दिल्ली

उत्तर प्रदेश

पंजाब

बिहार

उत्तराखंड

हरियाणा

झारखण्ड

राजस्थान

जम्मू-कश्मीर

हिमाचल प्रदेश

पश्चिम बंगाल

ओडिशा

महाराष्ट्र

गुजरात

Lockdown : दिल्‍ली में मेट्रो भी बंद, उत्‍तराखंड में प्रवेश के लिए RT-PCR रिपोर्ट अनिवार्य; जानें अन्‍य राज्‍यों का हाल

भारत में पिछले 24 घंटे में कोरोना वायरस के 3,66,161 नए मामले

उत्तर प्रदेश दिल्ली हरियाणा महाराष्ट्र समेत देश के कम से कम 26 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों ने कोरोना संक्रमण की चेन को तोड़ने के लिए लाकडाउन कर्फ्यू और लॉकडाउन जैसी सख्त पाबंदियां लगाई भी हैं। महाराष्ट्र में पांच अप्रैल से 15 मई तक सख्त पाबंदियां।

TilakrajMon, 10 May 2021 11:11 AM (IST)

नई दिल्‍ली, जेएनएन। कोरोना वायरस संक्रमण पर लगाम लगाने के लिए देश के कई राज्‍यों में लॉकडाउन, कर्फ्यू और कड़े प्रतिबंध लगाए गए हैं। दिल्‍ली, यूपी समेत कई राज्‍यों में प्रतिबंध 17 मई तक के लिए बढ़ा दिए गए हैं। कई राज्‍यों में प्रवेश करने के लिए कोरोना की नेगेटिव रिपोर्ट अनिवार्य कर दी गई है। बता दें कि देश में बीते 24 घंटों में कोरोना वायरस संक्रमण के 3,66,161 नए मामले सामने आए हैं और इस दौरान 3754 लोगों की मौत हुई। देश में कुल पॉजिटिव मामलों की संख्या 2,26,62,575 हो गई है।

दिल्ली में लॉकडाउन हुआ और सख्त

दिल्‍ली में कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए लॉकडाउन और सख्‍त कर दिया गया है। दिल्‍ली में 10 मई से 16 मई तक के लिए मेट्रो का परिचालन बंद कर दिया गया है। वहीं, सार्वजनिक स्थल, मैरिज होम, बैंक्वेट हाल या होटल आदि में शादी पर प्रतिबंध लगा दिया गया है, लेकिन घर या कोर्ट में शादी हो सकेगी। जिसमें मात्र 20 लोग शामिल होंगे।

उत्‍तराखंड में प्रवेश के लिए RT-PCR रिपोर्ट अनिवार्य

उत्‍तराखंड सरकार ने अब राज्य में सोमवार से 18 मई की सुबह छह बजे तक प्रथम चरण में सख्त कोविड कर्फ्यू लगाने का निर्णय लिया है। इस दौरान फल-सब्जी, मांस-मछली व दूध की दुकानें सुबह सात से 10 बजे तक खुलेंगी। परचून की दुकानों के मामले में सोमवार को एक बजे तक खुला रखने का निर्णय लिया गया है। इसके बाद ये दुकानें 14 मई को सुबह सात से 12 बजे तक खुलेंगी। दूसरे राज्यों से उत्तराखंड आने वालों के लिए स्मार्ट सिटी पोर्टल में पंजीकरण और 72 घंटे पहले तक की आरटीपीसीआर की निगेटिव रिपोर्ट अनिवार्य की गई है। अंतरराज्यीय व अंतर जिला परिवहन में सार्वजनिक वाहन 50 फीसद क्षमता के साथ चलेंगे।

उत्‍तर प्रदेश में बढ़ाया गया कोरोना कर्फ्यू

कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए प्रदेश में आंशिक कोरोना कर्फ्यू को 17 मई तक के लिए बढ़ाया गया है। हालांकि, उत्तर प्रदेश में कोरोना कर्फ्यू के दौरान वाराणसी के फल और सब्जी मंडी में लोगों को काफी भीड़ देखने को मिली। इस दौरान लोग सामाजिक दूरी के नियमों का उल्लंघन करते दिखे।

आज से तमिलनाडु में दो सप्ताह का कंप्लीट लॉकडाउन किया गया है। राज्‍य में तेजी से कोरोना संक्रमण के मामले बढ़ रहे हैं, ऐसे में सरकार को ये निर्णय लेना पड़ा। हालांकि, इस दौरान जरूरी सामान की दुकाने खुली रहेंगी। बेंलगुरु में भी आज से 14 दिनों का लॉकडाउन रहेगा। उत्तर प्रदेश, दिल्ली, हरियाणा, महाराष्ट्र समेत देश के कम से कम 26 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों ने कोरोना संक्रमण की चेन को तोड़ने के लिए लाकडाउन, कर्फ्यू और लॉकडाउन जैसी सख्त पाबंदियां लगाई भी हैं। जम्‍मू-कश्‍मीर में भी महामारी की गंभीरता को देखते हुए 'कोरोना कर्फ्यू' 17 मई तक के लिए बढ़ा दिया गया है।

इन-इन राज्‍यों में लॉकडाउन/कर्फ्यू

कर्नाटक में 10-24 मई तक लाकडाउन जैसी पाबंदियां। महाराष्ट्र में पांच अप्रैल से 15 मई तक सख्त पाबंदियां। गोवा में नौ मई से 15 दिनों का कर्फ्यू। केरल में आठ से 16 मई तक संपूर्ण लाकडाउन। आंध्र प्रदेश में छह मई से दो हफ्ते के लिए दोपहर 12 बजे से शाम छह बजे तक आंशिक लॉकडाउन। तेलंगाना में 15 मई तक रात का कर्फ्यू। मिजोरम में 10-17 मई तक पूर्ण लाकडाउन। मणिपुर के सात जिलों में आठ से 17 मई तक कर्फ्यू। हिमाचल प्रदेश में सात से 16 मई तक लाकडाउन। बिहार में चार मई से 15 मई तक लाकडाउन लागू। ओडिशा में पांच मई से 14 दिनों का लाकडाउन। झारखंड में 13 मई तक लाकडाउन जैसी पाबंदियां। छत्तीसगढ़ ने 15 मई तक वीकेंड लाकडाउन। पंजाब में 15 मई तक वीकेंड लाकडाउन और रात का कर्फ्यू। मध्य प्रदेश में 15 मई तक जनता क‌र्फ्यू। गुजरात के 36 शहरों में 12 मई तक रात आठ बजे से सुबह छह बजे तक कर्फ्यू।

बता दें कि भारत में पिछले 24 घंटे में कोरोना वायरस (COVID19) के 3,66,161 नए मामले आने के बाद कुल पॉजिटिव मामलों की संख्या 2,26,62,575 हुई। 3,754 नई मौतों के बाद कुल मौतों की संख्या 2,46,116 हो गई है। देश में सक्रिय मामलों की कुल संख्या 37,45,237 है और डिस्चार्ज हुए मामलों की कुल संख्या 1,86,71,222 है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.