दिल्ली : मंडोली जेल में चल रहे रंगदारी रैकेट का क्राइम ब्रांच ने किया भंडाफोड़, तीन लोग गिरफ्तार

क्राइम ब्रांच की स्पेशल इन्वेस्टिगेशन यूनिट ने दिल्ली (मंडोली जेल) की जेल के अंदर से चल रहे रंगदारी रैकेट का भंडाफोड़ करके तीन लोगों को गिरफ्तार किया है। पुलिस को मिली जानकारी के अनुसार यह गिरोह जेल के अंदर फोन पर बिल्डरों और कारोबारियों से रंगदारी वसूल करता था।

TaniskPublish:Mon, 06 Dec 2021 02:23 AM (IST) Updated:Mon, 06 Dec 2021 06:46 AM (IST)
दिल्ली : मंडोली जेल में चल रहे रंगदारी रैकेट का क्राइम ब्रांच ने किया भंडाफोड़, तीन लोग गिरफ्तार
दिल्ली : मंडोली जेल में चल रहे रंगदारी रैकेट का क्राइम ब्रांच ने किया भंडाफोड़, तीन लोग गिरफ्तार

नई दिल्ली, एएनआइ। क्राइम ब्रांच की स्पेशल इन्वेस्टिगेशन यूनिट ने दिल्ली (मंडोली जेल) की जेल के अंदर से चल रहे रंगदारी रैकेट का भंडाफोड़ करके तीन लोगों को गिरफ्तार किया है। इसकी जानकारी रविवार को पुलिस ने दी। पुलिस को मिली जानकारी के अनुसार यह गिरोह जेल के अंदर फोन पर बिल्डरों और कारोबारियों से रंगदारी वसूल करता था। पैसा न मिलने तक इसके गुर्गे बाहर लोगों को धमकाते थे। पुलिस ने राष्ट्रीय राजधानी की मंडोली जेल से अभिषेक मसीह, रोहित और शिब्बू के रूप में पहचाने गए तीन आरोपितों को गिरफ्तार किया है। पूछताछ के दौरान इन आरोपितों ने खुलासा किया कि अभिषेक को उसके मोबाइल फोन पर आकाश (एक हत्या के मामले में मंडोली जेल में बंद) से निर्देश मिलते थे।

पुलिस ने आगे खुलासा किया कि आकाश आरोपित परवीन सभरवाल के सहयोग से जेल से ही रंगदारी का रैकेट चला रहा था। बता दें कि परवीन, नीरज बवाना गिरोह के सदस्य है। वह 1 लाख रुपये इनामी अपराधी है। उसे सितंबर 2020 में स्पेशल सेल द्वारा गिरफ्तार किया गया था और वर्तमान में मंडोली जेल में बंद है। पुलिस ने यह भी बताया कि टीम ने एक इनके पास से एक देसी कट्टा, तीन मोबाइल फोन और एक चोरी की स्कूटी (इंजन और नंबर बदला हुआ) भी बरामद किया है।

बता दें कि बीते हफ्ते गाजियाबाद के लोनी कोतवाली क्षेत्र के एक होटल संचालक से 20 लाख रुपये की रंगदारी मांगने के आरोप में पुलिस ने डीएलएफ अंकुर विहार कालोनी स्थित एक पार्किंग से एक बदमाश के चार साथियों को गिरफ्तार किया था। पूछताछ में इनमें से एक ने मंडोली जेल में बंद बदमाश उमेश पंडित से अपनी पहचान बताई थी। वह उससे मिलने भी जाता था और पवन उर्फ कल्लू की मदद करने को कहा था। कल्लू एक लाख का इनामी बदमाश है।