top menutop menutop menu

Video : केरल में बाढ़ के हालात, भूस्खलन में मरने वालों की संख्या 43 हुई, भारी बारिश रेड अलर्ट

Video : केरल में बाढ़ के हालात, भूस्खलन में मरने वालों की संख्या 43 हुई, भारी बारिश रेड अलर्ट
Publish Date:Mon, 10 Aug 2020 06:04 AM (IST) Author: Krishna Bihari Singh

कोच्चि, पीटीआइ। आशंका के अनुरूप केरल के कई हिस्सों में भारी बारिश रविवार को भी जारी रही। इसके कारण राज्य के निचले इलाकों में बाढ़ की स्थिति पैदा हो गई। इस बीच इडुक्की भूस्खलन में 17 और लोगों की मौत के साथ हादसे में मरने वालों का आंकड़ा 43 हो गया है। मौसम विभाग ने कासरगोड, कन्नूर, वायनाड, कोझिकोड, मलप्पुरम व अलप्पुझा जिलों में भारी बारिश की आशंका जताई है। आइएमडी ने रेड अलर्ट जारी करते हुए इन जिलों में 24 घंटे के भीतर 20 सेंटीमीटर बारिश का अनुमान लगाया है। हालांकि उम्मीद है कि मंगलवार तक बारिश की रफ्तार धीमी हो जाएगी।

बांधों के खोले जाने से बिगड़े हालात

राजामाला के करीब पेट्टीमुडी में हुए भूस्खलन में दबे लोगों को बाहर निकालने के लिए अभियान जारी रहा। रविवार को 17 और लोगों के शव निकाले गए। खास बात यह रही कि भारी बारिश के बावजूद एनडीआरएफ और दमकल विभाग ने राहत व बचाव कार्य जारी रखा। भारी बारिश और विभिन्न बांधों के खोले जाने से मध्य केरल की नदियों का जल स्तर बढ़ गया है जिससे बाढ़ की स्थिति गंभीर हो गई है। कोट्टयम जिले के मनारकाड इलाके में बाढ़ में एक टैक्सी चालक बह गया। उसका शव बरामद कर लिया गया है।

बिहार में भी बाढ़ से मुश्किलें

देश के अन्‍य राज्‍यों में भी बाढ़ से हालात खराब हैं। बिहार में बाढ़ से 87 हजार और लोग प्रभावित हुए हैं जिसके साथ राज्य में बाढ़ प्रभावित लोगों की संख्या करीब 74 लाख हो गई है। राज्‍य के 16 जिलों के 125 प्रखंडों के 1232 पंचायत क्षेत्रों में बाढ़ का असर है। बाढ़ प्रभावित इलाकों से अभी तक 5.08 लाख लोगों को बचाया गया है। मौसम विभाग की मानें तो ओडिशा के अधिकतर स्थानों पर कम दबाव के क्षेत्र के कारण अगले पांच दिनों तक भारी बारिश हो सकती है। राज्य सरकार ने जिला प्रशासन को अलर्ट जारी किया है।

महाराष्‍ट्र में भारी बारिश का अलर्ट

मौसम विभाग ने सोमवार को महाराष्ट्र के कई हिस्से में भारी से ज्‍यादा भारी बारिश की चेतावनी जारी की है। पश्चिम घाट के कुछ स्थानों पर बहुत भारी बारिश हो सकती है। मौसम विभाग की मानें तो मुंबई और पश्चिमी तट के अन्य स्थानों पर 50 से 60 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चल सकती हैं। जम्मू-कश्मीर, लद्दाख, हरियाणा, चंडीगढ़, दिल्ली, पूर्वी यूपी, पश्चिमी राजस्थान, पश्चिमी मध्य प्रदेश, विदर्भ, बिहार, पश्चिम बंगाल, सिक्किम, अरुणाचल प्रदेश, असम, मेघालय, नगालैंड, मणिपुर, मिजोरम, त्रिपुरा, कोंकण, गोवा, तटीय आंध्रप्रदेश में भारी बारिश की संभावना है।  

 यह भी देखें: NDRF टीम ने 16 शव निकाले, अब तक 43 लोगों की गई जान

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.