नहीं रहे पूर्व केंद्रीय मंत्री जसवंत सिंह, प्रधानमंत्री-रक्षा मंत्री राजनाथ समेत कई नेताओं ने जताया शोक

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जसवंत सिंह के निधन की जानकारी दी।
Publish Date:Sun, 27 Sep 2020 09:18 AM (IST) Author: Shashank Pandey

नई दिल्ली, एजेंसियां। देश के पूर्व रक्षा मंत्री जसवंत सिंह(Jaswant Singh) का आज निधन हो गया। वह 82 साल के थे। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर इसकी जानकारी दी। पीएम मोदी ने ट्वीट में लिखा- 'जसवंत सिंह जी ने पहले एक सैनिक, फिर राजनीति में सक्रियता के जरिए हमारे देश की लगन से सेवा की।  अटल बिहारी वाजपेयी जी की सरकार में उन्होंने कई अहम मंत्रालय संभाले और वित्त, रक्षा व विदेश क्षेत्र में अपनी गहरी छाप छोड़ी। पीएम मोदी ने कहा कि  उनके निधन से दुखी हूं।

जसवंत सिंह लंबे समय से बीमार चल रहे थे। साल 2014 में घर में बाथरूम में गिरने के कारण जसवंत सिंह के सिर में गंभीर चोट आई थी जिसके बाद से वो कोमा में थे। जसवंत सिंह एनडीए की अटल बिहारी वाजपेयी की सरकार में केंद्रीय मंत्री रहे थे। वाजपेयी जी की सरकार में जसवंत सिंह ने विदेश, रक्षा और वित्त जैसे बड़े मंत्रालय का काम संभाला।

पूर्व रक्षा मंत्री जसवंत सिंह का जन्म 3 जनवरी सन् 1938 को राजस्थान के बाड़मेर जिले के एक गांव में हुआ था। शुरुआती जीवन में वह सेना में भी रहे। साल 1957 से लेकर 1966 तक जसवंत भारतीय सेना में रहे। इसके बाद वे राजनीति में आ गए। हालांकि यहां उन्हें शुरुआत में ज्यादा सफलता नहीं मिली। 80 के दशक में उन्हें राज्यसभा के लिए चुना गया।

राष्ट्रपति कोविंद ने जताया दुख

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने भी जसवंत सिंह के निधन पर दुख जताते हुए ट्वीट किया- वयोवृद्ध सैनिक, उत्कृष्ट सांसद, असाधारण नेता और बौद्धिक श्री जसवंत सिंह का निधन चिंताजनक है। उन्होंने कई कठिन भूमिकाओं को सहजता और समानता के साथ जोड़ा। उनके परिवार और दोस्तों के प्रति मेरी हार्दिक संवेदना।

अमित शाह, राजनाथ ने जताया शोक

जसवंत सिंह के निधन पर गृह मंत्री अमित शाह ने भी शोक जताया है। उन्होंने ट्वीट कर कहा-  देश के वरिष्ठ राजनेता एवं अटल जी की कैबिनेट में मंत्री रहे जसवंत सिंह जी का निधन दुःखद है और देश के लिए एक अपूरणीय क्षति है। सरकार व संगठन में विभिन्न पदों पर रहते हुए उन्होंने अपनी कर्तव्यनिष्ठा से एक गहरी छाप छोड़ी है। मैं उनके परिजनों के प्रति संवेदना व्यक्त करता हूं। ॐ शांति।

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने भी जसवंत सिंह के निधन पर शोक जताया। उन्होंने ट्वीट कर लिखा- अनुभवी भाजपा नेता और पूर्व मंत्री श्री जसवंत सिंह जी के निधन से गहरा दुख हुआ। उन्होंने रक्षा मंत्रालय के प्रभारी सहित कई क्षमताओं में देश की सेवा की। उन्होंने खुद को एक प्रभावी मंत्री और सांसद के रूप में प्रतिष्ठित किया।

भाजपा नेता राम माधव ने भी जसवंत सिंह के निधन पर शोक जताया है। उन्होंने ट्वीट कर लिखा- श्री जसवंत सिंह एक विद्वान नेता थे, जो महान ऐश्वर्य, सत्यनिष्ठा और विश्वसनीयता के थे। वाजपेयी सरकार में विदेश मंत्री रक्षा मंत्री के रूप में खुद के लिए एक पहटान बनाई। एक शानदार अतीत युग के एक और गतिरोध का अंत। मानवेंद्र एवं परिवार के प्रति मेरी हार्दिक संवेदना।

पूर्व रक्षा मंत्री एके एंटनी ने भी पूर्व केंद्रीय मंत्री जसवंतसिंह को याद करते हुए उन्‍हें श्रद्धांजलि दी। एंटनी ने कहा, देश ने देखा है, वह सबसे सफल रक्षा मंत्रियों में से एक थे। उनकी सैन्य पृष्ठभूमि ने उन्हें हमारी राष्ट्रीय सुरक्षा को मजबूत करने और सशस्त्र बलों को आधुनिक बनाने में मदद की थी। 

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.