Cyclone Tauktae Updates : कमजोर पड़ रहा टाक्टे तूफान, अहमदाबाद समेत कई क्षेत्रों में बारिश की संभावना

सोमवार देर रात गुजरात तट से टकराया टाक्टे

Cyclone Tauktae Updates अत्यंत गंभीर तूफान की श्रेणी में आ चुके टाक्टे के कारण सैकड़ों घर क्षतिग्रस्त होने के साथ कई जगह पेड़ उखड़ने और बिजली के खंभे गिरने से संचार सेवाएं व बिजली आपूर्ति लड़खड़ा गई।

Neel RajputTue, 18 May 2021 08:00 AM (IST)

नई दिल्ली, एएनआइ। दो दिन तबाही मचाने के बाद चक्रवाती तूफान टाक्टे अब कमजोर पड़ने लगा है। बीते दो दिनों में यह तूफान केरल, कर्नाटक, गोवा और महाराष्ट्र में काफी तांडव मचा चुका है। इसके बाद कल देर रात यह गुजरात के तट से टकराया इस दौरान 185 किमा से लेकर 190 किमी प्रतिघंटा की रफ्तार से हवाएं चलती रहीं। इस तूफान के कारण देश के विभिन्न हिस्सों में 16 लोगों की मौत हो गई है।

मंगलवार को चक्रवात कमजोर हो गया है और देश का सबसे बड़ा निजी बंदरगाह फिर से खोल दिया गया। वहीं, अधिकारियों का कहना है कि सड़कों को साफ करना COVID-19 से अभिभूत अस्पतालों को ऑक्सीजन की निरंतर आपूर्ति सुनिश्चित करना हमारी प्राथमिकता है।

भारतीय मौसम विभाग ने कहा कि चक्रवात जिसे 'अत्यंत गंभीर' तूफान की श्रेणी में रखा गया था, वह कमजोर होकर 'बहुत गंभीर' तूफान में बदल गया है। अगले कुछ घंटों में तीव्रता में और कमी आने की संभावना है।

मौसम विभाग, अहमदाबाद के प्रभारी निदेशक मनोरमा मोहंती ने कहा, 'अभी यह भीषण चक्रवाती तूफान है, जो एक घंटे में चक्रवाती तूफान में बदल जाएगा। यह अहमदाबाद से 50-60 किमी पश्चिम में जाएगा। हवा की गति 45-55 किमी/घंटा से 65 किमी/घंटा होगी। अहमदाबाद और कुछ अन्य जिलों में भारी बारिश की संभावना है।'

आधिकारिक सूत्रों के मुताबिक, केंद्रीय मंत्री अमित शाह ने गुजरात, महाराष्ट्र और राजस्थान के मुख्यमंत्रियों से बात की और चक्रवाती तूफान टाक्टे के कारण हुए लैंडफॉल के बाद स्थिति के बारे में जायजा लिया।

गुजरात में तीन लोगों की मौत, 16500 झोपड़ियां क्षतिग्रस्त

गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी मे बताया कि राज्य में चक्रवाती तूफान के कारण तीन लोगों की मौत हो गई है। वहीं, तेज हवाओं से लगभग 40,000 पेड़ उखड़ गए हैं और 16,500 झोपड़ियां प्रभावित हुई हैं।

नौसेना ने बार्ज से एक व्यक्ति तो बचाया

भारतीय नौसेना ने बार्ज P305 से एक व्यक्ति को बचाया, जो मुंबई के पास अरब सागर में चक्रवात टाक्टे के कारण में बह गया था। 

शाह ने प्रभावित राज्यों के मुख्यमंत्रियों से की बात

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने चक्रवात प्रभावित राज्यों-राजस्थान, महाराष्ट्र और गुजरात के मुख्यमंत्रियों और केंद्र शासित प्रदेश दादरा और नागर हवेली के अधिकारियों से स्थिति के बारे में बात की और केंद्र से आवश्यक मदद का आश्वासन दिया।

नौसेना ने चक्रवाती तूफान टाक्टे के कारण समुद्र में फंसे 132 लोगों को बचाया

अरब सागर से उठे चक्रवाती तूफान के कारण समुद्र में दो बड़ी नावों में फंसे 410 लोगों में से 132 को बचा लिया गया है। सोमवार को नौसेना ने इन लोगों को बचाने का अभियान शुरू किया था, जो रातभर चला। नौसेना के जहाज आइएनएस कोच्चि और आइएनएस कोलकाता इस काम में जुटे हैं।

यूपी-हरियाणा और राजस्थान में बारिश के आसार

मौसम विभाग ने कहा है कि अगले 2 घंटों के दौरान यूपी, हरियाणा और राजस्थान के कुछ हिस्सों और आसपास के इलाकों में हल्की से मध्यम तीव्रता की बारिश होगी।

महाराष्ट्र में छह लोगों की मौत

कल तूफान के कारण महाराष्ट्र में स्थिति काफी बिगड़ गई थी। यहां मंबुई, ठाणे, रायगढ़ और दुर्ग में भारी बारिश और तेज हवाओं की वजह से जनजीवन काफी अस्व्यस्त रहा। अत्यंत गंभीर तूफान की श्रेणी में आ चुके टाक्टे के कारण सैकड़ों घर क्षतिग्रस्त होने के साथ कई जगह पेड़ उखड़ने और बिजली के खंभे गिरने से संचार सेवाएं व बिजली आपूर्ति लड़खड़ा गई। इस तूफान की वजह से महाराष्ट्र में कम से कम छह लोगों की मौत हो गई है। इसके अलावा दौरान दो नावों के डूब जाने की खबर है। वहीं, दोनों नौकाओं पर सात नाविक सवार थे। इनमें से तीन को बचा लिया गया जबकि एक व्यक्ति की मौत हो गई। तीन नाविक लापता हैं। नवी मुंबई एवं उल्हासनगर में भी अलग-अलग घटनाओं में दो लोग मारे गए हैं। इसके अलावा दो अलग-अलग घटनाओं में तूफान के कारण तीन लोगों की मौत हो गई है। रायगढ़ जिले में 1,886 घरों को आंशिक क्षति पहुंचने और छह घर पूरी तरह नष्ट होने की खबर है। रायगढ़, सिंधुदुर्ग एवं ठाणे के अलावा उत्तर महाराष्ट्र के जलगांव जिले में भी दो लोगों के मारे जाने की खबर है। 

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.