PM मोदी की अमेरिका यात्रा के पूर्व दोनों देशों के रक्षा मंत्रियों की वार्ता, आपसी रक्षा सहयोग पर चर्चा

राजनाथ सिंह ने अमेरिकी रक्षा मंत्री से फोन पर हुई अपनी चर्चा की जानकारी ट्विटर पर साझा करते हुए कहा कि आस्टिन से उनकी बातचीत गर्मजोशी से हुई। रक्षा मंत्रियों की बीच वार्ता ऐसे समय हुई है जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अमेरिका की यात्रा पर जाने वाले हैं।

Ramesh MishraMon, 20 Sep 2021 10:04 PM (IST)
PM मोदी की अमेरिका यात्रा के पूर्व दोनों देशों के रक्षा मंत्रियों की फोन पर वार्ता। एजेंसी।

नई दिल्ली, जागरण ब्यूरो। अफगानिस्तान पर तालिबान के कब्जे के बाद गंभीर होते हालात के बीच अमेरिकी रक्षा मंत्री लायड आस्टिन ने रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह से सोमवार को फोन पर बातचीत की। इस दौरान दोनों नेताओं ने अफगानिस्तान के मुद्दों के साथ-साथ भारत और अमेरिका के बीच आपसी रक्षा सहयोग के मसलों पर भी चर्चा की। राजनाथ सिंह ने अमेरिकी रक्षा मंत्री से फोन पर हुई अपनी चर्चा की जानकारी ट्विटर पर साझा करते हुए कहा कि आस्टिन से उनकी बातचीत गर्मजोशी से हुई। दोनों देशों के रक्षा मंत्रियों की बीच वार्ता ऐसे समय हुई है, जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अमेरिका की यात्रा पर जाने वाले हैं।

क्वाड शिखर सम्मेलन में ह‍िस्‍सा लेंगे मोदी

बता दें कि अगले हफ्ते प्रधानमंत्री मोदी अमेरिका की यात्रा पर होंगे। वह अमेरिका में हो रहे क्वाड शिखर सम्मेलन में ह‍िस्‍सा लेंगे। इसके पूर्व प्रधानमंत्री मोदी की अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन, आस्ट्रेलिया के पीएम स्काट मारीसन और जापान के पीएम योशीहिदे सुगा के साथ अलग-अलग द्विपक्षीय बैठक होगी। क्वाड के सदस्‍य देशों में भारत, अमेरिका, आस्ट्रेलिया और जापान है। इसका उद्देश्य हिंद-प्रशांत क्षेत्र में लोकतांत्रिक देशों के हितों की रक्षा करना और वैश्विक चुनौतियों का समाधान करना है। 

दोनों देशों के बीच द्विपक्षीय रक्षा सहयोग और क्षेत्रीय मामलों पर चर्चा

उन्‍होंने कहा कि इस दौरान हमने दोनों देशों के बीच द्विपक्षीय रक्षा सहयोग और क्षेत्रीय मामलों पर चर्चा की। रक्षा मंत्री के अनुसार, क्षेत्रीय मामलों पर चर्चा के क्रम में अफगानिस्तान के मौजूदा हालात पर भी बातचीत हुई। दोनों रक्षा मंत्रियों ने इस दरम्यान आपसी संवाद के इस सिलसिले को जारी रखने और भारत-अमेरिका साझेदारी को और मजबूत करने पर सहमति जताई। प्रधानमंत्री मोदी इसी हफ्ते अमेरिका की यात्रा पर जा रहे हैं और वहां उनकी नए राष्ट्रपति जो बाइडन से पहली द्विपक्षीय मुलाकात होनी है। इस लिहाज से दोनों रक्षा मंत्रियों की बातचीत से साफ है कि रक्षा एवं रणनीतिक क्षेत्र में दोनों देश अपने आपसी सहयोग की गति को और बढ़ाने के लिए तत्पर हैं।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.