अमित शाह ने सहारनपुर में किया शाकुंभरी विश्वविद्यालय का शिलान्यास, सीएम योगी और धर्मेंद्र प्रधान भी मौजूद

केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने गुरुवार को उत्तर प्रदेश के सहारनपुर में मां शाकुंभरी विश्वविद्यालय की आधारशिला रखी। सहारनपुर में 92 करोड़ की लागत से 50.43 एकड़ में जनता रोड स्थित पुंवारका में मां शाकुंभरी विश्वविद्यालय बनाया जाएगा।

Neel RajputThu, 02 Dec 2021 08:00 AM (IST)
अमित शाह ने गुरुवार को उत्तर प्रदेश के सहारनपुर में मां शाकुंभरी विश्वविद्यालय की आधारशिला रखी

नई दिल्ली, एएनआइ। केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने गुरुवार को उत्तर प्रदेश के सहारनपुर में मां शाकुंभरी विश्वविद्यालय की आधारशिला रखी। इस दौरान शाह ने कहा कि पूरे पश्चिमी उत्तर प्रदेश में गुंडे और माफियों का शासन था उससे पश्चिमी उत्तर प्रदेश को मुक्त करवा कर उसका सम्मान लौटाने का काम उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने किया है। यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान भी कार्यक्रम में मौजूद रहे।

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि जहां जातिवाद, वंशवाद और परिवारवाद हावी होगा वहां विकास के लिए जगह नहीं होगी। उन्होंने आगे कहा, अपनी हस्त कला, औद्योगिक गतिविधियों के लिए जाना जाने वाला ये जनपद सहारनपुर दशकों से मांग कर रहा था कि उनका अपना विश्वविद्यालय हो। पिछली सरकार के पास विकास का कोई एजेंडा नहीं था। 

सहारनपुर में 92 करोड़ की लागत से 50.43 एकड़ में जनता रोड स्थित पुंवारका में मां शाकुंभरी विश्वविद्यालय बनाया जाएगा। इस दौरान केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने कहा, आज उत्तर प्रदेश में विश्वविद्यालय खुल रहे हैं, महाविद्यालय खुल रहे हैं, अच्छे रास्ते बन रहे हैं, किसानों के बैंक खाते में पैसा आ रहा है, गरीबों के घर बन रहे हैं, अमन के लिए कानून का राज स्थापित हुआ है। यही सुशासन है।

सहारनपुर में राज्य विश्वविद्यालय की स्थापना से छात्रों के लिए उच्च शिक्षा के नए द्वार खुलेंगे और इसके साथ ही नौ जिलों में एक हजार कालेजों के बोझ से दबी चौधरी चरण सिंह यूनिवर्सिटी को भी राहत मिलेगी। सीसीएसयू के खाते से तीन जिलों के 27 फीसद कालेज और 30 फीसद छात्र नवनिर्मित विश्वविद्यालय में शिफ्ट हो जाएंगे।

इससे पहले उत्तर प्रदेश में 2017 के विधानसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी ने 403 सीटों में से 312 सीटें हासिल की थीं, जबकि समाजवादी पार्टी (सपा) ने 47 सीटें जीती थीं, बहुजन समाजवादी पार्टी (बसपा) ने 19 सीटें जीती थीं और कांग्रेस को सिर्फ सात सीटें मिली थीं। बाकी सीटों पर अन्य उम्मीदवारों ने कब्जा किया था।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.