केरल में भारी बारिश से तबाही, 22 की मौत, तमिलनाडु में भी बिगड़े हालात, उत्‍तराखंड समेत कई राज्‍यों में अलर्ट, सेनाओं ने संभाला मोर्चा

देश के कई राज्‍यों में भारी बारिश से हालात खराब हो गए हैं। केरल में भारी वर्षा से मरने वालों की संख्या बढ़कर 22 हो गई है। तीनों सेनाओं और एनडीआरएफ ने मोर्चा संभाल लिया है। तमिलनाडु में भी हालात अच्‍छे नहीं हैं। उत्‍तराखंड में भारी बारिश का अलर्ट है...

Krishna Bihari SinghSun, 17 Oct 2021 09:09 PM (IST)
देश के कई राज्‍यों में भारी बारिश से हालात खराब हो गए हैं।

नई दिल्‍ली, एजेंसियां/जेएनएन। देश के कई राज्‍यों में भारी बारिश से हालात खराब हो गए हैं। केरल में भारी वर्षा से बनी बाढ़ की स्थिति और भूस्खलन से मरने वालों की संख्या बढ़कर 22 हो गई है। कोट्टयम के कोट्टिकल इलाके में सबसे ज्यादा लोग मारे गए हैं। मरने वालों में महिलाएं और बच्चे ज्यादा हैं। दर्जनों लोग घायल हैं जबकि करीब एक दर्जन लोग लापता है। बाढ़ प्रभावित इलाकों में सैकड़ों लोग फंसे हुए हैं। सेना के तीनों अंगों के बचाव दल और एनडीआरएफ की टीमें बचाव और राहत अभियान में जुट गई हैं। तमिलनाडु में भी हालात अच्‍छे नहीं हैं। उत्‍तराखंड में भारी बारिश को लेकर अलर्ट जारी हुआ है...

पीएम मोदी ने बात की, शाह बोले- स्थिति पर हमारी नजर 

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने राज्य के मुख्यमंत्री पिनरई विजयन से फोन पर बात की है और हर संभव सहायता का भरोसा दिया है। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कहा है कि केरल की स्थिति पर नजर रखी जा रही है। सहायता में कोई कमी नहीं छोड़ी जाएगी।

कई लापता, भूस्खलन के चलते यातायात प्रभावित

केरल के राजस्व मंत्री के राजन ने बताया है कि कोट्टयम जिले में 12 लोगों के शव बरामद किए गए हैं जबकि इडुक्की जिले में तीन लोगों के शव मिले हैं। पांच लोग लापता भी हैं। इस पर्वतीय जिले में भूस्खलन की कई घटनाएं हुई हैं। इसके चलते कई गांवों का आवागमन भी बाधित हुआ है।

टाली गईं परीक्षाएं

मुख्यमंत्री विजयन ने बताया है कि राज्य में 105 राहत शिविर स्थापित किए गए हैं। जरूरत पड़ने पर इनकी संख्या बढ़ाई जाएगी। राज्य में 18 अक्टूबर से शुरू होने वाली हायर सेकेंड्री की परीक्षाओं को टाल दिया गया है। नई तारीखों की घोषणा बाद में की जाएगी। 

केरल के 11 जिलों में भारी बारिश का अलर्ट

मौसम विभाग ने अरब सागर में बन रहे हवा के कम दबाव के क्षेत्र के मद्देनजर राजधानी तिरुअनंतपुरम सहित केरल के 11 जिलों में भारी वर्षा की आशंका जताई है। इन जिलों में कोट्टयम और इडुक्की भी शामिल हैं। अगर वहां तेज बारिश होती है तो दोनों जिलों में हालात गंभीर हो जाएंगे।

तीन से चार दिन तक भारी बारिश के आसार

कर्नाटक के अंदरूनी इलाकों और दक्षिण तमिलनाडु में भी भारी बारिश के आसार हैं। मौसम विभाग की ओर से जारी अलर्ट के मुताबिक यह स्थिति आने वाले तीन-चार दिन बनी रह सकती है। तटवर्ती इलाकों में मछुआरों को समुद्र में नहीं जाने की चेतावनी दी गई है। मौसम विभाग ने तमिलनाडु के कई जिलों में अगले 24 घंटों तक भारी बारिश जारी रहने की चेतावनी दी है।

उत्‍तराखंड में तीन दिन तक भारी बारिश का अलर्ट

मौसम विभाग ने उत्तराखंड में अगले दो से तीन दिन तक भारी बारिश का अलर्ट जारी किया है। इसे देखते हुए पर्यटकों और श्रद्धालुओं को चारधाम समेत सभी तरह की यात्राएं टालने का सुझाव दिया गया है। यही नहीं एहतियात के तौर पर सोमवार के दिन शैक्षणिक संस्थानों को बंद रखने का फैसला किया गया है।

