QS Ranking 2021: साइटेशन इंडेक्स की क्यूएस रैंकिंग में शूलिनी यूनिवर्सिटी भारत में टॉप पर, पढ़ें डिटेल

यूनिवर्सिटी को इसी क्षेत्र में पूरे एशिया में 14वां रैंक प्राप्त हुआ है।

QS Ranking 2021लिस्ट में रैंक पाने वाला यह हिमाचल प्रदेश का पहला संस्थान है। क्यूएस एशिया रैंकिंग ने शूलिनी यूनिवर्सिटी को एशिया के शीर्ष 300 विश्वविद्यालयों में भी शामिल किया है। यह पहली बार है कि यूनिवर्सिटी को क्यूएस रैंकिंग में शामिल किया गया है।

Publish Date:Fri, 27 Nov 2020 07:51 PM (IST) Author: Rishi Sonwal

QS Ranking 2021: हिमाचल प्रदेश के सोलन जिले में स्थित ग्यारह वर्ष पहले स्थापित की गई शूलिनी यूनिवर्सिटी ऑफ बायोटेक्नोलॉजी एंड मैनेजमेंट साइंसेज ने साइटेशन इंडेक्स की क्यूएस रैंकिंग 2021 में पूरे भारत में शीर्ष स्थान प्राप्त किया है। यूनिवर्सिटी को इसी क्षेत्र में पूरे एशिया में 14वां रैंक प्राप्त हुआ है। क्यूएस शैक्षणिक संस्थानों के लिए एक स्वतंत्र और एक अत्यधिक प्रतिष्ठित विश्वसनीय वैश्विक रैंकिंग संगठन है और इसकी एशिया रैंकिंग एक ऑनलाइन समारोह में घोषित की गई है।

शूलिनी यूनिवर्सिटी ने देश के सभी निजी विश्वविद्यालयों में संयुक्त रूप से सातवें और सभी विश्वविद्यालयों और शैक्षणिक संस्थानों के बीच 38वें स्थान पर अपनी जगह बनाई है। इसमें अधिकांश आईआईटी, पंजाब यूनिवर्सिटी व कई अन्य स्थापित संस्थानों की तुलना में बेहतर प्रदर्शन शामिल है। लिस्ट में रैंक पाने वाला यह हिमाचल प्रदेश का पहला संस्थान है।

बता दें कि क्यूएस एशिया रैंकिंग ने शूलिनी यूनिवर्सिटी को एशिया के शीर्ष 300 विश्वविद्यालयों में भी शामिल किया है। यह पहली बार है कि यूनिवर्सिटी को क्यूएस रैंकिंग में शामिल किया गया है। शूलिनी यूनिवर्सिटी के वाइस चांसलर प्रो. पीके खोसला ने कहा कि हमारी यूनिवर्सिटी ने क्यूएस रैंकिंग हासिल की है और यूनिवर्सिटी में रिसर्चर की ईमानदारी और कड़ी मेहनत को सफलता मिली है। उन्होंने कहा कि यूनिवर्सिटी अब और अधिकऊंचाई पर पहुंचने के लिए तैयार है और इसका लक्ष्य शीर्ष वैश्विक विश्वविद्यालयों में शामिल होना है। इसमें काफी हद तक हमें सफलता भी हासिल हो चुकी है।

बता दें कि यह उपलब्धि इस वजह से और अधिक बड़ी हो जाती है कि यूनिवर्सिटी ने यह रैंकिंग एक हजार से अधिक संस्थानों के बीच प्राप्त की है, जिनमें आईआईटी, आईआईएम, केंद्रीय अनुसंधान संस्थान व इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ साइंस एजुकेशन एंड रिसर्च आदि प्रतिष्ठित संस्थान शामिल हैं। क्यूएस रैंकिंग प्रमुख वैश्विक संकेतकों पर आधारित है। जिसमें शैक्षणिक प्रतिष्ठा, कर्मचारी प्रतिष्ठा, संकाय-छात्र अनुपात, पीएचडी कर चुके स्टाफ सदस्य, साइटेशन प्रति पेपर, इंटरनेशनल रिसर्च नेटवर्क, रिसर्च पेपर्स प्रति फैकेल्टी, इंटरनेशनल फैकेल्टी और स्टूडेंट्स, इनबाउंड एक्सचेंज स्टूडेंट्स और आउटगोइंग एक्सचेंज स्टूडेंट्स आदि शामिल हैं।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.