टीकाकरण में भाजपा शासित राज्यों का प्रदर्शन बेहतर, कांग्रेस व उसके सहयोगी शासित राज्यों ने बढ़ाई चिंता

टीकाकरण के आंकड़ों को देखें तो कांग्रेस व उसके सहयोगी दलों द्वारा शासित छह राज्यों में से राजस्थान अधिकतम 84.2 फीसद वयस्क जनसंख्या को पहली डोज देने में सफल रहा है जबकि दूसरी डोज 46.9 आबादी को दी गई है।

Dhyanendra Singh ChauhanMon, 29 Nov 2021 05:22 PM (IST)
हरियाणा में लगी 90.04 फीसद को पहली डोज

जागरण ब्यूरो, नई दिल्ली। कोरोना का नया ओमिक्रोन वैरिएंट आने के बाद टीके की बूस्टर डोज की बढ़ रही मांग के बीच कांग्रेस व उसके सहयोगी शासित राज्यों में टीकाकरण की कम दर ने चिंता बढ़ा दी है। कांग्रेस व उसके सहयोगी शासित कोई राज्य अब तक अपनी वयस्क जनसंख्या के 90 फीसद को पहली डोज और 50 फीसद जनसंख्या को दोनों डोज का आंकड़ा नहीं छू पाया है। वहीं भाजपा शासित राज्यों ने टीकाकरण अभियान में बेहतर प्रदर्शन किया है। यह सवाल इसलिए उठना शुरू हुआ है, क्योंकि कांग्रेस नेताओं की ओर से यह संकेत दिया जा रहा है कि वे कोरोना को मुद्दा बना सकते हैं।

टीकाकरण के आंकड़ों को देखें तो कांग्रेस व उसके सहयोगी दलों द्वारा शासित छह राज्यों में से राजस्थान अधिकतम 84.2 फीसद वयस्क जनसंख्या को पहली डोज देने में सफल रहा है, जबकि दूसरी डोज 46.9 आबादी को दी गई है। छत्तीसगढ़ में पहली डोज 83.2 फीसद वयस्क जनसंख्या को लगी है। झारखंड में पहली डोज 66.2 फीसद और दूसरी डोज 30.8 फीसद, पंजाब में पहली डोज 72.5 फीसद और दूसरी डोज 32.8 फीसद, तमिलनाडु में पहली डोज 78.1 फीसद और दूसरी डोज 42.65 फीसद तथा महाराष्ट्र में पहली डोज 80.11 फीसद और दूसरी डोज 42.5 फीसद वयस्क आबादी को ही लग पाई है। तृणमूल कांग्रेस शासित बंगाल में भी पहली डोज और दूसरी डोज का फीसद 86.6 और 39.4 फीसद है।

कांग्रेस या उसके सहयोगी शासित राज्यों में टीकाककर का हाल

राज्य             पहला डोज             दूसरा डोज

झारखंड          62.2%                 30.8%

पंजाब             72.5 %                32.8%

तमिलनाडु        78.1%                42.65%

महाराष्ट्र            80.11%               42.5%

छत्तीसगढ़        83.2%                 47.2%

राजस्थान         84.2%                 46 .9%

पश्चिम बंगाल    86.6%                  39. 4%

भाजपा शासित राज्यों में टीकाकरण का हाल

राज्य                    पहला डोज           दूसरा डोज

हिमाचल प्रदेश           100%                91.9%

गोवा                         100%                87.9%

गुजरात                      93.5%               70.3%

उत्तराखंड                   93.0%              61.1%

मध्य प्रदेश                  92.8%              62.9%

कर्नाटक                     90.9%              59.1%

हरियाणा                     90.04%           48.3%

असम                        88.9%               50%

त्रिपुरा                         80.5%              63.5%

उत्तराखंड में 93 फीसद को लगी पहली डोज

इसके विपरीत भाजपा शासित राज्यों को देखें तो सात राज्य 90 फीसद से अधिक वयस्क जनसंख्या को वैक्सीन की पहली डोज और आठ राज्य 50 फीसद से अधिक जनसंख्या को दोनों डोज लगा चुके हैं। इनमें हिमाचल प्रदेश ने शत फीसद वयस्क जनसंख्या को पहली डोज और 91.9 फीसद को दोनों डोज लगा दी है। गोवा में शत फीसद वयस्क जनसंख्या को पहली डोज और 87.9 फीसद को दूसरी डोज, गुजरात में 93.5 फीसद को पहली डोज और 70.3 फीसद को दोनों डोज, उत्तराखंड में 93 फीसद को पहली डोज और 61.7 फीसद को दोनों डोज, मध्य प्रदेश में 92.8 फीसद को पहली डोज और 62.9 फीसद को दोनों डोज, कर्नाटक में 90.9 फीसद को पहली डोज और 59.1 फीसद को दोनों डोज लगाई जा चुकी है। हरियाणा में 90.04 फीसद को पहली डोज और 48.3 को दोनों डोज लगाई जा चुकी है। असम और त्रिपुरा पहली डोज के मामले में तो 90 फीसद तक नहीं पहुंच पाए हैं, लेकिन दोनों डोज देने के मामले में 50 फीसद की सीमा पार कर चुके हैं।

बता दें कि देश में अब तक कोरोना टीकों की 123 करोड़ से अधिक (1,23,15,90,156) खुराकें दी जा चुकी हैं। यह जानकारी भारत सरकार के covin.gov.in से ली गई है। कोविन के आंकड़ों के अनुसार सोमवार शाम 5: 30 बजे तक 71,66,393 डोज लगाई जा चुकी हैं।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.