फ्लैग मीटिंग के दौरान बांग्लादेश बॉर्डर गार्ड की फायरिंग में BSF जवान शहीद, सीमा पर तनाव

कोलकाता, जागरण संवाददाता। बंगाल के मुर्शिदाबाद जिले में भारत-बांग्लादेश सीमा (Indo-Bangla Border) में गुरुवार को फ्लैग मीटिंग (Flag Meeting) के दौरान बांग्लादेश बॉर्डर गार्ड (BGB) की फायरिंग में हेड कांस्टेबल विजय भान सिंह (Vijay Bhan Singh) शहीद हो गए। गोली उनके सिर में लगी थी। एक जवान घायल हो गया। यह गोलीबारी बीएसएफ (BSF) के गश्ती दल पर की गई।

बीएसएफ के दक्षिण बंगाल फ्रंटियर के अधिकारियों ने बताया कि यह घटना मुर्शिदाबाद के ककमारीचर सीमा चौकी इलाके में गुरुवार की सुबह 9 बजे घटी। अस्पताल ले जाने पर हेड कांस्टेबल विजय की मौत हो गई। बीएसएफ सूत्रों का कहना है कि जानबूझकर बीजीबी के जवानों ने गोलीबारी कर उनके जवानों को निशाना बनाया है।

बता दें कि बीएसएफ (Border Security Force) और बीजीबी (Border Guards Bangladesh) के बीच संबंध दशकों से सौहार्दपूर्ण रहे हैं और अचानक इस घटना ने सबको चौका दिया है। इससे पहले दोनों सीमा रक्षकों के बीच गोलीबारी की कोई घटना नहीं हुई है। इस गोलीबारी के बाद सीमा पर सुरक्षा भी बढ़ा दी गई है।

भारतीय मछुआरे को बीजीबी के जवानों ने बनाया बंधक

बताया जा रहा है कि भारतीय मछुआरों को बंधक बनाने को लेकर घटना की शुरुआत हुई। मुर्शिदाबाद में अंतरराष्ट्रीय सीमा से सटे जलंगी क्षेत्र में स्थित पदमा नदी में गुरुवार सुबह मछली पकड़ने गए तीन भारतीय मछुआरे को बीजीबी के जवानों ने बंधक बना लिया था। बाद में दो मछुआरे को छोड़ दिया गया और उन्होंने लौटकर बीएसएफ को इस बारे में सूचना दी।

एके-47 राइफल से बरसाई गोलियां

मछुआरों के मुताबिक, बीजीबी ने उनसे बीएसएफ को फ्लैग मीटिंग बुलाने के लिए कहा। इसके बाद जब मछुआरे की तलाश में बीएसएफ जवान बोट से जा रहे थे तभी अचानक बीजीबी के जवानों ने एके-47 राइफल से उन पर गोलियां बरसा दी। इस दौरान हेड कांस्टेबल विजय भान सिंह (Vijay Bhan Singh) शहीद हो गए।

बीजीबी के डीजी ने दिया कार्रवाई का आश्वासन

इस घटना से भारत-बांग्लादेश सीमा पर तनाव बढ़ गया है। बीएसएफ में इसे लेकर बेहद रोष देखा जा रहा है। बीएसएफ ने इस घटना को लेकर कड़ा विरोध दर्ज कराया है। खबर है कि बीएसएफ महानिदेशक वीके जौहरी ने घटना पर नाराजगी जताते हुए बीजीबी के महानिदेशक मेजर जनरल शफीनुल इस्लाम से हॉटलाइन पर बात कर इसे मुद्दे को उठाया। इसके बाद बीजीबी के महानिदेशक ने घटना की जांच का आश्र्वासन देते हुए दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई का भरोसा दिया है।

1952 से 2019 तक इन राज्यों के विधानसभा चुनाव की हर जानकारी के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.