IAF प्रमुख आरकेएस भदौरिया ने लड़ाकू विमान में भरी अपनी अंतिम उड़ान, 30 सितंबर को हो जाएंगे रिटायर

भदौरिया 30 सितंबर को वायुसेना प्रमुख के रूप में अपना दो साल का कार्यकाल पूरा करेंगे और सेवानिवृत्त हो जाएंगे। IAF ने कहानिवर्तमान एयर चीफ मार्शल आरकेएस भदौरिया ने 13 सितंबर को 23 स्क्वाड्रन हलवारा में वायु सेना प्रमुख के रूप में एक लड़ाकू विमान में अपनी अंतिम उड़ान भरी।

Nitin AroraSat, 25 Sep 2021 02:17 PM (IST)
IAF प्रमुख आरकेएस भदौरिया ने लड़ाकू विमान में भरी अपनी अंतिम उड़ान, 30 सितंबर हो जाएंगे रिटायर

नई दिल्ली, एजेंसी। भारतीय वायु सेना (IAF) के प्रमुख आरकेएस भदौरिया आने वाले कुछ दिनों में रिटायर हो रहे हैं। वहीं, भारतीय एयरफोर्स (IAF)ने जानकारी दी कि 13 सितंबर को वायु सेना प्रमुख के रूप में उन्होंने(भदौरिया) लड़ाकू विमान में अपनी अंतिम उड़ान भरी। इसका मतलब 13 सितंबर के बाद और अब रिटायर होने तक उनके किसी और लड़ाकू विमान में उड़ान भरने की कोई संभावना नहीं है।

भदौरिया 30 सितंबर को वायुसेना प्रमुख के रूप में अपना दो साल का कार्यकाल पूरा करेंगे और सेवानिवृत्त हो जाएंगे। IAF ने कहा, 'निवर्तमान एयर चीफ मार्शल आरकेएस भदौरिया ने 13 सितंबर को 23 स्क्वाड्रन, हलवारा में वायु सेना प्रमुख के रूप में एक लड़ाकू विमान में अपनी अंतिम उड़ान भरी। उनका उड़ान करियर उसी 'पैंथर्स' स्क्वाड  के साथ MIG-21 की उड़ान के शुरू हुआ था और फिर उसी एयरबेस पर और उसी स्क्वाड्रन के साथ ही समाप्त हुआ है।'

भदौरिया की आखिरी उड़ान वायु सेना में बड़े पैमाने पर फेरबदल के बीच हुई है क्योंकि शुक्रवार को नए उप प्रमुख और दो कमांडर-इन-चीफ की घोषणा की गई थी।

एयर मार्शल संदीप सिंह को वायुसेना का नया उप प्रमुख नियुक्त किया गया। सिंह वर्तमान एयर मार्शल वीआर चौधरी का स्थान लेंगे जो 30 सितंबर को अगले IAF प्रमुख के रूप में कार्यभार संभालेंगे।

नए बदलाव वर्तमान एयर चीफ मार्शल आरकेएस भदौरिया के सेवानिवृत्त होने के मद्देनजर किए गए हैं, जो 30 सितंबर को अपना दो साल का कार्यकाल पूरा करेंगे। वर्तमान पश्चिमी वायु कमान के प्रमुख एयर मार्शल बलभद्र राधा कृष्ण को अब चीफ आफ स्टाफ कमेटी के अध्यक्ष के लिए एकीकृत रक्षा स्टाफ (CISC) का नया प्रमुख नियुक्त किया गया है। वह पिछले लगभग छह वर्षों में CISC के रूप में कार्यभार संभालने वाले पहले IAF अधिकारी होंगे, जो चीफ आफ डिफेंस स्टाफ के अधीन काम करने वाले सभी त्रि-सेवा मामलों में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं।

पश्चिमी वायु कमान में, कृष्णा की जगह एयर मार्शल अमित देव को नए कमांडर के रूप में नियुक्त किया जाएगा। देव पहले से ही पूर्वी वायु कमान के प्रमुख के रूप में कार्यरत हैं। उनका दिल्ली में नए कार्यालय में लगभग छह महीने का कार्यकाल होगा। पूर्वी, दक्षिण-पश्चिमी और दक्षिणी कमानों में नियुक्तियों की घोषणा की जानी बाकी है और जल्द ही आदेश जारी होने की उम्मीद है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.