top menutop menutop menu

नीलाम होगा नीरव मोदी का खजाना- मशहूर पेंटिंग्स, लग्जरी गाड़ियां और कीमती घड़ियां बेचेगी ED

नई दिल्ली, प्रेट्र। भगोड़े कारोबारी नीरव मोदी (Nirav Modi) की जब्त संपत्तियों को प्रवर्तन निदेशालय (ED) नीलाम (Auction) करने जा रहा है। इनमें कलाकृतियां, कीमती घडि़यां, हैंडबैग और कारें शामिल हैं।

ईडी की ओर से इन संपत्तियों की बिक्री के लिए मुंबई स्थित अंतरराष्ट्रीय स्तर के सैफरॉनआर्ट नीलामघर का चयन किया गया है। पहली बिक्री 27 फरवरी को सजीव नीलामी के जरिये होगी, जबकि दूसरी बिक्री तीन-चार मार्च को ऑनलाइन नीलामी के जरिये की जाएगी।

क्या-क्या होगा निलाम?

नीलाम होने वाली वस्तुओं में प्रमुख आधुनिक और समकालीन भारतीय कलाकारों की 15 कलाकृतियां शामिल हैं। मसलन, अमृता शेरगिल का 1935 का एक मास्टरपीस जिसकी पहले कभी नीलामी नहीं की गई है और इसकी अनुमानित कीमत 12-18 करोड़ रुपये हैं, एमएफ हुसैन की महाभारत श्रृंखला की प्रमुख ऑयल पेंटिंग की अनुमानित कीमत भी 12-18 करोड़ रुपये है, वीएस गायतोंडे की 1972 में बनाई पेंटिंग की अनुमानित कीमत सात-नौ करोड़ रुपये है और मंजीत बावा द्वारा सुर्ख लाल रंग से उकेरे गए भगवान कृष्ण के चित्र की अनुमानित कीमत तीन-पांच करोड़ रुपये है। नीलामी में लिमिटेड एडिशन वॉच और 80 से ज्यादा ब्रांडेड हैंडबैग भी शामिल हैं। इसमें निरव मोदी की दो कारें पोर्श पनामरा और रॉल्य रॉयस गोस्ट भी नीलाम की जाएंगी। 

नीलामी में कई लक्जरी आइटम भी शामिल

सैफरॉनआर्ट नीलामघर के सीईओ दिनेश वाजिरानी के कहा, हम प्रत्येक आइटम का मूल्यांकन करने के लिए ईडी के साथ काम कर रहे हैं और दो दिन होने वाली नीलामी के लिए कैटलॉग तैयार किया जा रहा है। जिसमें अमृता शेरगिल, एमएफ हुसैन और वीएस गायतोंडे की कलाकृतियों को एक विशिष्ट पंक्ति में शामिल किया गया है। उन्होंने कहा कि नीलामियों में लक्जरी वस्तुएं भी शामिल हैं, जैसे कि जैगर लेकोल्ट्रे की घड़ियां, और बिर्किन और केली के हैंडबैग है। यह अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर सबसे लोकप्रिय लक्जरी वस्तुओं में से एक हैं और मशहूर हस्तियों और संग्राहकों की पसंद है।

लंदन की जेल में बंद है नीरव मोदी

गौरतलब है कि नीरव मोदी पंजाब नैशनल बैंक घोटाले का मुख्य आरोपी है। फर्जीवाड़ा और मनी-लॉन्डरिंग केस में नीरव मोदी लंदन की जेल में बंद है। उसके ऊपर भारत प्रत्यर्पण की तलवार लटक रही है। सीबीआई और ईडी जैसी एजेंसियां उसे भारत लाने का प्रयास कर रही हैं। 

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.