Weather Updates: देश के कई इलाकों में आज भी होगी भारी बारिश, चक्रवात गुलाब का असर हैै बाकी; जानें अपने राज्य का हाल

गुजरात महाराष्ट्र के कई इलाकों में आज भी हो सकती है भारी बारिश। चक्रवात गुलाब 26 सितंबर को ओडिशा और आंध्र प्रदेश के तट से टकराया था। तट से टकराने के बाद यह कमजोर पड़ने लगा। लेकिन महाराष्ट्र के तेलंगाना छत्तीसगढ़ मराठवाड़ा और विदर्भ क्षेत्रों में तेज बारिश हुई।

Monika MinalWed, 29 Sep 2021 05:14 AM (IST)
देश के कई इलाकों में आज भी होगी भारी बारिश, चक्रवात 'गुलाब' का असर हैै बाकी

नई दिल्ली, एजेंसी। पूर्वी तट और मध्य भारत में तेज बारिश के बाद मंगलवार को चक्रवात गुलाब के कमजोर होने से कम दबाव का क्षेत्र बन गया है। भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने बुधवार को भी विदर्भ के पश्चिमी हिस्सों पर कम दबाव के क्षेत्र के साथ गुजरात, उत्तरी कोंकण, उत्तर-मध्य महाराष्ट्र और मराठवाड़ा में तेज बारिश का पूर्वानुमान व्यक्त किया है। IMD ने मंगलवार को कहा था कि उत्तर ओडिशा के कुछ जगहों पर 30 सितंबर तक भारी बारिश हो सकती है।

मध्यप्रदेश के इन जिलों में भारी बारिश की संभावना

बंगाल की खाड़ी से आगे बढ़ा चक्रवात 'गुलाब' कमजोर पड़ गया है। बुधवार को यह और कमजोर होकर अरब सागर की ओर बढ़ सकता है। मौसम वैज्ञानिकों के अनुसार इसके प्रभाव से इंदौर, उज्जैन संभाग के जिलों में कहीं-कहीं बारिश होने की संभावना है। हालांकि चक्रवाती तूफान गहरा कम दबाव के क्षेत्र में तब्दील होकर पश्चिमी महाराष्ट्र में सक्रिय है। इस सिस्टम के बुधवार को अरब सागर के गुजरात तट में पहले से हवा के ऊपरी भाग के रूप में बने चक्रवात से मिलकर पुन: शक्तिशाली होने की संभावना है। उत्तरी कोंकण से लेकर तटीय आंध्र प्रदेश तक पूर्व-पश्चिम ट्रफ बना हुआ है। इन तीन सिस्टम के सक्रिय रहने से बुधवार को इंदौर, उज्जैन संभागों के जिलों में बारिश होने की संभावना है।

बता दें कि चक्रवात 'गुलाब' 26 सितंबर को ओडिशा और आंध्र प्रदेश के तट से टकराया था। तट से टकराने के बाद यह कमजोर पड़ने लगा। लेकिन महाराष्ट्र के तेलंगाना, छत्तीसगढ़, मराठवाड़ा और विदर्भ क्षेत्रों में तेज बारिश हुई।

पश्चिमी तट पर तेज हो सकता है गुलाब'

IMD के अनुसार पश्चिमी तट पर गुलाब के पहुंचने से इसके फिर तेज होने की संभावना है। IMD के चक्रवात चेतावनी प्रभाग ने कहा है कि दक्षिण-पश्चिम विदर्भ और पड़ोस पर बना दबाव पश्चिम-उत्तर-पश्चिम की ओर बढ़ गया है। अगले 24 घंटों के दौरान इसके उत्तर-पश्चिम की ओर बढ़ने और धीरे-धीरे कमजोर होने की संभावना है। चक्रवात चेतावनी प्रभाग ने कहा कि 30 सितंबर के आसपास यह पूर्वोत्तर अरब सागर और उससे सटे गुजरात तट पर पहुंच जाएगा। बुधवार को पूर्वोत्तर अरब सागर में इसके और तेज होने की संभावना है। आशंका है कि अरब सागर में पहुंचते ही यह सिस्टम तेज होकर चक्रवात में तब्दील हो सकता है।

तेलंगाना का हाल

तेलंगाना और इससे जुड़े मराठवाड़ा और विदर्भ पर बने डिप्रेशन के अब पश्चिमी दिशा की ओर बढ़ने की संभावना है। हैदराबाद मौसम विभाग केंद्र के प्रमुख डाक्टर के नागरत्न ने मंगलवार देर रात यह अनुमान बताया था। उन्होंने इसके कमजोर होने की संभावना भी व्यक्त की थी।

गुजरात, महाराष्ट्र में भारी बारिश के आसार

गुजरात में मौसम विभाग की सूरत में भारी बारिश की भविष्यवाणी के बाद उकाई डैम से पानी छोड़ा गया। महाराष्ट्र में भारी बारिश की वजह से गोदावरी नदी ख़तरे के निशान से ऊपर बह रही है जिसकी ​वजह से नासिक में कई इलाके जलमग्न हो गए हैं।

मध्य महाराष्ट्र में भारी बारिश से 10 मरे

मुंबई सहित राज्य के कई हिस्सों में गुलाब तूफान का असर दिखाई दे रहा है। यवतमाल में बस बह जाने से तीन यात्रियों की मौत हो गई और ड्राइवर के लापता होने की खबर है। गुलाब तूफान का असर मुंबई सहित महाराष्ट्र के अन्य हिस्सों में दिखाई दे रहा है। दूसरी ओर मराठवाड़ा में लगातार हो रही तेज बारिश के कारण पिछले 48 घंटों में 10 लोग मारे गए एवं 200 से ज्यादा पशु बह गए। यवतमाल में एक बस बह जाने से तीन यात्रियों  की मौत हो गई, जबकि बस का ड्राइवर लापता है। मौसम विभाग ने अगले 24 घंटे ऐसी ही बारिश होने की आशंका जताई है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.