Bharat Bandh Updates: राकेश टिकैत का दावा- सफल रहा भारत बंद, आगे की रणनीति बनाएगा संयुक्त किसान मोर्चा

Bharat Bandh Updates तीन कृषि कानूनों के विरोध में किसानों ने आज भारत बंद का आह्वान किया। बंद के दौरान एक किसान की सिंघु बार्डर पर मौत भी हो गई। किसान सुबह छह बजे से धरने पर रहे। किसानों का भारत बंद शाम चार बजे तक का था।

Shashank PandeyMon, 27 Sep 2021 07:47 AM (IST)
गाजीपुर बार्डर पर किसानों का भारत बंद पर विरोध प्रदर्शन। (फोटो: PTI)

नई दिल्ली, एजेंसियां। आज किसानों का भारत बंद है। भारत बंद को लेकर दिल्ली से सटी सीमाओं, पंजाब, बिहार समेत देश के कई राज्यों में किसान प्रदर्शन कर रहे। भारत बंद को किसानों के अलावा कई राजनीति दलों और सामाजिक संगठनों का समर्थन है। तीनों कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों के आंदोलन का नेतृत्व करने वाले 40 से अधिक किसान संगठनों के निकाय संयुक्त किसान मोर्चा ने आज भारत बंद का आह्वान किया है। अनेक सामाजिक संगठनों और राजनैतिक दलों ने भारत बंद का समर्थन किया है।

इस दौरान दिल्ली से सटी सीमाओं जैसे-गाजीपुर, सिंघु, शंभू बार्डर पर किसान विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं। कई जगहों पर रोड जाम किया गया है। इसकी वजह से ट्रैफिक डायवर्ट भी किया गया है। इसके अलावा कई राज्यों में भी विरोध प्रदर्शन हो रहे हैं।

किसान इस दौरान इंमरजेसी सेवा को छोड़कर सभी चीजों को बंद करेंगे। भारत बंद को लेकर ये तय किया गया है कि इस दौरान किसान रास्तों और हाईवे पर धरना देंगे। सरकारी दफ्तरों के सामने प्रदर्शन होगा। भारत बंद की वजह से दिल्ली में कई रास्तों का बंद किया गया है तो कई जगह रूट डायवर्ट किया गय़ा है।

Bharat Bandh Updates:

क्या बोले टिकैत

भारतीय किसान यूनियन के प्रवक्ता राकेश टिकैत ने कहा है कि भारत बंद पूर्ण रूप से सफल रहा। आगे की रणनीति संयुक्त किसान मोर्चा बनाएगा। वे बोले, 'हमारा 'भारत बंद' सफल रहा। हमें किसानों का पूरा समर्थन मिला... हम सब कुछ सील नहीं कर सकते क्योंकि हमें लोगों की आवाजाही को सुविधाजनक बनाना है। हम सरकार से बातचीत के लिए तैयार हैं, लेकिन कोई बातचीत नहीं हो रही है।'

उन्होंने आगे कहा, 'उन्होंने (योगी आदित्यनाथ) ने घोषणापत्र में गन्ने का मूल्य बढ़ाकर 375-450 रुपये करने का वादा किया था, फिर भी उन्होंने केवल 25 रुपये ही बढ़ाए। उन्हें हुए नुकसान का हिसाब देना चाहिए। सरकार पूरी तरह से फेल हो चुकी है। एमएसपी दरों पर नहीं बिक रही फसलें।'

सिंघु बार्डर पर एक किसान की मौत

किसानों के भारत बंद के दौरान दिल्ली-हरियाणा के सिंघु बार्डर पर एक किसान की मौत हो गई है। हालांकि, दिल्ली पुलिस का कहना है कि किसान की मौत हार्ट अटैक की वजह से हुई है।

दिल्ली कांग्रेस प्रमुख को गुस्साए किसानों ने लौटाया

गाजीपुर सीमा पर कुछ आंदोलनकारी किसानों ने दिल्ली कांग्रेस प्रमुख अनिल चौधरी को उनके विरोध स्थल से जाने के लिए कहा। वह उनके साथ शामिल होने आए थे। किसान संगठनों ने तीन कृषि कानूनों को लेकर आज भारत बंद का आह्वान किया है।

