Covid-19 Vaccination: देश में टीकाकरण की बढ़ रही रफ्तार, पीएम के बाद उपराष्ट्रपति ने भी लगवाई वैक्सीन

निजी अस्पतालों में कोरोना वैक्सीन की प्रत्येक खुराक के लिए 250 रुपये देने होंगे।

CoWIN Registration Vaccination Phase 2 कोरोना टीकाकरण के लिए खासकर तैयार किए गए डिजिटल प्लेटफार्म को-विन2.0 पर एक नया फीचर जोड़ा गया है जिसमें 20 गंभीर तरह की बीमारियों की विस्तृत जानकारी दी गई है। सुबह 9 बजे से दोपहर तीन बजे तक ही रजिस्ट्रेशन होगा।

Manish PandeyMon, 01 Mar 2021 09:47 AM (IST)

 नई दिल्ली, एजेंसी। भारत में कोरोना महामारी के खिलाफ जारी लड़ाई अब एक कदम और आगे बढ़ गई है। सोमवार से आम जनता के लिए कोरोना टीकाकरण की शुरूआत हो गई है। इसके लिए 60 साल से ज्यादा और 45 साल से अधिक उम्र के गंभीर रोगों से ग्रस्त लोग पात्र होंगे। टीकाकरण के लिए को-विन 2.0 पोर्टल और आरोग्य सेतु पर अपना रजिस्ट्रेशन करवाना होगा। इसके लिए निजी अस्पतालों में प्रत्येक खुराक के लिए 250 रुपये देने होंगे। जबकि सरकारी अस्पतालों में मुफ्त में टीका लगेगा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, बिहार के सीएम नीतीश कुमार और ओडिशा के सीएम नवीन पटनायक ने कोरोना की वैक्सीन ली है।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक कोई भी व्यक्ति किसी भी केंद्र पर कोरोना का टीका लगवा सकता है। रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया सुबह 9 बजे से शुरू हुई है। मंत्रालय के अनुसार, अगर कोई व्यक्ति पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन नहीं करा पाता है तो वह सीधे टीकाकरण केंद्र पर जाकर भी अपना रजिस्ट्रेशन करा सकता है।  इसके लिए आपको आधार कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस, वोटर पहचान पत्र, पैन कार्ड, बैंक या पोस्ट ऑफिस की फोटोयुक्त पासबुक समेत सरकार से अप्रूव किए गए 12 पहचान पत्र में से कोई भी दिखा सकते हैं।

Covid-19 Vaccination Updates:

उपराष्ट्रपति ने लगवाई वैक्सीन

पीएम मोदी के बाद उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू ने भी वैक्सीन लगवाई। उन्होंने कहा, 'आज मैने चेन्नई के गवर्नमेंट मेडिकल कॉलेज में कोविड वैक्सीन की पहली खुराक ली। अगली खुराक 28 दिन बाद लगाई जाएगी। टीकाकरण के इस चरण के पात्र सभी नागरिकों से अपील करता हूं कोरोना वायरस के विरुद्ध अभियान में आगे बढ़ कर शामिल हों और टीका लगवाएं।

नीतीश कुमार, नवीन पटनायक ने लगवाई वैक्सीन

बीहार के सीएम नीतीश कुमार और ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने कोरोना वायरस वैक्सीन की पहली डोज़ ली है। वहीं, राज्यसभा में विपक्ष के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने वैक्सीन लगवाने के सवाल पर कहा कि मेरी उम्र 70 साल से ऊपर है। आपको इसे उन युवाओं को देना चाहिए, जिनके पास लंबा जीवन है। मेरे पास जीने के लिए 10-15 और साल हैं।

दिल्ली में 300 सेंटर्स

दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि दिल्ली में आज से वरिष्ठ नागरिकों, 45 वर्ष से अधिक उम्र के कोमोरबिड लोगों का वैक्सीनेशन शुरू हुआ है। 192 अस्पतालों में वैक्सीनेशन के लिए करीब 300 सेंटर बनाए गए हैं। हफ़्ते में 6 दिन वैक्सीनेशन किया जा रहा है। सरकारी अस्पतालों में वैक्सीनेशन मुफ़्त है।

मुंबई और भोपाल में लग रहा टीका

मुंबई के बीकेसी जंबो कोविड सेंटर पर 60 वर्ष से अधिक और 45 वर्ष से अधिक उम्र के कोमोरबिडिटी वाले लोगों को कोरोना वायरस की वैक्सीन लगाई जा रही है। समय सुबह 9 बजे से शाम 5 बजे तक टीकाकरण का समय है। इसके तहत आज 2500 लोगों को टीका लगाने की तैयारी है। वहीं, मध्य प्रदेश में भी 60 वर्ष से अधिक आयु के लोगों और 45 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों के लिए राष्ट्रव्यापी टीकाकरण अभियान शुरू हो गया है।

पीएम मोदी ने लगवाया टीका

दूसरी तरफ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एम्स में कोरोना वाक्सीन की पहली डोज ली है। पीएम ने उन सभी लोगों से टीका लगवाने की अपील की, जो इसके योग्य हैं। पीएम ने ट्वीट किया, 'मैंने एम्स में कोविड-19 टीके की पहली खुराक ली। कोविड-19 के खिलाफ वैश्विक लड़ाई में हमारे डॉक्टरों और वैज्ञानिकों ने बहुत कम समय में असाधारण काम किया है। उन्होंने कहा कि हम सब मिलकर भारत को कोरोना से मुक्त बनाएंगे।'

को-विन पर टीका केंद्रों का पूर्व पंजीकरण जरूरी

स्वास्थ्य मंत्रालय ने को-विन2.0 को लेकर दिशानिर्देश जारी किया है। इसमें कहा गया है कि आम लोगों के लिए पंजीकरण शुरू होने से पहले सभी राज्य और जिला प्रशासन के लिए को-विन2.0 पोर्टल पर अपने यहां के कोरोना टीकाकरण केंद्रों (सीवीसी) का पंजीकरण कराना जरूरी है, ताकि लाभार्थियों की इनके बारे में जानकारी मिल सके। इसमें यह भी कहा गया है कि राज्य और केंद्र शासित प्रदेश उपलब्ध टीके के मुताबिक, लाभार्थियों की संख्या तय कर सकते हैं।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.