हिमाचल में भूस्खलन में छत्तीसगढ़ के भारतीय नौसेना में लेफ्टिनेंट आफिसर समेत दो लोगों की मौत

हिमाचल प्रदेश के किन्नौर जिले में भूस्खलन की हुई घटना में नौ लोगों की मौत हो गई है। इसमें छत्तीसगढ़ के कोरबा व जांजगीर-चांपा जिले के रहने वाले दो युवक भी शामिल हैं। कोरबा में रहने वाला अमोघ बापट भारतीय नौसेना में लेफ्टिनेंट आफिसर था

Bhupendra SinghSun, 25 Jul 2021 11:33 PM (IST)
हिमाचल भूस्खलन में छत्तीसगढ़ के अमोघ बापट भारतीय नौसेना में लेफ्टिनेंट आफिसर की मौत

कोरबा, राज्य ब्यूरो। हिमाचल प्रदेश के किन्नौर जिले में भूस्खलन की हुई घटना में नौ लोगों की मौत हो गई है। इसमें छत्तीसगढ़ के कोरबा व जांजगीर-चांपा जिले के रहने वाले दो युवक भी शामिल हैं। कोरबा में रहने वाला अमोघ बापट भारतीय नौसेना (नेवी) में लेफ्टिनेंट आफिसर था और इन दिनों अंडमान निकोबार में उसकी पदस्थापना थी।

लेफ्टिनेंट आफिसर अवकाश पर कोरबा आया था, चार साल पहले हुई थी नेवी में नियुक्ति

अवकाश पर वह कोरबा आया था और एक सप्ताह पहले दोनों दोस्त शिमला जाने निकले थे। अमोघ बापट की नेवी में नियुक्ति करीब चार साल पहले हुई थी। उसके पिता प्रशांत बापट छत्तीसगढ़ राज्य विद्युत कंपनी के हसदेव ताप विद्युत संयंत्र विस्तार परियोजना में अधीक्षण यंत्री के पद पर पदस्थ हैं। करीब एक पखवाड़े पहले अमोघ छुट्टी पर आया था।

दोस्त समेत लेफ्टिनेंट आफिसर हिमाचल प्रदेश घूमने गए थे

18 जुलाई को वह इंदौर में रहने वाली अपनी नानी के घर जाने को रवाना हुआ। बताया जा रहा है कि इंदौर से वह हिमाचल प्रदेश घूमने चला गया। उसके साथ जांजगीर-चांपा जिले में रहने वाला उसका दोस्त सतीश कटकवार (34) भी था। मृतक सतीश के पिता एमएल कटकवार कोरबा में विद्युत कंपनी के पूर्व कर्मचारी है। चार साल पहले सेवानिवृत्त होने के बाद जांजगीर- चांपा जिला स्थित गृह निवास चले गए हैं।

परिजनों पर टूटा दुख का पहाड़

घटना की जानकारी मिलने पर छत्तीसगढ़ राज्य विद्युत कंपनी की कोरबा पश्चिम कालोनी के आवास क्रमांक बी-45 में निवासरत प्रशांत बापट के घर उनके शुभचिंतकों की भीड़ लग गई। काल कलवित हुए दोनों युवकों के परिजनों पर दुख का पहाड़ टूट पड़ा है। मृतक अमोघ का छोटा भाई अनूप बापट साफ्टवेयर इंजीनियर है।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.