इसके बाद भाकियू के नेता प्रवीण मलिक ने कहा है कि हमने उनसे कहा कि हम उन्हें बंद के दौरान उनके समर्थन के लिए धन्यवाद देते हैं लेकिन हमारा एक गैर-राजनीतिक विरोध और मंच है। हमने पहले घोषणा की थी कि हम अपने मंच पर राजनीतिक दलों को अनुमति नहीं देंगे। इसलिए हमने उनसे अनुरोध किया कि वे हमारी साइट से थोड़ी दूर पर विरोध करें। हम विरोध नहीं कर रहे।

दिल्ली कांग्रेस अध्यक्ष अनिल चौधरी ने कहा है कि मैं उनकी स्थिति समझ सकता हूं। यह किसानों का मसला है, कांग्रेस सड़कों पर उतरेगी। अगर किसान हमें यहां से जाने को कहेंगे तो हम वापस चले जाएंगे। हम यहां किसानों के लिए आए हैं, कोई राजनीतिक एजेंडा नहीं है।

केरल में प्रदर्शनकारियों ने बनाई मानव श्रृंखला

केरल में इंडियन नेशनल ट्रेड यूनियन कांग्रेस, सेंटर ऑफ इंडियन ट्रेड यूनियन और ऑल इंडिया ट्रेड यूनियन कांग्रेस सहित कई ट्रेड यूनियनों के प्रदर्शनकारियों ने तीनों कृषि कानूनों के खिलाफ आज भारत बंद के आह्वान का समर्थन करने के लिए कोच्चि में एक मानव श्रृंखला बनाई।

कर्नाटक में भारत बंद का समर्थन

कर्नाटक में कई संगठनों ने कृषि कानूनों के खिलाफ आज भारत बंद का समर्थन करने के लिए बेंगलुरु टाउन हॉल क्षेत्र से मैसूर बैंक सर्कल तक रैली की।

- दिल्ली डीसीपी स्पेशल सेल इंगित प्रताप सिंह ने कहा है कि भारत बंद को देखते हुए हमने रजोकरी बार्डर (दिल्ली-गुरुग्राम) पर बैरिकेडिंग कर दी। जिससे इस सेक्शन पर ट्रैफिक जाम हो गया। अब, स्थिति सामान्य है और हमने बैरिकेड्स को ढीला कर दिया है और यातायात सुचारू है।

तमिलनाडु में प्रदर्शनकारी हिरासत में

तमिलनाडु में कृषि कानूनों के खिलाफ आंदोलन कर रहे प्रदर्शनकारियों ने आज किसान संगठनों द्वारा बुलाए गए भारत बंद के समर्थन में चेन्नई के अन्ना सलाई इलाके में पुलिस बैरिकेड्स तोड़ दिए। प्रदर्शनकारियों को पुलिस ने हिरासत में ले लिया है। माकपा राज्य सचिव के बालकृष्णन ने कहा है कि किसान लगातार विरोध कर रहे हैं और मोदी सरकार कानूनों को वापस लेने से इनकार कर रही है। संघर्ष जारी रहेगा और तेज होगा।

किसानों ने किया रेलवे ट्रैक और हाईवे जाम, कई ट्रेनें रद

किसानों ने सोमवार को भारत बंद किया। इसका असर भी सामने आने लगा है। किसानों ने कई जगहों पर रेलवे ट्रैक जाम कर दिया। हाईवे को भी जाम कर दिया गया। पंजाब, हरियाणा, यूपी, बिहार में कई जगहों पर ट्रैफिक जाम की भी खबरें आईं हैं।  पंजाब में 18 ट्रेनों को रद कर दिया गया है।

पंजाब में रेलवे ट्रैक पर धरना

पंजाब में किसान संगठनों द्वारा आज बुलाए गए भारत बंद के समर्थन में तीन कृषि कानूनों के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे प्रदर्शनकारी अमृतसर के देवीदासपुरा गांव में रेलवे ट्रैक पर धरने पर बैठ गए।

