Coronavirus Lockdown: क्या देश में फिर से लगने वाला है लॉकडाउन? जानें- सच्चाई

कोरोना की इस दूसरी लहर ने देशभर में तबाही मचा दी है। (फाइल फोटो)

कोरोना की इस दूसरी लहर ने देशभर में तबाही मचा दी है। दिल्ली से लेकर महाराष्ट्र तक सरकार की ओर से वीकेंड लॉकडाउन नाइट कर्फ्यू जैसी पाबंदियां लगाई जा रही है। आंशिक तौर पर लॉकडाउन जैसी स्थितियों के बीच लोग एक बार फिर से दहशत में हैं।

Sanjeev TiwariMon, 19 Apr 2021 03:12 PM (IST)

नई दिल्ली, एजेंसी। Coronavirus Lockdown India Update:  कोरोना की इस दूसरी लहर ने देशभर में तबाही मचा दी है। देशभर में कोरोना संक्रमण के मामले बढ़ते जा रहे हैं। कुछ दिनों से लगातार 2 लाख से ज्यादा नए मामले सामने आ रहे हैं। दिल्ली से लेकर महाराष्ट्र तक सरकार की ओर से वीकेंड लॉकडाउन, नाइट कर्फ्यू जैसी पाबंदियां लगाई जा रही है। आंशिक तौर पर लॉकडाउन जैसी स्थितियों के बीच लोग एक बार फिर से दहशत में हैं।

एक तरफ महामारी हर दिन हजारों की लोगों की जान ले रही है तो वहीं दूसरी ओर लोग लॉकडाउन की आहट से डरे हुए हैं। अभी देश में पूर्ण लॉकडाउन नहीं लगाया गया है, लेकिन कई राज्यों में दुकानें खोलने का समय सीमित कर दिया गया है। रिपोर्ट्स के मुताबिक, देश की करीब 57 फीसद कोरोना के कारण लगाई गई पाबंदियों से प्रभावित है। इन तमाम कोशिशों के बावजूद कोरोना के नए मामले बढ़ रहे हैं। तो क्या एक बार फिर से संपूर्ण लॉकडाउन ही विकल्प बचा है?

कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच एक मीडिया वेबसाइट में लॉकडाउन को लेकर रिपोर्ट प्रकाशित हुई है। रिपोर्ट में संभावना जताई गई है कि क्या केंद्र की मोदी सरकार पूरे देश में लॉकडाउन लगाने जा रही है। रिपोर्ट की पहली ही लाइन में कहा गया है कि कोविड 19 के प्रसार को रोकने के लिए केंद्र सरकार देशभर में लॉकडाउन की घोषणा कर सकती है।

वेबसाइट पर रविवार की दोपहर करीब 12 बजे प्रकाशित इस रिपोर्ट का प्रेस इन्फॉर्मेशन ब्यूरो की फैक्ट चेक टीम ने खंडन किया है। रिपोर्ट प्रकाशित होने के करीब साढ़े 8 घंटे बाद #PIBFactCheck ने ट्वीट किया है, एक रिपोर्ट में दावा किया जा रहा है कि कोविड के प्रसार को रोकने के लिए देशभर में सरकार लॉकडाउन लगा सकती है। यह दावा फर्जी है। यानी पीआईबी ने स्पष्ट किया है, फिलहाल देश में लॉकडाउन नहीं लगने जा रहा है।

दिल्‍ली में आज रात 10 बजे से 26 अप्रैल की सुबह 5 बजे तक लॉकडाउन

दिल्ली में कोरोना वायरस के मामलों में हो रही भयावह बढ़ोतरी को देखते हुए केजरीवाल सरकार ने राजधानी में 6 दिनों का लॉकडाउन का ऐलान किया है। यह लॉकडाउन आज रात से 26 अप्रैल की सुबह तक रहेगा। दिल्ली में कोरोना संक्रमण की दर 30 फीसदी तक पहुंच गई है। रविवार को राजधानी में 25462 नए संक्रमित मिले जिसकों देखते हुए सीएम केजरीवाल ने इस लॉकडाउन का ऐलान किया है।

सीएम अरविंद केजरीवाल ने यह फैसला सोमवार सुबह उपराज्यपाल अनिल बैजल से मीटिंग के बाद लिया है। सीएम ने प्रेस कांफ्रेंस में कहा कि आज रात को 10 बजे से अगले सोमवार को सुबह 5 बजे तक 6 दिन के लिए दिल्ली में लॉकडाउन लगाया जा रहा है। इस दौरान आवश्यक सेवाएं जारी रहेंगी, मेडिकल व्यवस्थाओं की, खाने-पीने की सेवाएं जारी रहेंगी। शादियां भी होंगी, पर 50 लोगों के साथ, उसके लिए अलग से पास दिए जाएंगे।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.