ओमिक्रोन के खतरे को देख केंद्र ने छह राज्‍यों को लिखा पत्र, कोरोना के बढ़ते मामलों पर चिंता जताई, दिए ये निर्देश

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने शनिवार को छह राज्‍यों को पत्र लिखकर कोरोना के मामलों पर आगाह किया है। साथ ही संक्रमण की रोकथाम के लिए जरूरी कदम उठाने के निर्देश दिए हैं। जानें केंद्र सरकार ने राज्‍यों से क्‍या कहा है...

Krishna Bihari SinghSat, 04 Dec 2021 06:55 PM (IST)
देश में कोरोना के नए वैरिएंट ओमिक्रोन के सामने आने के बाद सरकार हरकत में आ गई है।

नई दिल्‍ली, पीटीआइ। देश में कोरोना के नए वैरिएंट ओमिक्रोन के सामने आने के बाद सरकार हरकत में आ गई है। केंद्र सरकार इस मसले पर राज्‍यों से लगातार संपर्क बनाए हुए है और मामलों पर करीबी नजर रख रही है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने शनिवार को छह राज्‍यों को पत्र लिखकर कोरोना के मामलों पर आगाह किया है। साथ ही संक्रमण की रोकथाम के लिए जरूरी कदम उठाने के निर्देश दिए हैं। केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव ने चिट्ठी लिखकर इन राज्‍यों में कोरोना के बढ़ते मामलों पर चिंता जताई है।  

ज्‍यादा टीकाकरण करने के निर्देश

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने तमिलनाडु, कर्नाटक, केरल, ओडिशा, मिजोरम और जम्मू-कश्मीर, को पत्र लिखकर कोरोना के बढ़ते मामलों को काबू करने के लिए टेस्टिंग, ट्रैकिंग और ट्रीटमेंट के साथ साथ ज्‍यादा से ज्‍यादा टीकाकरण करने के निर्देश दिए हैं। यही नहीं राज्‍यों को उपयुक्त कोविड व्यवहार अपनाने को सुनिश्चित करने के लिए जरूरी कदम उठाने को कहा है। सरकार ने इन राज्‍यों के कुछ जिलों में संक्रमण के बढ़ते मामलों, साप्ताहिक संक्रमण दर और मृत्यु के बढ़ते मामलों को देखते हुए यह दिशा-निर्देश दिए हैं।

अंतरराष्ट्रीय यात्रियों पर कड़ी नजर रखने को कहा

कोरोना के ओमिक्रोन वैरिएंट के खतरे को देखते हुए केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने शनिवार को सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को 27 नवंबर को लिखे पत्र का हवाला देते हुए कहा कि पहले ही सलाह दी जा चुकी है कि सभी राज्‍य अंतरराष्ट्रीय यात्रियों पर कड़ी नजर रखें और कोरोना के उभरते नए हाटस्पाट क्षेत्रों पर नजर बनाए रखें। साथ ही संक्रमित यात्रियों के संपर्क में आए लोगों का तुरंत पता लगाएं। संक्रमित अंतरराष्‍ट्रीय यात्रियों के नमूनों को जीनोम सिक्वेंसिंग के लिए भेजने के लिए भी कहा जा चुका है।

स्वास्थ्य ढांचे की तैयारियों की समीक्षा करने को कहा

यही नहीं कोरोना के मामलों की तुरंत पहचान करने और स्वास्थ्य ढांचे की तैयारियों की समीक्षा करने के निर्देश भी दिए गए हैं। केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने कर्नाटक के प्रधान सचिव (स्वास्थ्य) को लिखे पत्र में कहा कि राज्‍य में तीन दिसंबर तक एक महीने के भीतर कोरोना के 8073 नए केस सामने आए हैं। राज्य में साप्ताहिक नए मामलों में भी बढ़ोतरी दर्ज की गई है। साथ ही राज्‍य में साप्ताहिक मौतों की संख्या में भी बढ़ोतरी हुई है और यह 22 से बढ़कर 29 हो गई है।

केरल में संभल नहीं रहे हालात 

केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव की ओर से पत्र में बताया गया है कि केरल में तीन दिसंबर तक एक महीने में कोरोना के 1,71,521 नए केस आए जो पिछले महीने देश में नए मामलों का 55.8 फीसद है। जम्मू-कश्मीर में तीन दिसंबर तक 4806 नए मामले सामने आए। बारामूला, कठुआ, जम्मू, गांदेरबल में पिछले हफ्ते की तुलना में कोरोना के नए केस में बढ़ोतरी हुई है। इस अवधि के दौरान तमिलनाडु में 23,764, ओडिशा में 7445 और मिजोरम में 12,562 नए मामले सामने आए हैं।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.