मुझे विश्‍वास है 130 करोड़ देशवासी देश को दोबारा ऊंचाई पर ले जाने के लिए काम करेंगे- पीएम मोदी

पीएम मोदी ने सिलसिलेवार कई ट्वीट कर भारतवासियों पर अपना भरोसा जताया है। उन्‍होंने अपने ट्वीट में ओलंपिक पदक जीतने वाली पीवी सिंधु की भी प्रशंसा की है। साथ ही महिला और पुरुष हॉकी टीम के बेहतर प्रदर्शन को सराहा है।

Kamal VermaMon, 02 Aug 2021 02:34 PM (IST)
देश को नई ऊचाइयों पर ले जाने के लिए सभी मिलकर करेंगे काम

नई दिल्‍ली (एएनआई)। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा है कि वो इस बात को लेकर पूरी तरह से आशांवित हैं कि 130 करोड़ भारतीय देश को नई ऊंचाईयों पर ले जाने के लिए कड़ी मेहनत करना जारी रखेंगे। उन्‍होंने ये बात अमृत महोत्‍सव (Amrut Mahotsava) के मौके पर कही है। इस बारे में किए गए अपने कुछ ट्वीट में उन्‍होंने कहा है कि देश में रिकॉर्ड वैक्‍सीनेशन, अधिक जीएसटी कलेक्‍शन और ओलंपिक में भारत का शानदार प्रदर्शन भविष्‍य के लिए नई उम्‍मीद जगाता है।

अपने एक ट्वीट में पीएम मोदी ने लिखा है कि अगस्‍त के आते ही भारत में अमृत महोत्‍सव की शुरुआत हुई है। इस दौरान हम सभी ने कई सारी ऐसी चीजें होते हुए देखी हैं जिन्‍होंने हर भारतीय का सीना गर्व से चौड़ा कर दिया है। हर भारतीय खुश है। इस दौरान भारत में वैक्‍सीन की रिकॉर्ड खुराक दी गई है और जीएसटी का लगतार बढ़ता कलेक्‍शन बता रहा है कि देश की अर्थव्‍यवस्‍था फिर गति पकड़ रही है।

पीएम मोदी ने अपने ट्वीट में ये भी कहा है कि ओलंपिक में केवल पीवी सिंधु ही पदक जीतने की दावेदार नहीं थी बल्कि इस ओलंपिक में पुरुष और महिला हॉकी टीम ने भी अपना सर्वश्रेष्‍ठ प्रदर्शन किया है। दोनों ही टीमों का ये प्रदर्शन ऐतिहासिक है। उन्‍होंने कहा है कि वो इस बात को लेकर पूरी तरह आशावादी है कि भारत का हर देशवासी इस देश को ऊंचाई पर ले जाने के लिए कड़ी मेहनत करेगा। 

आपको बता दें कि करीब पांच दशकों के बाद भारत की पुरुष और महिला हॉकी टीम ओलंपिक के सेमीफाइनल तक पहुंची है। ये काफी बड़ी बात है। अब सभी को इन दोनों ही टीमों से पदक लाने की उम्‍मीद भी काफी बढ़ गई है। भारत की बात करें तो इस ओलंपिक में लगातार खिलाड़ी बेहतर प्रदर्शन कर रहे हैं। 

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.