कर्नाटक के स्वास्थ्य मंत्री के सुधाकर ने कहा, 2030 तक पर्किंसंस डिजीज के रोगियों में आएगी 200-300 फीसद की वृद्धि

नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ मेंटल हेल्थ एंड न्यूरो साइंसेज (NIMHANS) को न्यूरो डिजेनरेटिव रोगों पर अपने काम के लिए मान्यता दी गई है। NIMHANS पर्किंसंस रिसर्च अलायंस के अन्य केंद्रों के सहयोग से पार्किंसंस रोग पर शोध कार्य करेगा।

Neel RajputSun, 25 Jul 2021 11:05 AM (IST)
देश में एक लाख आबादी में से 350-400 लोग हो रहे प्रभावित

बेंगलुरु, एएनआइ। कर्नाटक के स्वास्थ्य और चिकित्सा शिक्षा मंत्री डा के सुधाकर ने शनिवार को बताया कि राज्य को पार्किंसंस रोग में वृद्धि को कम करने के उपाय शुरू करने की जरूरत है। उन्होंने संभावना जताई है कि 2030 तक इसके 200-300 फीसद तक बढ़ने की उम्मीद है।

डा के सुधाकर ने कहा, 'हमें पार्किंसंस रोग (पीडी) में वृद्धि को कम करने के उपायों को शुरू करने की जरूरत है, जिसकी 2030 तक 200-300 फीसद बढ़ने की उम्मीद है।' पार्किंसन रिसर्च अलायंस ऑफ इंडिया (PRAI) के सहयोग से किंग्स कॉलेज, लंदन द्वारा आयोजित वर्चुअल संगोष्ठी के उद्घाटन सत्र में मंत्री ने ये बातें कही हैं। मंत्री ने कहा कि भारत में एक लाख से अधिक आबादी में से 350-400 लोग पर्किंसंस बीमारी से प्रभावित हो रहे हैं।

उन्होंने कहा, 'यह 2030 तक बढ़कर 200-300 फीसद हो जाएगा। कुल आबादी का एक फीसद इस बीमारी से प्रभावित होगा। केसीएल और पीआरएआइ द्वारा संगोष्ठी इस पर शोध कार्य में सहायता करेगी।'

नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ मेंटल हेल्थ एंड न्यूरो साइंसेज (NIMHANS) को न्यूरो डिजेनरेटिव रोगों पर अपने काम के लिए मान्यता दी गई है। NIMHANS पीआरएआइ के अन्य केंद्रों के सहयोग से पार्किंसंस रोग पर शोध कार्य करेगा। मंत्री ने कहा, 'हमारी सरकार एक अकादमिक मंच बनाने और युवा शोधकर्ताओं को प्रशिक्षित करने के लिए केसीएल और पीआरएआइ के साथ सहयोग करने के लिए तत्पर है।'

डॉ सुधाकर ने कहा, 'मैं पी राय और उनकी टीम को पार्किंसंस रोग और न्यूरो डिजेनरेटिव बीमारी पर उनकी शोध गतिविधियों के लिए बधाई देता हूं। संयुक्त कार्य एक आम मंच बनाने और इस क्षेत्र में कुशल शोधकर्ताओं की भर्ती करने में मदद करेगा। हमारी सरकार बेंगलुरू में संगोष्ठी की मेजबानी भी करना चाहती है।' मंत्री ने कहा, "मेरे पास प्रतिष्ठित किंग्स कॉलेज लंदन की यादें हैं। मैंने पार्किंसंस के लिए धन जुटाने के लिए केसीएल में आयोजित वार्षिक चैरिटी क्रिकेट मैच में खेला था।'

यह भी पढ़ें : Karnataka Flood News : कर्नाटक में भारी बारिश और बाढ़ में गई नौ लोगों की जान, तीन लापता

यह भी पढ़ें : केरल में भारी बारिश की चेतावनी, सुरक्षित स्थानों पर स्थानानंतरित किए जा रहे लोग

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.