मप्र के डॉक्टर की जान बचाने एयर एंबुलेंस से ले गए हैदराबाद, कोरोना मरीजों के इलाज के दौरान हो गए संक्रमित

कोरोना मरीजों का इलाज करते-करते गंभीर संक्रमित हो गए।

मप्र के डॉक्टर सतेंद्र मिश्रा की हालत स्थिर बनी हुई है। उन्हें हैदराबाद के यशोदा अस्पताल में भर्ती किया गया है। जरूरत होने पर उनके फेफड़े भी ट्रांसप्लांट किए जा सकते हैं। कोरोना मरीजों का इलाज करते-करते गंभीर संक्रमित हो गए।

Bhupendra SinghTue, 20 Apr 2021 02:22 AM (IST)

भोपाल, राज्य ब्यूरो। कोरोना मरीजों का इलाज करते हुए गंभीर रूप से संक्रमित हुए मध्य प्रदेश के सागर स्थित बुंदेलखंड मेडिकल कॉलेज (बीएमसी) के डॉक्टर सतेंद्र मिश्रा को बेहतर इलाज के लिए एयर एंबुलेंस से हैदराबाद भेजा गया है। हैदराबाद के विशेषज्ञ डॉक्टर्स की एक टीम उनके इलाज के लिए सागर पहुंची थी।

संक्रमण गंभीर के चलते डॉक्टर मिश्रा को बेहतर इलाज के लिए हैदराबाद भेजा गया

जांच और परीक्षण के बाद डॉक्टर्स ने पाया कि संक्रमण गंभीर है, इसलिए डॉ. मिश्रा को हैदराबाद ले जाना तय किया गया। उन्हें सागर से भोपाल सड़क मार्ग से और फिर वायु मार्ग से हैदराबाद ले जाया गया। इसके लिए सागर जिला प्रशासन ने सागर से राजधानी भोपाल स्थित एयरपोर्ट तक 175 किलोमीटर का ग्रीन कॉरीडोर बनाया ताकि एंबुलेंस को रास्ते में कहीं जाम का सामना न करना पड़े।

डॉक्टर मिश्रा की हालत स्थिर, हैदराबाद के यशोदा अस्पताल में भर्ती

फिलहाल डॉक्टर मिश्रा की हालत स्थिर बनी हुई है। उन्हें हैदराबाद के यशोदा अस्पताल में भर्ती किया गया है। जरूरत होने पर उनके फेफड़े भी ट्रांसप्लांट किए जा सकते हैं। डॉ. मिश्रा के भाई जन्मेजय मिश्रा भी उनके साथ हैदराबाद गए हैं।

मुख्यमंत्री ने तत्काल दिलवाई अनुमति

डॉ. मिश्रा के गंभीर रूप से संक्रमित होने पर बीएमसी के डॉ. उमेश पटेल ने इंटरनेट मीडिया पर लोगों से उनके बेहतर इलाज व लंग्स ट्रांसप्लांट कराने में मदद करने की अपील की थी। यह मैसेज वायरल होने के बाद सागर विधायक शैलेंद्र जैन ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को मामले से अवगत करवाया। मुख्यमंत्री ने तत्काल सभी अनुमतियां देते हुए हैदराबाद के डॉक्टरों की टीम को सागर बुलाकर इलाज शुरू करवाया।

हैदराबाद से आई विशेषज्ञों की टीम

हैदराबाद के डॉक्टरों की विशेष टीम रविवार देर रात सागर पहुंची। डॉ. अपार जिंदल व लंग्स ट्रांसप्लांट यूनिट हैदराबाद की टीम ने डॉ. सतेंद्र मिश्रा का गहन स्वास्थ्य परीक्षण कर कुछ जांचें की। इंफेक्शन अधिक होने के कारण टीम डॉ. मिश्रा को सुबह 5 बजे सागर से भोपाल और 8 बजे भोपाल से हैदराबाद लेकर रवाना हो गई। बता दें कि डॉ. अपार ¨जदल देश के बड़े डॉक्टरों में शामिल हैं और उनका अस्पताल सभी आधुनिक सुविधाओं से सुसज्जित पलमोनरी सेंटर है, जहां लंग्स ट्रांसप्लांट होते हैं।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.