top menutop menutop menu

Nirbhaya case: 30 जनवरी को तिहाड़ आएगा जल्लाद पवन, एक फरवरी सुबह 6 बजे लगेगी फांसी

Nirbhaya case: 30 जनवरी को तिहाड़ आएगा जल्लाद पवन, एक फरवरी सुबह 6 बजे लगेगी फांसी
Publish Date:Wed, 22 Jan 2020 12:29 PM (IST) Author: JP Yadav

नई दिल्ली, जागरण संवाददाता। 2012 Delhi Nirbhaya Case : निर्भया मामले में दिल्ली की पटियाला हाउस कोर्ट द्वारा जारी डेथ वारंट के तामील होने में 10 दिन तक वक्त बचा है, ऐसे में तिहाड़ जेल में गतिविधियां बढ़ गई हैं। इस बीच जेल सूत्रों ने बताया कि तिहाड़ जेल-3 में बंद चारों कैदियों की मेडिकल जांच के दौरान विनय ने पेट दर्द की शिकायत की तो वहां मौजूद डॉक्टर सकते में आ गए, क्योंकि इन दिनों खास नजर रखी जा रही है। बहरहाल जांच के बाद उसे दवाई दी गई और पेट दर्द खत्म हो गया। 

मंगलवार को हुई थी चारों दोषियों की मेडिकल जांच

बताया जा रहा है कि मंगलवार सुबह तिहाड़ जेल नंबर-3 में बंद चारों दोषियों मुकेश कुमार सिंह, अक्षय सिंह ठाकुर, विनय कुमार शर्मा और पवन कुमार गुप्ता की मेडिकल जांच कराई गई। इस दौरान विनय ने पेट दर्द की शिकायत की थी। बता दें कि फांसी करीब होने के चलते चारों दोषियों की निगरानी बढ़ाने के साथ उनके स्वास्थ्य को लेकर ध्यान रखा जा रहा है, क्योंकि ज्यादा वजन कम होने पर फांसी में दिक्कत आती है। वहीं, जेल के वरिष्ठ अधिकारी का कहना है कि चारों का स्वास्थ्य सामान्य है।  

डेथ वारंट के मुताबिक, आगामी एक फरवरी को सुबह 6 बजे तिहाड़ जेल में चारों दोषियों अक्षय सिंह ठाकुर, विनय कुमार शर्मा, मुकेश सिंह और पवन कुमार गुप्ता को फांसी दी जाएगी। इसके लिए तिहाड़ जेल प्रशासन तैयारी में जुट चुका है और इसी तैयारी की कड़ी में 30 जनवरी तक जल्लाद भी आ जाएगा।

जल्लाद के आने के बाद शुरू होगी फांसी की अंतिम तैयारी

तिहाड़ जेल प्रशासन के मुताबिक, मेरठ से जल्लाद पवन के आने के बाद फांसी की तैयारी में तेजी आएगी। वहीं, जल्लाद पवन पहले ही कह चुका है कि उसे फांसी का फंदा और फांसी से जुड़ी तैयारी के लिए सिर्फ दो दिन चाहिए, ऐसे में पवन का 30 जनवरी को आना तय माना जा रहा है।

सेमी ओपन जेल में रहेगा पवन

मिली जानकारी के मुताबिक, 30 जनवरी को तिहाड़ जेल आने के बाद जल्लाद पवन जेल में बने फ्लैट में रहेगा। बताया जा रहा है कि तिहाड़ जेल मुख्यालय से महज कुछ दूरी परी पर स्थित सेमी ओपन जेल में बने फ्लैट से तीन कैदियों अन्य जगह भेजा गया है। इसी में जल्लाद पवन कम से कम तीन दिन रहेगा। यहां पर उसके लिए एक बेड, रजाई और बिछाने के लिए गद्दे का इंतजाम किया गया है। जल्लाद पवन खाना तिहाड़ जेल की कैंटीन में खाएगा।

दिल्ली-एनसीआर की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां पर करें क्लिक 

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.