गुरुग्राम-दिल्ली सीमा पर भारी ट्रैफिक जाम

गुरुग्राम-दिल्ली सीमा पर भारी ट्रैफिक जाम। दिल्ली पुलिस और अर्धसैनिक बलों के जवानों द्वारा आज किसान संगठनों द्वारा बुलाए गए भारत बंद के मद्देनजर जांच की जा रही है।

आंध्र प्रदेश में भारत बंद को सीपीआइ का समर्थन

आंध्र प्रदेश में वाम दलों ने 3 कृषि कानूनों के खिलाफ आज भारत बंद का पालन करने के लिए विजयवाड़ा बस स्टेशन के सामने विरोध प्रदर्शन किया। सीपीआई (एम) के राज्य सचिव पी मधु ने इस दौरान कहा कि यह केंद्र सरकार की नीतियों के खिलाफ एक राष्ट्रीय विरोध है। किसान 3 कृषि कानूनों के खिलाफ पिछले 10 महीनों से विरोध कर रहे हैं।

केरल में भारत बंद का असर

केरल में भारत बंद का असर दिख रहा है। सड़कें सूनी दिख रही हैं। तिरुवनंतपुरम में दुकानें बंद हैं। एलडीएफ और यूडीएफ से जुड़े ट्रेड यूनियनों ने तीन कृषि कानूनों के खिलाफ आज भारत बंद के आह्वान का समर्थन किया।

कर्नाटक में भारत बंद को समर्थन

किसानों के भारत बंद के समर्थन में कर्नाटक में विभिन्न संगठनों ने कलबुर्गी सेंट्रल बस स्टेशन के बाहर विरोध प्रदर्शन किया। एक प्रदर्शनकारी ने कहा कि कई संगठन हमारे किसानों का समर्थन कर रहे हैं और देशव्यापी बंद के आह्वान में भाग ले रहे हैं।

पंजाब में किसानों का प्रदर्शन

पंजाब के अमृतसर में जिन जगहों पर किसान धरना प्रदर्शन कर रहे हैं वहां सुबह पांच बजे से सुरक्षाबलों को तैनात कर दिया गया है। किसानों का विरोध शांतिपूर्ण है, इसलिए सुरक्षाबलों से भी कहा गया है कि उनके साथ अभद्र व्यवहार न करें और कुछ होने पर मेरे संज्ञान में लाएं।

भारत बंद के समर्थन में उतरे राहुल गांधी

राहुल गांधी ने ट्वीट कर किसानों को अपना समर्थन दिया। राहुल ने किसानों के आंदोलन को अहिंसक सत्याग्रह बताते हुए कहा कि सरकार को किसानों का सत्याग्रह भी पसंद नहीं है।

बिहार में राजद का भारत बंद को समर्थन

बिहार में राजद नेता मुकेश रौशन और पार्टी के अन्य सदस्यों और कार्यकर्ताओं ने 3 कृषि कानूनों के खिलाफ किसान संगठनों द्वारा बुलाए गए भारत बंद के समर्थन में हाजीपुर में विरोध प्रदर्शन किया। हाजीपुर-मुजफ्फरपुर मार्ग पर दिखा ट्रैफिक जाम, महात्मा गांधी सेतु पर आवाजाही भी प्रभावित।

इन विपक्षी पार्टियों का भारत बंद को समर्थन

कांग्रेस और आरजेडी(राजद) के अलावा आम आदमी पार्टी(आप), मायावती की बहुजन समाज पार्टी(बसपा), समाजवादी पार्टी(सपा) और लेफ्ट पार्टियों ने भी भारत बंद का साथ देने का ऐलान किया है।

सिंघु बार्डर पर प्रदर्शन

किसान संगठनों ने तीन कृषि कानूनों के खिलाफ अपना विरोध जारी रखते हुए भारत बंद का आह्वान किया है। सिंघु (दिल्ली-हरियाणा) सीमा पर प्रदर्शनकारी क्षेत्र में घूमने वाले लोगों के साथ बात कर रहे हैं।

मेट्रो स्टेशन किया गया बंद

तीन कृषि कानूनों के खिलाफ आज किसानों के भारत बंद का असर मेट्रों के संचालन पर भी पड़ा है। दिल्ली मेट्रो रेल कारपोरेशन (डीएमआरसी) ने ट्वीट किया है कि पंडित श्री राम शर्मा का प्रवेश/निकास बंद कर दिया गया है।

