भाजपा नेता के बयान पर भड़के उद्धव ठाकरे, कहा- हम इतना जोर का थप्पड़ मारेंगे कि दूसरा व्यक्ति खड़ा नहीं हो पाएगा

भाजपा विधायक प्रसाद लाड की कथित टिप्पणी के जवाब में महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने कहा धमकाने वाली भाषा को किसी भी कीमत पर बर्दाश्‍त नहीं किया जाएगा। हम इतनी जोर का थप्पड़ मारेंगे कि दूसरा व्यक्ति अपने पैरों पर खड़ा नहीं हो पाएगा।

Babita KashyapMon, 02 Aug 2021 09:45 AM (IST)
महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने कहा धमकाने वाली भाषा को किसी भी कीमत पर बर्दाश्‍त नहीं किया जाएगा।

मुंबई, एजेंसियां। महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने भाजपा पर परोक्ष हमला करते हुए कहा कि धमकाने वाली भाषा को किसी भी कीमत पर बर्दाश्‍त नहीं किया जाएगा। ऐसी भाषा का प्रयोग करने वालों को मुंह तोड़ जवाब दिया जाएगा। बता दें कि सीएम ठाकरे ने भाजपा विधायक प्रसाद लाड की कथित टिप्पणी के जवाब में ये बयान दिया है। भाजपा विधायक लाड ने कहा था कि अगर आवश्‍यक हुआ तो मध्य मुंबई में स्थित ठाकरे के नेतृत्व वाली पार्टी के मुख्यालय शिवसेना भवन को ध्वस्त कर दिया जाएगा। हालांकि, बाद में उन्होंने टिप्पणी को वापस ले लिया था और खेद भी व्यक्त किया था।

शिवसेना नेता संजय राउत का बयान

भाजपा नेता प्रसाद लाड की टिप्‍पणी पर शिवसेना नेता संजय राउत ने कहा, भाजपा शिवसेना पर हमला करने के बारे में सोच भी नहीं सकती। ये बाहरी लोग हैं कुछ निर्यात-आयात सामग्री। ये लोग महाराष्ट्र में भाजपा को गिराएंगे, हम इनकी माफी स्‍वीकार नहीं करते।

एक पुनर्विकास परियोजना के उद्घाटन कार्यक्रम को संबोधित करते हुए, श्री ठाकरे ने अपनी तीन- पार्टियों वाली महा विकास आघाड़ी (एमवीए) सरकार को "ट्रिपल सीट" सरकार के रूप में संदर्भित किया था। मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने हिंदी फिल्म "दबंग" के एक संवाद को याद करते हुए कि "थप्पड़ से डर नहीं लगता" "किसी को भी हमें थप्पड़ मारने की भाषा का प्रयोग नहीं करना चाहिए क्योंकि इसके जवाब में हम इतनी जोर का थप्पड़ मारेंगे कि दूसरा व्यक्ति अपने पैरों पर खड़ा नहीं हो पाएगा।"

ठाकरे ने चॉल पुनर्विकास परियोजना के लाभार्थियों से परियोजना के पूरा होने के बाद लालच का शिकार नहीं होने के लिए कहा , उन्होंने कहा "मराठी संस्कृति को किसी भी कीमत पर पुनर्विकसित निर्माणों में संरक्षित किया जाना चाहिए क्योंकि चॉलों की एक ऐतिहासिक विरासत है, जहां क्रांतिकारियों ने अपना जीवन दिया है और ये संयुक्त महाराष्ट्र आंदोलन के साक्षी भी हैं। ”

कार्यक्रम में मौजूद एनसीपी प्रमुख शरद पवार ने कहा कि बीडीडी चॉल की विरासत की रक्षा की जानी चाहिए और मराठी भाषी लोगों को पुनर्विकसित घरों में ही रहना चाहिए। जिसे महाराष्ट्र हाउसिंग एंड एरिया डेवलपमेंट अथॉरिटी (म्हाडा) द्वारा देखरेख की जा रही परियोजना के भाग के रूप में दिया जाएगा। उन्होंने कोविड ​​-19 स्थिति और हाल ही में मूसलाधार बारिश के कारण राज्य के कई हिस्सों में आई बाढ़ से प्रभावी ढंग से निपटने के लिए श्री ठाकरे की प्रशंसा की। राज्य के राजस्व मंत्री बालासाहेब थोराट ने कहा कि प्राकृतिक आपदाओं के बावजूद एमवीए सरकार ने विकास कार्यों को बाधित या ठप होने नहीं दिया।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.