ओमिक्रोन वैरिएंट को लेकर अलर्ट हुआ कर्नाटक, सख्त ट्रैवल एडवाइजरी लागू करने के निर्देश

दक्षिणा अफ्रीका में पाए जाने से पहले ही यूरोप पहुंचने वाले कोरोना वायरस के नए वैरिएंट ओमिक्रोन को लेकर भारत भी सतर्क है। यहां के कई राज्यों में सख्त उपाय किए जा रहे हैं। इस क्रम में कर्नाटक ने ट्रैवल एडवाइजरी लागू करने का निर्णय लिया है।

Monika MinalPublish:Thu, 02 Dec 2021 05:27 AM (IST) Updated:Thu, 02 Dec 2021 05:31 AM (IST)
ओमिक्रोन वैरिएंट को लेकर अलर्ट हुआ कर्नाटक, सख्त ट्रैवल एडवाइजरी लागू करने के निर्देश
ओमिक्रोन वैरिएंट को लेकर अलर्ट हुआ कर्नाटक, सख्त ट्रैवल एडवाइजरी लागू करने के निर्देश

 बेंगलुरु, एएनआइ। कर्नाटक सरकार ने बुधवार को कोरोना वायरस के नए वैरिएंट ओमिक्रोन को लेकर राज्य भर में नए निर्देश दिए। राज्य सरकार ने बृहत बेंगलुरु महानगर पालिका, जिला प्रशासन व एयरपोर्ट से संबंधित अधिकारियों को अलर्ट किया और सख्ती बरतने के निर्देश दिए। इन्हें नए ट्रैवल एडवाइजरी लागू करने और इसका सख्ती से पालन सुनिश्चित कराने को कहा। 28 नवंबर को केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने भारत आने वाले विदेशी यात्रियों के लिए नए गाइडलाइंस जारी किए थे जो 1 दिसंबर से लागू कर दिया गया है। 

नए गाइडलाइंस के तहत यात्रियों को आनलाइन एयर सुविधा पोर्टल पर एक फार्म सबमिट करना होगा जिसमें अंतिम 14 दिनों की अपनी ट्रैवल हिस्ट्री बतानी होगी। इसके साथ ही नेगेटिव RT-PCR टेस्ट रिपोर्ट एयर सुविधा पोर्टल पर देना होगा जो यात्रा शुरू करने से पहले के 72 घंटों के भीतर का होना चाहिए। स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार, जोखिम वाले देशों में ब्रिटेन, अमेरिका, चीन, बोत्सवाना, दक्षिण अफ्रीका, ब्राजील, बांग्लादेश, मारिशस, न्यूजीलैंड, जिंबाब्वे, सिंगापुर, हांगकांग , इजरायल है। बता दें कि कोरोना वायरस का नय वैरिएंट ओमिक्रोन से संक्रमण का मामला सबसे पहले दक्षिण अफ्रीका में 24 नवंबर को आया। नीदरलैंड और कुछ अन्य देशों में मिले मामलों से ऐसे संकेत मिल रहे हैं कि यह वैरिएंट दक्षिण अफ्रीका से बहुत पहले ही यूरोप में पहुंच गया था। 

यात्रा पाबंदियां अफ्रीकी देशों को लेकर लगाई जा रही हैं। जापान समेत कई देशों के ने अंतरराष्ट्रीय यात्रा प्रतिबंधों को और सख्त कर दिया है। उसने सभी अंतरराष्ट्रीय एयरलाइंस से दिसंबर तक नई बुकिंग नहीं करने को कहा है। जापान में ओमिक्रोन का दूसरा मामला मिला है। यह व्यक्ति कतर होते हुए पेरू से आया था। जापान ने विदेशी नागरिकों के आने पर पहले ही पाबंदी लगा दी थी। कई और देशों ने भी अफ्रीकी देशों से आने वालों पर पूरी तरह से रोक लगा दी है। अमेरिका ने अंतरराष्ट्रीय यात्रियों के लिए जांच के नियमों को सख्त कर दिया है।