Maharashtra: जांच आयोग के सामने पेश नहीं होने पर परमबीर सिंह पर 25000 रुपये का जुर्माना

Maharashtra कोर्ट के सेवानिवृत्त न्यायाधीश की अगुआई वाले जांच आयोग ने मुंबई पुलिस के पूर्व आयुक्त परमबीर सिंह पर 25000 रुपये का जुर्माना लगाया है। पूर्व पुलिस आयुक्त आयोग के सामने पेश नहीं हुए। इससे पहले जून में आयोग पूर्व पुलिस आयुक्त पर 5000 रुपये का जुर्माना लगा चुका है।

Sachin Kumar MishraThu, 19 Aug 2021 08:42 PM (IST)
जांच आयोग के सामने पेश नहीं होने पर परमबीर सिंह पर 25000 रुपये का जुर्माना। फाइल फोटो

मुंबई, प्रेट्र। हाई कोर्ट के सेवानिवृत्त न्यायाधीश की अगुआई वाले जांच आयोग ने मुंबई पुलिस के पूर्व आयुक्त परमबीर सिंह पर 25000 रुपये का जुर्माना लगाया है। पूर्व पुलिस आयुक्त आयोग के सामने पेश नहीं हुए। इससे पहले जून में आयोग पूर्व पुलिस आयुक्त पर 5000 रुपये का जुर्माना लगा चुका है। महाराष्ट्र सरकार ने इस साल मार्च में जस्टिस (सेवानिवृत्त) कैलाश उत्तमचंद चांदिवाल की अगुआई वाले एक सदस्यीय आयोग का गठन किया। यह आयोग परमबीर सिंह द्वारा राज्य के तत्कालीन गृह मंत्री अनिल देशमुख के खिलाफ लगाए गए भ्रष्टाचार के आरोपों की जांच के लिए गठित किया गया। एक सरकारी वकील ने गुरुवार को कहा कि पूर्व मुंबई पुलिस आयुक्त के बुधवार को आयोग के सामने पेश होने में विफल रहने के बाद 25000 रुपये जुर्माना लगाया गया है।

पूर्व की सुनवाई के दौरान जांच आयोग ने परमबीर को पेश होने के लिए अंतिम मौका दिया था। मुंबई पुलिस आयुक्त पद से हटाए जाने और मार्च में होम गार्ड में स्थानांतरित किए जाने के बाद परमबीर सिंह ने मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को लिखे गए एक पत्र में दावा किया था कि देशमुख पुलिस अधिकारियों से मुंबई में रेस्तरां और बार मालिकों से पैसे उगाही के लिए दबाव डालते हैं। राकांपा नेता देशमुख ने इस आरोप से इन्कार किया था। इधर, अवैध वसूली मामले में मुंबई के पूर्व पुलिस कमिश्नर परमबीर सिंह के खिलाफ ठाणे पुलिस ने गत दिनों लुकआउट नोटिस जारी किया था। ठाणे नगर थाने में परमबीर और 27 अन्य के खिलाफ कारोबारी केतन तन्ना की शिकायत पर मामला दर्ज कराया गया था। किसी व्यक्ति के देश छोड़कर भागने से रोकने के लिए लुकआउट नोटिस जारी किया जाता है। थाने में दर्ज की गई एफआइआर में कई अन्‍य पुलिसकर्मियों के नाम भी शामिल थे।

गौरतलब है कि बीती 30 जुलाई को बिजनेसमैन केतन तन्‍ना ने मुंबई के पूर्व पुलिस कमिश्‍नर परमबीर सिंह और अन्‍य 27 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज करवाया था जिसके बाद ये नोटिस जारी किया गया है। तन्ना का आरोप है कि परमबीर सिंह जब जनवरी 2018 से फरवरी 2019 के बीच ठाणे के पुलिस आयुक्त थे, तो आरोपियों ने उन्हें गंभीर मामलों में फंसाने की धमकी दे उनसे 1.25 करोड़ रुपये वसूले थे। बता दें कि परमबीर सिंह ने राज्‍य के मुख्‍यमंत्री उद्धव ठाकरे को पत्र लिखकर पूर्व महाराष्ट्र के पूर्व गृहमंत्री अनिल देशमुख पर 100 करोड़ रुपये की वसूली का आरोप लगाया था। देशमुख पर ट्रांसफर और पोस्टिंग में हस्तक्षेप का भी आरोप है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.