राष्ट्रीय सेवा योजना पुरस्कार किए गए प्रदान, सुषमा स्वराज भवन में अनुराग ठाकुर भी रहे मौजूद; जानें- क्या बोले कोविन्द

राष्ट्रीय सेवा योजना पुरस्कार आज प्रदान (National Service Scheme Awards) किए हैं। इस खास अवसर पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविन्द ने वर्चुअल मोड के माध्यम से राष्ट्रपति भवन से 2019-20 के लिए राष्ट्रीय सेवा योजना पुरस्कार प्रदान किए। जानें क्या बोले अनुराग ठाकुर।

Pooja SinghFri, 24 Sep 2021 10:46 AM (IST)
राष्ट्रीय सेवा योजना पुरस्कार किए गए प्रदान, सुषमा स्वराज भवन में अनुराग ठाकुर भी रहे मौजूद

नई दिल्ली, एएनआइ। राष्ट्रीय सेवा योजना पुरस्कार आज प्रदान (National Service Scheme Awards) किए हैं। इस खास अवसर पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविन्द ने वर्चुअल मोड के माध्यम से राष्ट्रपति भवन से 2019-20 के लिए राष्ट्रीय सेवा योजना पुरस्कार प्रदान किए। युवा मामले और खेल मंत्री अनुराग ठाकुर और राज्य मंत्री निसिथ प्रमाणिक नई दिल्ली में सुषमा स्वराज भवन में आयोजित समारोह में शामिल हुए।

इस दौरान राष्ट्रपति ने अपने संबोधन में कहा कि एनएसएस (NSS) का लक्ष्य महात्मा गांधी के आदर्शों से प्रेरित है। एक समाज जो महिलाओं को उनकी इच्छा और क्षमता के अनुसार जीवन के हर क्षेत्र में अवसर प्रदान करता है, एक प्रगतिशील समाज कहलाता है।

इसके अलावा कार्यक्रम में शामिल हुए अनुराग ठाकुर ने कहा कि पुरस्कार पाने वालों की संख्या 1/3 महिलाएं है। जो दर्शाती हैं कि महिलाएं राष्ट्र निर्माण में व्यापक भूमिका निभाती हैं। लगभग 40 लाख एनएसएस स्वयंसेवक विभिन्न क्षेत्रों में समाज की सेवा कर रहे हैं।

पिछले दिनों कोविन्द और गुजरात के सीएम की मुलाकात

वहीं पिछले दिनों गुजरात के मुख्यमंत्री का पद संभालने के बाद राष्ट्रीय राजधानी की पहली यात्रा पर आए भूपेंद्र पटेल ने पिछले दिनों राष्ट्रपति राम नाथ कोविन्द और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से मुलाकात की थी। पटेल ने उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू और गृह मंत्री अमित शाह एवं कुछ अन्य केंद्रीय मंत्रियों से भी मुलाकात की है। प्रधानमंत्री कार्यालय ने मोदी-पटेल के बीच हुई मुलाकात की तस्वीर पोस्ट की गई थी।

अमित शाह के साथ मुलाकात के बाद मुख्यमंत्री ने ट्वीट किया, 'माननीय केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह से नई दिल्ली में मुलाकात की। गुजरात को राज्य की बेहतरी के लिए उनका निरंतर मार्गदर्शन और समर्थन का सौभाग्य मिला है।' पटेल ने 13 सितंबर को राज्य के मुख्यमंत्री पद की शपथ ली। उन्होंने विजय रूपाणी की जगह ली है। भाजपा ने उनके साथ ही राज्य के मंत्रिपरिषद में भी नए चेहरों को जगह दी है।

 

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.