65 साल के पति संग रहने के लिए 26 वर्षीय महिला ने मांगी पुलिस से मदद

इंदौर, नईदुनिया। 65 वर्षीय पति के साथ रहने के लिए 26 वर्षीय महिला सुरक्षाकर्मी ने पुलिस से मदद मांगी है। चार साल पहले वृद्ध ने पहली पत्नी की मौत होने का हवाला दिया और दूसरी को बुआ बताकर महिला सुरक्षाकर्मी के साथ मंदिर में शादी कर ली थी। कुछ दिन बाद वो घर से रुपए और जेवर लेकर भाग गया। पीड़िता ने थाने में शिकायत की, तो समझौता कर साथ रहने लगा। डेढ़ माह पहले उसे झांसा देकर वह फिर फरार हो गया। ऐसा अनोखा मामला महिला थाना पुलिस के पास पहुंचा।

नौलखा स्थित कमला नगर निवासी वंशिका ठाकुर (26) ने पुलिस को बताया कि वह एमवाय अस्पताल में सुरक्षाकर्मी है। करीब साढ़े चार साल पहले उसकी भास्कर सोनी (65) निवासी बाबू मुराई कॉलोनी (एरोड्रम रोड) से मुलाकात हुई थी। भास्कर ने खुद को पीडब्ल्यूडी विभाग में पदस्थ होना बताया था। भास्कर उस समय बेटे बंटी के लिए रिश्ता तलाश रहा था। बेटे से शादी कराने के लिए वह अपने घर ले गया था, लेकिन बेटे की उम्र कम होने से उसने शादी के लिए मना कर दिया था।

रात होने से उस दिन वह भास्कर के घर रुक गई थी। तब पता चला कि उसकी पहली पत्नी की मौत हो चुकी है। वह बुआ और बेटी के साथ रहता था। इसके 15 दिन बाद भास्कर ने खजराना मंदिर में उससे शादी कर ली। वकील के जरिए कलेक्टोरेट में भी शादी की लिखा-पढ़ी हो गई। शादी के बाद उसने बताया था कि उसकी 20 हजार रुपए तनख्वाह है। वह पीडब्ल्यूडी विभाग में बिजली सुधारने का काम करता है। इसी सिलसिले में वह एमवायएच आता रहता था। शादी के एक हफ्ते बाद जब वह भास्कर के घर गई तो पता चला कि जिसे वह बुआ बता रहा है, वह उसकी दूसरी पत्नी है।

दूसरी युवती को भी लाया था शादी के लिए
दस माह पहले आरोपित घर से रुपए, एटीएम कार्ड, उसका ड्यूटी कार्ड, शादी का प्रमाण पत्र लेकर गायब हो गया। उसने एरोड्रम थाने पर शिकायत की। पुलिस ने उसे बुलाया तो वह समझौता कर साथ रहने लगा। यह भी पता चला है कि भास्कर जिसे बेटी बता रहा था उसे भी शादी करने के लिए साथ में लेकर आया था। नशे में 15 दिन पहले उसके साथ अश्लील हरकत की, जिससे वह घर छोड़कर भाग गई। डेढ़ महीने पहले भास्कर उसे छोड़कर फिर भाग गया। इसके बाद वह महिला थाने में शिकायत करने पहुंची। पुलिस ने सुरक्षाकर्मी के पति को थाने बुलाया तो वह गिड़गिड़ाने लगा। समझौता करने की गुहार लगाने लगा। पुलिस ने शनिवार को पीड़िता के कोर्ट में बयान करवाए हैं। 18 दिसंबर को कोर्ट में दोबारा मामले की सुनवाई होगी।

घरेलू हिंसा का केस पीड़िता अपने पति के साथ रहना चाहती है। उसे पति के खिलाफ कार्रवाई करने से मना कर दिया था। इस वजह से घरेलू हिंसा का केस कोर्ट में पेश किया गया है। - अनिता देअरवाल, टीआई महिला थाना

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.