भारत में ओमिक्रोन वैरिएंट के केस मिलने के बाद सरकार सतर्क, जानिए- क्या है आज का ताजा अपडेट

साउथ अफ्रीका में पहला केस मिलने के बाद से एक हफ्ते के अंदर ही भारत अमेरिका जर्मनी फ्रांस समेत दुनिया के 30 देशों में ओमिक्रोन के केस मिल चुके हैं। ओमिक्रोन से जुड़ी सभी अपडेट के लिए हमारे साथ जुड़े रहे...

Sanjeev TiwariPublish:Fri, 03 Dec 2021 08:42 AM (IST) Updated:Fri, 03 Dec 2021 01:14 PM (IST)
भारत में ओमिक्रोन वैरिएंट के केस मिलने के बाद सरकार सतर्क, जानिए- क्या है आज का ताजा अपडेट
भारत में ओमिक्रोन वैरिएंट के केस मिलने के बाद सरकार सतर्क, जानिए- क्या है आज का ताजा अपडेट

नई दिल्ली, एजेंसी। कोरोना का सबसे तेज म्यूटेशन वाला वैरिएंट ओमिक्रोन भारत में पहुंच गया है। स्वास्थ्य मंत्रालय ने 2 दिसंबर को कर्नाटक में दो ओमिक्रोन केस पाए जाने की पुष्टि की है। बता दें कि वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गनाइजेशन (डब्ल्यूएचओ) पहले ही वैरिएंट ऑफ कंसर्न घोषित कर चुका है। 24 नवंबर को साउथ अफ्रीका में पहला केस मिलने के बाद से एक हफ्ते के अंदर ही भारत, अमेरिका, जर्मनी, फ्रांस समेत दुनिया के 30 देशों में ओमिक्रोन के केस मिल चुके हैं। ओमिक्रोन से जुड़ी सभी अपडेट के लिए हमारे साथ जुड़े रहे...

INSACOG की सिफारिश, 40 से ऊपर वालों को दिया जाए वैक्सीन का बूस्टर डोज

देश के शीर्ष जीनोम वैज्ञानिकों ने 40 साल से ऊपर के लोगों के लिए कोरोना वायरस वैक्सीन के बूस्टर शॉट की सिफारिश की है। साथ ही वैज्ञानिकों ने उन लोगों को भी बूस्टर शॉट देने की बात की है, जो हाई रिस्क वाले और हाई एक्सपोजर वाले हैं INSACOG ने यह सिफारिश अपने साप्ताहिक बुलेटिन में की है। बता दें कि INSACOG कोरोना वायरस के जीनोम वैरिएशंस पर नजर रखने के लिए केंद्र सरकार द्वारा बनाई गईं लैब्स का एक नेटवर्क है। INSACOG ने अपने बुलेटिन में कहा है कि टीका ना लगवाने वाले लोग रिस्क में हैं, इनके टीकाकरण के साथ 40 साल के ऊपर के लोगों के लिए बूस्टर डोज पर प्राथमिकता के साथ विचार किया जाना चाहिए। इनमें हाई रिस्क और ज्यादा खतरे में रह रहे लोगों को प्राथमिकता दी जा सकती है। विस्तृत खबर के लिए यहां क्लिक करें।

दिल्ली में ओमिक्रोन के 12 संदिग्ध मरीज LNJP में भर्ती

राजधानी दिल्ली में कोरोना वायरस के नए वेरिएंट 'ओमिक्रॉन' के 12 संदिग्ध मरीज मिले हैं। सभी को लोक नायक जय प्रकाश नारायण अस्पताल में भर्ती कराया गया है। समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक दो की कोविड-19 रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। जबकि, अन्य के जांच नतीजों का इंतजार किया जा रहा है। कहा जा है कि 4 संदिग्धों ब्रिटेन, एक फ्रांस और एक नीदरलैंडस से लौटा था। आज चारों मरीजों के सैंपल जीनोम सीक्वेंसिंग के लिए भेजे गए। विस्तृत खबर के लिए यहां क्लिक करें।

मुंबई पहुंचे 9 अंतरराष्ट्रीय यात्री कोरोना पॉजिटिव, जीनोम सिक्वेंसिंग के लिए भेजे गए नमूने

बृहन्मुंबई नगर निगम (बीएमसी) ने बताया कि 10 नवंबर से 2 दिसंबर के बीच मुंबई अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर पहुंचे 9 अंतरराष्ट्रीय यात्री कोरोना पॉजिटिव पाए गए है। उनके नमूने जीनोम सिक्वेंसिंग के लिए भेजे गए हैं। इसमें दक्षिण अफ्रीका के एक यात्री आया है। बाकी 8 यात्री अन्य देशों से आए है।

भारत में पिछले 24 घंटों में 9,216 नए कोविड मामले सामने आए

देश में पिछले 24 घंटे में कोरोना के 9,216 नए केस सामने आए हैं। रिकवरी रेट की बात करें तो यह 98.35 फीसद है। पिछले 24 घंटे में 8,612 लोग कोरोना से ठीक हुए है। अब तक कुल 3,40,45,666 लोग ठीक हो चुके हैं। वीकली पॉजिटिविटी रेट 0.84% है जो कि पिछले 19 दिनों से 1 फीसद से नीचे है। अब तक कुल 125.75 करोड़ वैक्सीनेशन हो चुका है।

