ओमीक्रोन वैरिएंट को लेकर सतर्क है मुंबई, अचानक एयरपोर्ट पहुंची मेयर ने लिया जायजा

देश में कोरोना वायरस के नए वैरिएंट ओमीक्रोन का अभी कोई मामला सामने नहीं आया है लेकिन पूरा देश इसे लेकर अलर्ट मोड में है। केंद्र से लेकर राज्यों तक में चिंता बढ़ गई है। कर्नाटक ने कहा है कि दक्षिण अफ्रीका से लौटे दो लोगों को संक्रमित पाया गया।

Monika MinalPublish:Tue, 30 Nov 2021 05:52 AM (IST) Updated:Tue, 30 Nov 2021 07:22 AM (IST)
ओमीक्रोन वैरिएंट को लेकर सतर्क है मुंबई, अचानक एयरपोर्ट पहुंची मेयर ने लिया जायजा
ओमीक्रोन वैरिएंट को लेकर सतर्क है मुंबई, अचानक एयरपोर्ट पहुंची मेयर ने लिया जायजा

मुंबई, एएनआइ। मुंबई की मेयर किशोरी पेडनेकर ( Mumbai Mayor Kishori Pednekar) मंगलवार सुबह अचानक मुंबई एयरपोर्ट पहुंच गईं। मेयर ने एयरपोर्ट पर कोरोना वायरस के नए वैरिएंट ओमीक्रोन को लेकर किए गए उपायों का जायजा लिया। मेयर पेडनेकर ने कहा, 'अधिकारियों ने मुझे बताया कि हर यात्री का निरीक्षण किया जा रहा है और उन्हें क्वारंटाइन कर रहे हैं। अब तक मुंबई में ओमीक्रोन का कोई मामला नहीं है।'  

बता दें कि देश में कोरोना वायरस के नए वैरिएंट ओमीक्रोन का अभी कोई मामला सामने नहीं आया है, लेकिन केंद्र से लेकर राज्यों तक में चिंता बढ़ गई है। कर्नाटक ने कहा है कि दक्षिण अफ्रीका से लौटे जिन दो लोगों को संक्रमित पाया गया था, उनमें से एक के नमूने में डेल्टा वैरिएंट से अलग तरह का वैरिएंट मिला है। विशेषज्ञों का कहना है कि ओमिक्रोन वैरिएंट चिंताजनक तो है पर खतरनाक नहीं है। केंद्र सरकार के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि देश में अभी तक ओमिक्रोन वैरिएंट का कोई मामला नहीं सामने आया है, लेकिन देश भर में राज्यों ने इससे संभावित खतरे से निपटने के लिए तैयारियां तेज कर दी हैं। बाहर से आने वाले और संक्रमित पाए गए यात्रियों के नमूनों के जीनोमिक विश्लेषण के काम में तेजी लाई गई है।

नियमित अंतरराष्ट्रीय उड़ानें फिर से शुरू करने के लिए हालात पर नजर

नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने राज्य सभा में सोमवार को एक लिखित जवाब में बताया कि नियमित अंतरराष्ट्रीय उड़ानें फिर से शुरू करने के फैसले पर आगे कोई निर्णय लेने के लिए हालात पर नजदीकी नजर रखी जा रही है। दूसरे मंत्रालयों के साथ मिलकर दुनिया भर में बदलती स्थिति की समीक्षा की जा रही है। उन्होंने कहा कि देश के साथ ही दुनिया भर में बड़े पैमाने पर टीकाकरण को देखते हुए ही 15 जुलाई से अंतरराष्ट्रीय उड़ानें शुरू करने का फैसला किया गया था।