्क में दिक्कत आई। किन्‍नौर के उपायुक्‍त गोपाल चंद्र ने कहा कि पांच जवानों की तलाश के लिए रेस्क्यू ऑपरेशन देर शाम तक जारी रहा। बाद में अधिक ठंड व अंधेरे के कारण सर्च ऑपरेशन बंद कर दिया गया जिसे वीरवार सुबह दोबारा शुरू किया जाएगा।

किन्‍नौर जिले की एसपी साक्षी वर्मा ने कहा कि जब तक ग्लेशियर में दबे जवान न मिलें, तब तक कुछ कहना उचित नहीं होगा। घटना के बारे में हिमाचल प्रदेश के मुख्‍यमंत्री जयराम ठाकुर ने कहा कि ग्लेशियर में दबने से सेना के जवान की मौत दुखद घटना है। प्रदेश सरकार जवानों को राहत के लिए हर संभव सहायता उपलब्ध करवाएगी। किन्नौर के उपायुक्त को सेना व आइटीबीपी प्रशासन के साथ निरंतर संपर्क में रहने के निर्देश दिए गए हैं।

हिमाचल, उत्तराखंड में भारी बर्फबारी की चेतावनी
हिमाचल प्रदेश, जम्मू-कश्मीर और उत्तराखंड में बुधवार को कुछ स्थानों पर हल्की बारिश व बर्फबारी दर्ज की गई, जिससे तापमान में गिरावट दर्ज की गई। हिमाचल के केलंग में न्यूनतम तापमान -9.8 रहा जबकि जम्मू-कश्मीर में बनिहाल में -11 डिग्री सेल्सियस रहा। अगले 24 घंटे के दौरान हिमाचल और उत्तराखंड में भारी बारिश व बर्फबारी की चेतावनी जारी की है।

हिमाचल प्रदेश में बारिश व बर्फबारी से प्रदेश में 225 सड़कें बुधवार को भी बंद रही। भारी हिमपात के कारण चिनाब घाटी की 134 सड़कों को यातायात के लिए बंद कर दिया है। उत्तराखंड में बुधवार को बदरीनाथ, केदारनाथ, हेमकुंड, मुनस्यारी समेत हिमालय की ऊंची चोटियों पर बर्फबारी हुई।

किसानों की बढ़ी परेशानी
बुधवार को पंजाब के कई जिलों में हल्की व तेज बारिश रिकार्ड की गई और ठंडी हवाओं ने ठिठुरन बढ़ा दी। वहीं मौसम के बदले मिजाज ने किसानों की चिंता बढ़ा दी है। बारिश से फसलों को हो रहे नुकसान से किसान पहले से ही चिंतित हैं। मौसम विभाग के अनुसार अभी एक सप्ताह तक पंजाब में इसी तरह बारिश होती रहेगी।

 

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.