नेपाल ने हांगकांग सहित 9 देशों से आवाजाही पर प्रतिबंध लगाया

देश में कोरोना के नए वैरिएंट ओमिक्रोन केस आने के बाद अब पड़ोस में भी सख्ती देखने को मिल रही है। कोविड के ओमिक्रोन वैरिएंट के मद्देनजर नेपाल ने हांगकांग सहित 9 देशों से आवाजाही पर प्रतिबंध लगाया है।

सऊदी अरब और यूएई में दर्ज किया गया कोरोना वायरस का नया वैरिएंट

कोरोना वायरस के नए वैरिएंट ओमिक्रोन ने कई देशों में दस्तक देना शुरू कर दिया है और सऊदी अरब और संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) से इसका पहला मामला सामने आया है। सऊदी अरब की सरकारी ‘सऊदी प्रेस एजेंसी' की ओर से जानकारी देते हुए बताया गया कि देश में किसी उत्तरी अफ्रीकी देश से आया व्यक्ति ओमिक्रोन से संक्रमित पाया गया है। कोरोना वायरस संक्रमण के नए स्वरूप से ओमिक्रोन से संक्रमित हुए इस व्यक्ति का इलाज किया जा रहा है। वहीं इसके संपर्क में आए लोगों को आइसोलेटेड कर दिया गया है।

ओमिक्रोन के खतरे के बीच ब्रिटेन के पीएम बोरिस जॉनसन ने लिया कोरोना का बूस्टर डोज

ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने ओमिक्रोन के खतरे के बीच कोरोना वैक्सीन का बूस्टर डोज लगवाया है। इस बात की जानकारी उन्होंने खुद अपने ट्विटर अकाउंट के जरिए दी। बोरिस ने वीडियो शेयर किया, जिसमें वो बूस्टर डोज लगवाते हुए दिख रहे हैं। बोरिस ने कहा- आप सभी अपनी बारी आने पर बाद बूस्टर डोज लगवाएं। हमें वायरस को दूसरा मौका नहीं देना चाहिए।

कर्नाटक में ओमिक्रॉन को लेकर होगी मीटिंग

कर्नाटक में ओमिक्रोन वैरिएंट के मरीज मिलने के बाद राज्य सरकार अब तक के हालात पर मीटिंग करेगी। कर्नाटक के सीएम बसवराज बोम्मई ने कहा, हम कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग कर रहे हैं। मैं आज दोपहर 1 बजे स्वास्थ्य विशेषज्ञों के साथ बैठक करूंगा। मैंने स्वास्थ्य मंत्री डॉ मनसुख मंडाविया से बात की है, वह कुछ दिशानिर्देशों के साथ मुझसे संपर्क करेंगे।

न्यूयॉर्क में ओमिक्रोन के पांच केस, यूएस में अंतरराष्ट्रीय यात्रियों के लिए कड़े प्रतिबंध

अमेरिका के न्यूयॉर्क प्रांत में ओमिक्रोन वेरिएंट के पांच केस सामने आए हैं। गवर्नर ने इस बात की पुष्टि की है। वहीं अमेरिकी राष्ट्रपति जो बिडेन ने कोविड-19 का मुकाबला करने के लिए नए उपायों का खुलासा किया है। उन्होंने कहा ओमिक्रोन खतरे को देखते हुए बूस्टर डोज की जरूरत भी बढ़ गई है। बिडेन की योजना में अंतरराष्ट्रीय यात्रियों के लिए कड़े प्रतिबंध और घर पर कोरोना टेस्ट की पहुंच भी शामिल है।

बहुत तेजी से फैलता है ओमिक्रोन

लव अग्रवाल ने अमेरिकी महामारी रोग विशेषज्ञ डाक्टर इरिक फीग्ल-¨डग द्वारा तैयार माडल का हवाला देते हुए कहा कि शुरुआती ट्रेंड से ओमिक्रोन, डेल्टा वैरिएंट की तुलना में पांच गुना ज्यादा संक्रामक नजर रहा है। इसकी संक्रामकता का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि 24 नवंबर को दक्षिण अफ्रीका और बोत्सवाना से इसके मरीज की सूचना विश्व स्वास्थ्य संगठन को मिली और आठ दिनों में यह 30 देशों में फैल गया। ध्यान देने की बात है कि इस साल अप्रैल और मई महीने में डेल्टा ने भारत में बड़ी तबाही मचाई थी। डेल्टा से पांच गुना ज्यादा संक्रामक होना ओमिक्रोन को काफी खतरनाक बना रहा है।

डेल्टा की तुलना में कम घातक

राहत की बात बस यही है कि अभी तक दुनिया में ओमिक्रोन के सभी मामले माइल्ड किस्म के मिले हैं। इसकी चपेट में आए किसी भी मरीज को अस्पताल में भर्ती कराने की जरूरत नहीं पड़ी है। चपेट में आए लोगों में सामान्य रूप से बदन दर्द की शिकायत देखने को मिल रही है। लव अग्रवाल ने यह भी साफ किया कि अभी सीमित डाटा के आधार पर यह अनुमान लगाया गया है। आने वाले दिनों में स्थिति और स्पष्ट होगी। ओमिक्रोन के मामले माइल्ड होने के बावजूद पिछले एक हफ्ते में दक्षिण अफ्रीका में कोरोना मरीजों के अस्पताल में भर्ती होने के बढ़ते आंकड़े खतरनाक संकेत दे रहे हैं। अग्रवाल ने कहा कि यह देखना पड़ेगा कि ओमिक्रोन के मामले बढ़ने से अस्पतालों में मरीज बढ़े हैं या किसी और कारण से।