उत्‍तराखंड सरकार ने खास सतर्कता बरतने के दिए निर्देश

उत्‍तराखंड सरकार ने सूबे के सभी जिलाधिकारियों और पुलिस अधीक्षकों को पूरी सतर्कता बरतने और एसडीआरएफ समेत अन्य विभागों के कर्मचारियों को संवेदनशील स्थानों पर हाई अलर्ट मोड पर रखने के निर्देश दिए हैं। सरकार ने चमोली, उत्तरकाशी और रूद्रप्रयाग जिलों के प्रशासन को खास सतर्कता बरतने को कहा है।

तमिलनाडु में भी अच्‍छे नहीं हालात

दक्षिणी तमिलनाडु में लगातार मूसलाधार बारिश के के कारण तेनकासी जिले के कुट्रालम जलप्रपात और थेनी जिले के चिन्ना सुरुली जलप्रपात के क्षेत्रों में बाढ़ आने की खबर है। वन विभाग के अधिकारी लोगों को रोकने के लिए जलप्रपात क्षेत्रों की घेराबंदी कर रहे हैं।

कई वर्षों का रिकार्ड टूटा 

दक्षिण तमिलनाडु के तिरुनेलवेली, कन्याकुमारी थेनी, डिंडीगुल, मदुरै, रामनाथपुरम, विरुधुनगर, शिवगंगा, थूथुकुडी और तेनकासी में भारी बारिश हो रही है। मौसम विभाग के अनुसार यह बारिश साल 2019 और 2020 की बारिश की तुलना में बहुत अधिक है।

बंगाल में 20 अक्टूबर तक भारी बारिश का अलर्ट

मौसम विज्ञान विभाग का कहना है कि उत्तरी तेलंगाना के ऊपर निम्न दबाव का क्षेत्र बना हुआ है जिससे बंगाल की खाड़ी से तेज दक्षिण-पूर्वी हवा चलने के कारण पश्चिम बंगाल में 20 अक्टूबर तक भारी बारिश के आसार हैं। प्रशासन ने निचले इलाकों में जलभराव और भूस्खलन की चेतावनी जारी की है।

बंगाल में कई जिलों में बाढ़

मौसम विज्ञानियों का कहना है कि बारिश से धान की फसल को नुकसान पहुंच सकता है। पश्चिम बंगाल में हाल ही में आई बारिश के चलते हावड़ा, हुगली और पूर्वी मेदिनीपुर समेत राज्य के दक्षिणी जिलों में बाढ़ आ गई है। कोलकाता समेत राज्य के दक्षिण जिलों और उत्तरी बंगाल के जिलों में भारी बारिश और तेज हवाएं चलने का अलर्ट जारी हुआ है।

दिल्‍ली में भी बारिश का अनुमान

राष्ट्रीय राजधानी में भी रविवार को भारी बारिश हुई जिससे कई स्थानों पर पानी भर गया और यातायात में बाधा आई। मौसम विभाग ने इस असमय बारिश की वजह पश्चिमी विक्षोभ को बताया है। मौसम विभाग के मुताबिक दिल्‍ली एनसीआर में सोमवार को बादल छाए रहेंगे और हल्की बारिश के साथ छींटे पड़ने का अनुमान है।

भीगा अनाज, किसानों को नुकसान

रविवार को हुई बारिश के चलते यूपी, हरियाणा समेत कई राज्यों में मंडियों में रखा धान भीग गया। यही नहीं तेज हवाएं चलने के कारण खेतों में खड़ी फसल गिर गई। इससे किसानों को भारी नुकसान हुआ है। बारिश के चलते कपास की फसल के टिंडे गल रहे हैं और फूल भी काफी प्रभावित हुआ है। मूंग और ग्‍वार की फसल को भी नुकसान हुआ है।

हरियाणा में 19 अक्टूबर तक बारिश के आसार

हिसार स्थित चौधरी चरण सिंह हरियाणा कृषि विश्र्वविद्यालय के कृषि मौसम विज्ञान विभाग के अध्यक्ष डा. मदन खिचड़ का कहना है कि बंगाल की खाड़ी में बने एक कम दबाव के चलते हरियाणा में 18 और 19 अक्टूबर को भी बारिश के आसार हैं। इस बारिश से फसलों भारी नुकसान होगा।

बारिश और हिमपात से शीतलहर की चपेट में हिमाचल

हिमाचल में हिमपात और बारिश के चलते अधिकतम तापमान तीन से 10 डिग्री तक गिर गया है। रोहतांग, बारालाचा, शिंकुला सहित अन्य चोटियों पर हिमपात होने से ठंड बढ़ गई है। मनाली-लेह, मनाली-काजा मार्ग और दारचा-शिंकुला-पदुम सड़क यातायात के लिए बंद हो गई है। सोमवार को प्रदेश के 10 जिलों में आंधी चलने के साथ भारी बारिश का आरेंज अलर्ट जारी किया गया है।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.
You have used all of your free pageviews.
Please subscribe to access more content.
Dismiss
Please register to access this content.
To continue viewing the content you love, please sign in or create a new account
Dismiss
You must subscribe to access this content.
To continue viewing the content you love, please choose one of our subscriptions today.