हमने कुछ भी सील नहीं किया- राकेश टिकैत

भारतीय किसान यूनियन(भाकियू) के नेता राकेश टिकैत ने भारत बंद पर कहा है कि एम्बुलेंस, डाक्टर या आपात स्थिति में जाने वाले लोग जा सकते हैं। हमने कुछ भी सील नहीं किया है हम सिर्फ एक संदेश भेजना चाहते हैं। हम दुकानदारों से अपील करते हैं कि वे अपनी दुकानें अभी बंद रखें और शाम 4 बजे के बाद ही खोलें। उन्होंने कहा कि बाहर से यहां कोई किसान नहीं आ रहा।

गाजीपुर सीमा पर किसानों का प्रदर्शन

किसान संगठनों ने तीनों कृषि कानूनों के खिलाफ आज भारत बंद का आह्वान किया है। गाजीपुर सीमा पर किसानों का विरोध प्रदर्शन जारी है। विरोध के चलते उत्तर प्रदेश से गाजीपुर की ओर ट्रैफिक बंद कर दिया गया है।

दिल्ली-अमृतसर राष्ट्रीय राजमार्ग किया जाम

दिल्ली-अमृतसर राष्ट्रीय राजमार्ग हरियाणा के कुरुक्षेत्र के शाहाबाद में किसानों के विरोध में कृषि कानूनों के खिलाफ आंदोलन करते हुए अवरुद्ध कर दिया गया। किसान संगठनों ने तीन कृषि कानूनों के खिलाफ आज भारत बंद का आह्वान किया है।

किसानों के भारत बंद के कारण उत्तर प्रदेश से गाजीपुर सीमा की ओर यातायात बंद कर दिया गया है। दिल्ली ट्रैफिक पुलिस ने ट्वीट कर इसकी जानकारी दी है।

शंभू सीमा भी आज बंद

एक किसान का कहना है कि किसानों के विरोध के भारत बंद के आह्वान को देखते हुए हमने शाम चार बजे तक शंभू सीमा (पंजाब-हरियाणा सीमा) को बंद कर दिया है।

अलर्ट पर दिल्ली पुलिस

दिल्ली पुलिस ने सोमवार को केंद्र के तीन कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों द्वारा बुलाए गए भारत बंद के मद्देनजर राष्ट्रीय राजधानी के सीमावर्ती इलाकों में सुरक्षा बढ़ा दी है। पुलिस के अनुसार, गश्त तेज कर दी गई है, विशेष रूप से सीमावर्ती इलाकों में चौकियों पर अतिरिक्त कर्मियों को तैनात किया गया है और राष्ट्रीय राजधानी में प्रवेश करने वाले हर वाहन की पूरी जांच की जा रही है।

संयुक्त किसान मोर्चा (SKM) के नेतृत्व के तहत 40 किसान संगठनों ने भारत बंद करने की अपील की है। किसान संगठनों ने लोगों से कहा गया है कि किसानों के संघर्ष में शामिल होकर अपना योगदान दें।

बैंक यूनियन भी आए साथ

अखिल भारतीय बैंक अधिकारी परिसंघ (एआईबीओसी) ने भी भारत बंद को अपना समर्थन देने की घोषणा की है। एआईबीओसी ने सरकार से संयुक्त किसान मोर्चा की मांगों पर उसके के साथ फिर से बातचीत शुरू करने और तीन विवादित कृषि कानूनों को रद्द करने का अनुरोध किया।

बता दें कि तीनों कृषि कानूनों के खिलाफ दिल्ली मे विभिन्न बॉर्डरों पर पिछले दस महीनों से किसानों का आंदोलन जारी है। पंजाब, पश्चिमी उत्तर प्रदेश, हरियाणा आदि के किसान सरकार से कृषि कानूनों को रद्द करने और एमएसपी पर कानून बनाने की मांग कर रहे हैं।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.
You have used all of your free pageviews.
Please subscribe to access more content.
Dismiss
Please register to access this content.
To continue viewing the content you love, please sign in or create a new account
Dismiss
You must subscribe to access this content.
To continue viewing the content you love, please choose one of our subscriptions today.