भारतीय नौसेना ने दिखाया दम, प्रबल से लॉन्‍च एंटी-शिप मिसाइल ने समुद्र में डुबोया जहाज; देखें वीडियो

प्रबल' से लॉन्‍च ऐंटी-शिप मिसाइल ने समुद्र में डुबोया जहाज; देखें वीडियो।
Publish Date:Fri, 23 Oct 2020 11:06 AM (IST) Author: Pooja Singh

नई दिल्ली, एएनआइ। भारत नें ऐंटी-शिप मिसाइल का सफल टेस्‍ट किया है। भारतीय नौसेना ने मिसाइल कोर्वेट जहाज आइएनएस प्रबल (INS Prabal) द्वारा लॉन्च की गई मिसाइल का प्रदर्शन कर अपनी ताकत को दिखाया। मिसाइल ने अधिकतम सीमा पर बेहद सटीकता के साथ अपने लक्ष्य को निशाना बनाया, जिससे जहाज नष्ट होकर पानी में डूब गया। 

जारी हुआ वीडियो

इस सफल टेस्ट का एक वीडियो भी जारी किया गया है। वीडियो में देखा जा सकता है कि मिसाइल बोट आइएनएस प्रबल से जहाज को नष्ट करने वाली एंटी-शिप मिसाइल दागी गई है। इस मिसाइल के जरिये अधिकतम दूरी तक मार सकती है। वीडियो के अंदर दिखाया गया है कि मिसाइल ने अपने लक्ष्य को निशाना बनाया गया और फिर समुद्र में डूब गया।

INS प्रबल पर 16 एंटी सिप मिसाइल तैनात

INS प्रबल पर 16 रूस निर्मित KH-35 'Uran' एंटी-शिप मिसाइल तैनात हैं।  इनकी अनुमानित क्षमता 130 किलोमीटर तक की है। नौसेना के स्वदेश निर्मित गोदावरी क्लास के युद्धपोत को 1983 में नौसेना में शामिल किया गया था। इस क्लास के तीन पोत बनाए गए थे। जिसका स्वदेशी युद्धपोत के डिजाइन के साथ रूसी और पश्चिमी वेपन सिस्टम का इस्तेमाल किया गया था। 

क्रूज मिसाइल ब्रह्मोस और एंटी रेडिएशन मिसाइल

पिछले कुछ सप्ताह में भारत ने कई मिसाइलों का परीक्षण किया है, जिनमें सतह से सतह पर मार करने वाली सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल ब्रह्मोस और एंटी रेडिएशन मिसाइल रूद्रम-1 भी शामिल है। रूद्रम-1 भारत का प्रथम स्वदेश विकसित एंटी रेडिएशन हथियार है। इस मिसाइल की मारक क्षमता 290 किमी से बढ़ाकर 400 किमी की दूरी तक की गई है। 

ब्रह्मोस सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल का परीक्षण 

वहीं बीते  रविवार को शक्तिशाली ब्रह्मोस सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल का परीक्षण किया था। नौसेना ने यह टेस्‍ट अरब सागर (Arabian Sea) में अपने जंगी पोत आईएनएस चेन्‍नई (INs Chennai) के जरिये किया था। 

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.